Sunday, July 14, 2024
Homeराजनीति'ज़िंदा है सद्दाम हुसैन, अमेरिका ने पूरी दुनिया को धोखा दिया': राहुल गाँधी को...

‘ज़िंदा है सद्दाम हुसैन, अमेरिका ने पूरी दुनिया को धोखा दिया’: राहुल गाँधी को देख लोगों को ‘शक’, आरोप – पैसे देकर लाए जा रहे बॉलीवुड सितारे

सरमा के बयान पर राजस्थान कॉन्ग्रेस के नेता प्रताप सिंह खचरियावास ने कहा, "ये वही व्यक्ति हैं, जो कभी राहुल गाँधी का गुणगान करते थे। आज ये राहुल गाँधी को सद्दाम हुसैन से तुलना वाला शर्मनाक बयान दे रहे हैं। सरमा जैसे लोग अपराधी हैं और वे दोबारा मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहिए।"

भाजपा के नेता और असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) के कॉन्ग्रेस नेता राहुल गाँधी (Rahul Gandhi) पर दिए गए बयान से बवाल हो गया है। सीएम सरमा ने चुनाव के दौर से गुजर रहे गुजरात के अहमदाबाद में कहा कि राहुल गाँधी आजकल इराक के मारे गए तानाशाह सद्दाम हुसैन (Saddam Hussain) की तरह दिख रहे हैं।

असम के मुख्यमंत्री सरमा ने कहा, “अगर वे अपना लुक बदलना ही चाहते हैं तो वे सरदार वल्लभभाई पटेल या पंडित जवाहरलाल नेहरू को क्यों नहीं चुना? यहाँ तक कि गाँधी जी का लुक भी बेहतर रहता, लेकिन वे सद्दाम हुसैन की तरह क्यों दिखना चाहते हैं?ठ

राहुल गाँधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ पर भी हिमंत बिस्वा सरमा ने सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि असम के मुख्यमंत्री ने यह भी आरोप लगाया कि कॉन्ग्रेस ने राहुल गाँधी की भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने के लिए बॉलीवुड स्टार को भुगतान किया होगा। बता दें कि अभिनेत्री पूजा भट्ट, रिया सेन, अभिनेता अमोल पालेकर सहित बॉलीवुड के कई सितारे राहुल गाँधी के साथ शामिल हो चुके हैं।

सीएम सरमा ने कहा, “वह गुजरात में लापता हैं। वह एक गेस्ट फैकल्टी की तरह राज्य में आते हैं। हिमाचल प्रदेश में भी उन्होंने चुनाव प्रचार नहीं किया। वे केवल उन्हीं जगहों का दौरा कर रहे हैं, जहाँ चुनाव नहीं हैं। शायद उन्हें हार का डर सता रहा है।”

सीएम सरमा के बयान के बाद कॉन्ग्रेस उन पर हमलावर हो गई है। राजस्थान कॉन्ग्रेस के नेता प्रताप सिंह खचरियावास (Pratap Singh Khachariyawas) ने कहा, “ये वही व्यक्ति हैं, जो कभी राहुल गाँधी का गुणगान करते थे। आज ये राहुल गाँधी को सद्दाम हुसैन से तुलना वाला शर्मनाक बयान दे रहे हैं। सरमा जैसे लोग अपराधी हैं और वे दोबारा मुख्यमंत्री नहीं बनना चाहिए। भाजपा को राहुल गाँधी से सीखना चाहिए। भारत उनके DNA में है और वे राष्ट्रीय झंडा को अपना धर्म मानते हैं।”

असम कॉन्ग्रेस के प्रमुख भूपेन कुमार बोरा ने कहा, “सरमा सिर्फ हेडलाइन में आना चाहते हैं और इसके लिए वे राहुल गाँधी का नाम ले रहे हैं। सरमा कुछ भी कह सकते हैं। उनके ऐसे बयान पर हम ध्यान नहीं देते।”

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री और कॉन्ग्रेस नेता भूपेश पटेल (Bhupesh Patel) ने कहा, “ED और आयकर की जाँच के माध्यम से असम के मुख्यमंत्री को लगातार धमकाया जा रहा है और फिर जब भी उन्हें निर्देश दिया जाता है तो वे बोलना शुरू कर देते हैं। इसका कोई मतलब नहीं है।”

सीएम सरमा के इस बयान को लेकर कॉन्ग्रेस के राजनीतिक गलियारों में ही नहीं, सोशल मीडिया में भी बहस छिड़ गई है। वही, कुछ यूजर ने भी राहुल गाँधी की लुक को लेकर टिप्पणी की है। राकेश कदम नाम के यूजर ने लिखा, “सद्दाम हुसैन की तरह नहीं, लेकिन राहुल गाँधी एक बेघर व्यक्ति की तरह दिखते हैं।”

बाबामुरुगन नाम के एक यूजर ने लिखा, “पप्पू के रूप में जिंदा सद्दाम हुसैन हैं। अमेरिका ने पूरी दुनिया को धोखा दिया है।”

हालाँकि, सीएम सरमा के बयान की आलोचना करने वाले लोगों की भी एक लंबी फेहरिस्त है। उनका कहना है कि सद्दाम हुसैन एक निर्भीक आदमी थे, जो अपने देश और अपने लोगों के लिए लड़ते रहे और अमेरिका की साजिश के शिकार हो गए। उनका तर्क है कि इराक का भारत के साथ अच्छे संबंध थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -