Monday, July 22, 2024
Homeराजनीतिबिट्टू बजरंगी के घर पहुँचे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, गोरक्षक के भाई को जला...

बिट्टू बजरंगी के घर पहुँचे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, गोरक्षक के भाई को जला दिया गया था जिंदा: एक माह इलाज के बाद हुई थी महेश पांचाल की मौत

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर बुधवार (10 जनवरी 2024) को गौसेवक बिट्टू बजरंगी के घर फरीदाबाद पहुँचे। उन्होंने बिट्टू बजरंगी के भाई महेश पांचाल को कुछ हमलावरों ने ज्वलनशील पदार्थ डालकर जिंदा जला दिया था।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर बुधवार (10 जनवरी 2024) को गौसेवक बिट्टू बजरंगी के घर फरीदाबाद पहुँचे। उन्होंने बिट्टू बजरंगी के भाई महेश पांचाल को कुछ हमलावरों ने ज्वलनशील पदार्थ डालकर जिंदा जला दिया था। करीब एक माह तक जिंदगी के लिए जूझने के बाद पांचाल की दिल्ली के AIIMS में मौत हो गई थी। सीएम खट्टर ने बिट्टू बजरंगी को ढाँढस बंधाया और महेश के हत्यारों के खिलाफ कठोर कार्रवाई का आश्वासन दिया।

सीएम खट्टर ने कहा- हत्यारे बचेंगे नहीं

बिट्टू बजरंगी के घर पहुँचे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने उनके भाई महेश की तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित करके श्रद्धांजलि दी। उन्होंने एक्स पर लिखा, “श्री बिट्टू बजरंगी जी के फरीदाबाद स्थित निवास पर जाकर उनके भाई स्वर्गीय श्री महेश जी के निधन पर आत्मीय संवेदनाएँ प्रकट की। इस दुःख की घड़ी में शोकाकुल परिवारजनों का ढाढ़स बँधाया और ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना करते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की। ॐ शांति!!”

बताते चलें कि 13 दिसम्बर 2023 को बिट्टू बजरंगी के भाई महेश को जान से मारने का प्रयास किया गया था। हमलावरों ने महेश के ऊपर फरीदाबाद की दाबुआ कॉलोनी में थिनर डाल कर आग लगा दी थी। महेश को अस्पताल ले जाया गया था, जहाँ से उन्हें दिल्ली रेफर कर दिया गया था। उनका दिल्ली के AIIMS में इलाज चल रहा था। करीब एक माह तक जिंदगी के लिए जूझते रहे महेश की 8 दिसंबर को मौत हो गई थी।

महेश का शव जब फरीदाबाद पहुँचा तो लोग आक्रोशित हो गए थे। आक्रोशित लोगों ने बल्लभगढ़-सोहना रोड को जाम कर दिया और आरोपितों की तुरंत गिरफ्तारी की माँग की थी। इस दौरान लोगों ने ‘जय श्रीराम’, ‘महेश के हत्यारों को फाँसी दो’, ‘महेश हम शर्मिंदा हैं, तेरे कातिल जिंदा हैं’ और ‘मुस्लिम मरे तो लिंचिंग हिंदू मरे तो मौन है, पूछ सको तो पूछ लो ये प्रशासन कौन है’ के नारे लगाए थे।

इस मामले में फेक न्यूज फैला रहा था जुबैर

इसको लेकर फरीदाबाद पुलिस के पास मामला दर्ज करवाया गया था, जिसकी जाँच हरियाणा पुलिस की SIT कर रही है। इसको लेकर 22 दिसम्बर को ‘हिन्दुतान टाइम्स’ में लीना धनखड़ नाम की एक पत्रकार ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की। खबर में लिखा था कि फरीदाबाद पुलिस ने कहा है कि बिट्टू बजरंगी के भाई अलाव में गिरकर जले थे। उनकी हत्या के प्रयास के कोई सबूत नहीं हैं।

हालाँकि, ऑपइंडिया से बातचीत में पुलिस ने ‘हिंदुस्तान टाइम्स’ की इस खबर को नकार दिया था। फरीदाबाद के ACP ने इस खबर के बारे में बताए जाने पर पूछा कि आखिर पुलिस में किसने इस केस को फेक बता दिया? उन्होंने कहा कि ये बात ठीक है कि अभी इस मामले में आरोपित के खिलाफ सबूत नहीं मिले हैं, लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि केस फर्जी होने की बात कही गई है। उन्होंने इसकी पुष्टि की थी कि बिट्टू बजरंगी के भाई जल गए हैं।

इसके बाद बिट्टू बजरंगी अपने भाई की हत्या के प्रयास को झूठा बताकर फेक न्यूज फैलाने के आऱोप में ऑल्ट न्यूज के सह-संस्थापक मोहम्मद जुबैर के खिलाफ पुलिस में शिकायत दी थी। बिट्टू बजरंगी ने कहा था कि जुबैर ने उनके और उनके भाई के बारे में पहले भी अफवाहें फैलाई थी। इस बार उनके झूठी मीडिया रिपोर्ट के आधार पर इस घिनौनी कार्रवाई को अंजाम दिया, जबकि उनका भाई जिंदगी और मौत के बीच झूल रहा था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -