Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजमुस्लिम साथियों ने धर्मांतरण कर बना दिया मोहम्मद बिलाल, गरीबी दूर करने का दिया...

मुस्लिम साथियों ने धर्मांतरण कर बना दिया मोहम्मद बिलाल, गरीबी दूर करने का दिया था लालच: अब हुई घरवापसी

परिजनों और गाँव के लोगों ने संत रविदास मंदिर में पूजा-पाठ कराकर डेविड कुमार की घर वापसी कराई। इसके बाद पूरे गाँव में ढोल-नगाड़ों के साथ जुलूस निकाला गया।

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले का रहने वाले अनुसूचित जाति के एक शख्स का पुणे में धर्मांतरण करने का मामला सामने आया है। हालाँकि, हंगामा होने के बाद इसने अपने मूल हिंदू धर्म में वापसी कर ली है। दरअसल, डेविड कुमार नाम का यह शख्स पुणे के एक बेकरी में काम करता था। इसी दौरान बेकरी संचालकों ने उसकी गरीबी दूर करने के नाम पर उसका धर्म परिवर्तन करवा दिया। धर्मान्तरण के बाद युवक ने अपना नाम डेविड कुमार से बदलकर मोहम्मद बिलाल रख लिया।

मामला बिजनौर जिले के सेदोरबेरखाँ गाँव का है। यहीं के रहने वाले डेविड कुमार नाम के अनुसूचित जाति के युवक के पिता की मौत हो गई थी। घर की माली हालत सही नहीं थी, इसलिए दूसरे समुदाय के लोगों के साथ कमाने-खाने के लिए वह महाराष्ट्र के पुणे चला गया और वहाँ एक बेकरी में काम करने लगा।

इस बीच उसे लालच देकर उसका धर्मान्तरण करा दिया गया और वह डेविड से बिलाल हो गया। उसने मुस्लिमों की तरह ही दाढ़ी रख ली और उनकी तरह ही उसका व्यवहार भी हो गया। रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले सप्ताह वह पुणे से अपनी बहन की शादी में शामिल होने के लिए आया तो उसने मुस्लिमों की तरह कुर्ता पायजामा पहन रखा था और लंबी दाढ़ी भी रखी थी।

उसे इस रूप में देखकर जब घर वालों ने कारण पूछा तो उसने बताया कि वह धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम बन चुका है। उसने यह भी कहा कि अब उसकी सारी गरीबी दूर हो जाएगी। इसके बाद परिवार और गाँव के लोगों ने उससे पूछताछ की तो उसने बताया कि उसने अपनी मर्जी से इस्लाम अपनाया है।

हिंदू संगठनों की मदद से हुई घर वापसी

जब परिजन उसे समझाने में नाकाम रहे तो उन्होंने हिंदू संगठनों की मदद ली। हिंदू संगठनों ने भी उसे समझाने की काफी कोशिशें की, लेकिन वह मानने को तैयार नहीं था। हालाँकि, हिंदू संगठनों और बिरादरी के लोगों द्वारा लगातार समझाने और मान-मनौव्वल के बाद वह हिंदू धर्म में वापसी के लिए तैयार हो गया।

इसके तुरंत बाद शनिवार (24 जुलाई 2021) को गाँव के ही संत रविदास मंदिर में पुजारी राधा मोहन ने पूजा-पाठ कराकर डेविड कुमार की घर वापसी कराई। इसके बाद पूरे गाँव में ढोल-नगाड़ों के साथ जुलूस भी निकाला गया।

हिंदू युवा वाहिनी के मंडल प्रभारी डॉ. एन पी सिंह ने आरोप लगाया कि गाँव के ही गैर संप्रदाय के युवकों ने आर्थिक प्रलोभन देकर डेविड कुमार का धर्मांतरण कराया है। डॉ. सिंह ने धर्मांतरण कराने वाले लोगों पर मामला दर्ज करने की माँग की।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -