Friday, July 19, 2024
Homeराजनीति'धर्म भी अंधविश्वास होता है': जिनके सपने में आए 'श्रीकृष्ण' उस अखिलेश यादव ने...

‘धर्म भी अंधविश्वास होता है’: जिनके सपने में आए ‘श्रीकृष्ण’ उस अखिलेश यादव ने बताया- योगी PM पद के दावेदार बन जाएँगे

अंजना ओम कश्यप ने जब अखिलेश से पूछा कि आखिर वो मुख्यमंत्री रहते हुए कभी नोएडा क्यों नहीं आए तो इस पर उन्होंने कहा कि वहाँ जो भी जाता है वो फिर कभी मुख्यमंत्री नहीं बनता। अपनी इसी बात को कहने के बाद वो ये कहकर हँसे, “हमारे बाबा भी नोएडा गए थे। वे इस बार मुख्यमंत्री नहीं बनेंगे।”

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने कल (जनवरी 10, 2022) ‘पंचायत आजतक’ में अंजना ओम कश्यप से बात करते हुए योगी सरकार को घेरने की फिराक में खुद का भी मजाक जमकर उड़वाया। अब उनके इसी इंटरव्यू की तमाम वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इस इंटरव्यू में उन्होंने नोएडा को लेकर पाले गए उनके अंधविश्वास पर भी बात की।

अंजना ओम कश्यप ने जब उनसे पूछा कि आखिर वो मुख्यमंत्री रहते हुए कभी नोएडा क्यों नहीं आए तो इस पर उन्होंने कहा कि वहाँ जो भी जाता है वो फिर कभी मुख्यमंत्री नहीं बनता। अपनी इसी बात को कहने के बाद वो ये कहकर हँसे, “हमारे बाबा भी नोएडा गए थे। वे इस बार मुख्यमंत्री नहीं बनेंगे।” इस अंधविश्वास पर सवाल किए जाने पर अखिलेश यादव ने कहा कि धर्म भी एक तरह का अंधविश्वास होता है।

साक्षात्कार में अखिलेश यादव से जब सवाल किया गया कि योगी सरकार दावा करती है कि उनकी सरकार में कोई दंगे नहीं हुए और लाल टोपी खतरे का निशाना है, इस पर अखिलेश यादव ने जवाब देते हुए प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि एनसीआरबी का आँकड़ा देखिए, सबसे ज्यादा दंगे किसकी सरकार में हुए हैं।

अखिलेश यादव ने साक्षात्कार में बार-बार अंजना ओम कश्यप पर ईमानदार पत्रकार का नाम ले लेकर तंज कसा और दावा किया कि श्रीकृष्ण उनके सपने में इसलिए आए क्योंकि वो उनके कुलदेवता हैं। उन्होंने कहा इस दफा यूपी की जनता बीजेपी को राधे-राधे कर देगी। जब उनसे पूछा गया कि अगर दोबारा प्रदेश में योगी सरकार बन गई फिर? इस पर सपा नेता ने कहा कि दोबारा चुनाव जीतने पर योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री पद के दावेदार हो जाएँगे, जबकि अभी से ही डबल इंजन टकरा रहा है। भाजपा को इस विषय में सोचना चाहिए।

अपने इंटरव्यू में उन्होंने पीएम मोदी के ‘UPYOGI’ वाले बयान की काट करते हुए यूपी में योगी सरकार को ‘अनुपयोगी’ करार दिया। उन्होंने कहा कि बीजेपी किसानों के वादों पर खरी नहीं उतर पाई। डीजल, कीटनाशक, बीज, रसायनिक खाद के महंगे हो जाने के कारण किसानों के लिए अपनी आय को दोगुना और पैदावार को बढ़ाना दूभर हो चुका है। अपनी बातचीत में अखिलेश यादव ने दावा किया कि जब उनकी सरकार आएगी तो लोगों को यहाँ 300 यूनिट मुफ्त बिजली दी जाएगी। उनका आरोप है कि योगी सरकार ने बिजली कारखाने नहीं लगने दिए वरना उनकी सरकार इसके लिए प्रयासरत थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -