Saturday, July 24, 2021
HomeराजनीतिEID मुबारक के बदले ममता-केजरीवाल को मिले अतरंगी जवाब - ऑपइंडिया इसकी कड़ी निंदा...

EID मुबारक के बदले ममता-केजरीवाल को मिले अतरंगी जवाब – ऑपइंडिया इसकी कड़ी निंदा करती है

ममता बनर्जी के ईद मुबारक कहते ही यूजर्स ने उनके ट्वीट पर जय श्री राम लिखना शुरू कर दिया और ऐसा एक बार नहीं बल्कि कई-कई बार किया गया। ममता ने अपने ट्वीट में लिखा, "ईद-उल-फितर की सभी को मुबारकबाद, धर्म इंसान का निजी विश्वास है लेकिन त्यौहार सभी के हैं। आइए इस सोच को...."

आज पूरे देश भर में ईद-उल-फितर का त्यौहार बड़ी धूम-धाम से मनाया जा रहा है। सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर लोग बढ़-चढ़ कर ईद मुबारक कह रहे है। ऐसे में बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी पीछे नहीं हैं। अब चूँकि ममता बनर्जी बनाम ‘जय श्री राम-नारे’ और केजरीवाल बनाम चुनाव का मुद्दा गर्माया हुआ है, तो लोगों ने मौक़े का फायदा उठाकर उनके ट्विट्स पर जमकर दोनों नेताओं की चुटकी ली है।

ममता बनर्जी के ईद मुबारक कहते ही यूजर्स ने उनके ट्वीट पर जय श्री राम लिखना शुरू कर दिया और ऐसा एक बार नहीं बल्कि कई-कई बार किया गया। ममता ने अपने ट्वीट में लिखा, “ईद-उल-फितर की सभी को मुबारकबाद, धर्म इंसान का निजी विश्वास है लेकिन त्यौहार सभी के हैं। आइए इस सोच को एकता के साथ मजबूत करते है और शांति और भाइचारे से रहते हैं।”

ममता के इस पोस्ट पर यूजर्स द्वारा उन्हें ट्रोल किए जाने का मुख्य कारण स्पष्ट है कि वो जय श्री राम बोलने वाले के प्रति इतनी नफरत रखती हैं कि चलते काफिले को रोककर उस आवाज को चुप करवाती हैं, जो राम के नाम पर निकली हो और ईद के त्यौहार पर वह खुद धर्म और त्यौहार के बीच फर्क़ समझाती हैं। ममता के इस ट्वीट पर अधिकांश कमेंट आपको सिर्फ़ ‘………जय श्री राम~’ के ही देखने को मिलेंगे।

या कहें कि शायद ही आपको ममता बनर्जी की मुबारकबाद के बदले किसी की मुबारकबाद देखने को मिले, क्योंकि लगभग हर यूजर ने उन्हें जवाब में एक ही नाम लिखा है। ममता बनर्जी का ट्विट और उस पर कमेंट देखकर ऐसा लगता है जैसे पूरी ट्विटर यूजर्स की भीड़ उन्हें चिढ़ाने के लिए तत्पर हो।

इसी तरह अरविंद केजरीवाल ने भी जब सोशल मीडिया पर लोगों को ईद मुबारक कहा, तो लोगों ने उन्हें बदले में मुबारकबाद देने की बजाय आने वाले चुनावों की याद दिला दी।

किसी ने उन्हें आने वाले चुनावों में दिल्ली में सूपड़ा साफ़ होने की बधाई दी तो किसी ने ईद के त्यौहार पर भी उन्हें झूठा और फ्रॉड करार दे दिया।

इस ट्वीट पर लोगों ने महिलाओं को डीटीसी और मेट्रो में मुफ्त सफ़र करने के फैसले की भी आलोचना की। एक शख्स ने तो केजरीवाल को यहाँ तक कह दिया, “मौलाना जी कभी इतनी जल्दी दीपावली या होली की बधाई भी देते हो??? इस बार हिन्दू तुम्हें बाबाजी का ठुल्लू ही देने वाला है, जाओ और इफ्तार में हड्डी चुसो समय हो गया है।”

ऑपइंडिया का मानना है कि जब केजरीवाल और ममता बनर्जी ईद की बधाई दे रहे थे, तो लोगों को बदले में ‘जय श्री राम’ और ‘चुनाव’ कहकर चिढ़ाने की क्या जरूरत थी। सेकुलर देश में रहकर भले ही ये नेता हिंदू त्यौहारों के प्रति इतने सजग न हों लेकिन समुदाय विशेष के प्रति और उनके पर्वों के प्रति उनकी जागरूकता सराहनीय है। दोनों नेताओं के पोस्ट पर यूजर्स के ऐसे रिएक्शन की हम कड़ी निंदा करते हैं। आप भी उत्सव के इस माहौल में शामिल होकर सहृदयता का परिचय दीजिए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

UP में सपा-AIMIM का मुस्लिम डिप्टी CM, मायावती का ब्राह्मण प्रेम और राहुल गाँधी को पसंद नहीं ‘अमेठी’ के आम: 2022 की तैयारी

राहुल गाँधी ने कहा कि उन्हें यूपी के आम का स्वाद पसंद नहीं। उन्होंने कहा कि उन्हें आंध्र प्रदेश के आम पसंद हैं। ओवैसी ने सपा को दिया गठबंधन का ऑफर।

वाराणसी का दुर्गा कुंड मंदिर: आदिकाल के 3 मंदिरों में से एक, जहाँ माँ दुर्गा के विरोधियों के रक्त से हुआ कुंड का निर्माण

आदिकाल में वाराणसी में 3 प्रमुख मंदिर थे, काशी विश्वनाथ, अन्नपूर्णा मंदिर और दुर्गा कुंड। महादेव की इस नगरी में माँ दुर्गा आदि शक्ति के...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,924FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe