Saturday, June 12, 2021
Home रिपोर्ट अंतरराष्ट्रीय चीनी वैक्सीन लगवा जो देश कर रहे थे छाती चौड़ी, वहाँ अब कोरोना लहर:...

चीनी वैक्सीन लगवा जो देश कर रहे थे छाती चौड़ी, वहाँ अब कोरोना लहर: Pfizer-BioNTech के बूस्टर डोज देंगे अब

चायनीज सिनोफॉर्म वैक्सीन बहरीन के 60% से भी ज्यादा लोगों को लग चुका है। सेशेल्स तो सिनोफॉर्म वैक्सीन के दम पर दुनिया का सर्वाधिक वैक्सीनेशन वाला देश बन गया लेकिन अब यहाँ संक्रमण तेजी से फैल रहा है। बचाव के लिए ये देश...

कोरोना की रोकथाम के लिए चीनी वैक्सीन सिनोफॉर्म के असर पर सवालिया निशान लगते रहे हैं। इसको उस वक्त और बल मिला जब बहरीन ने अपने नागरिकों को फाइजर और बायोएनटेक एसई का डोज देने का एलान किया। ऐसा इसलिए ताकि कोरोना के मामलों में आए उछाल को नियंत्रित किया जा सके।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, बहरीन में चीन की वैक्सीन सिनोफॉर्म के बड़े पैमाने पर टीकाकरण के बावजूद हाल में कोरोना संक्रमण के केसों में तेजी से उछाल आया है। इसी कारण अब बहरीन अपने नागरिकों को फाइजर-बायोएनटेक की खुराक देकर बूस्टर शॉट देगा।

चीन की सिनोफॉर्म वैक्सीन से सुरक्षा और इसके प्रभावों पर गंभीर संदेह के बावजूद पिछले साल 2020 में बड़े पैमाने पर चीनी वैक्सीन खरीदने वाले देशों में से एक था बहरीन। एक साल बाद यह खाड़ी देश टीके की प्रभावशीलता पर शक कर रहा है।

बहरीन के स्वास्थ्य सचिव वलीद खलीफा अल माने ने कहा कि सिनोफॉर्म वैक्सीन बहरीन के 60 फीसदी से भी ज्यादा लोगों को लग चुका है। वहाँ वर्तमान कोरोना लहर में 90 फीसदी वो लोग संक्रमित हुए हैं, जिनका वैक्सीनेशन नहीं हुआ था।

डॉ. अल माने ने कहा कि 50 साल से अधिक उम्र के निवासियों, जो पहले से बीमार हैं, उन्हें सिनोफॉर्म का टीका लेने के 6 महीने के बाद बूस्टर शॉट लेने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा कि मई 2021 महीने के अंत में सरकार ने लोगों को बूस्टर शॉट देने की पेशकश की थी। जिन लोगों ने अभी तक टीकाकरण नहीं करवाया है, बहरीन सरकार उन सभी को फाइजर-बायोएनटेक वैक्सीन लगवाएगी। हालाँकि, डॉ अल माने ने यह भी कहा कि जो लोग चीनी वैक्सीन लगवाना चाहेंगे, वो उन्हें सिनोफॉर्म ही लगवाएँगे।

बहरीन समाचार एजेंसी के मुताबिक, गुरुवार (3 मई 2021) को वहाँ कोरोना के 1,936 नए संक्रमित मिले, जिससे संक्रमितों की संख्या 240,000 से अधिक हो गई है। वहीं एक हजार से भी अधिक मौतें अब तक हो चुकी हैं।

सर्बिया में भी सिनोफॉर्म के संतोषजनक परिणाम नहीं

अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन द्वारा 26 मई, 2021 को प्रकाशित जर्नल में सिनोफॉर्म के प्रभाव को लेकर एक रिपोर्ट आई। इसमें सिनोफॉर्म के दो में से एक वर्जन सिम्टोमेटिक डिजीज में केवल 78 फीसदी असरकार पाई गई।

इसके अलावा सर्बिया में सिनोफॉर्म वैक्सीन का ट्रायल हुआ था, जिसमें 150 लोग शामिल थे। हालाँकि तीन महीने के बाद इनमें से 29 फीसदी लोगों में शून्य एंटीबॉडी मिली। सर्बियाई स्टडी में शामिल होने वाले लोगों की औसत आयु 65 साल से अधिक थी।

इस रिसर्च के चीफ ओल्गिका जुर्कोविच-जोकोविच ने कहा था, “सिनोफॉर्म वैक्सीन पर्याप्त रूप से इम्युनोजेनिक नहीं है और ऐसा लगता है कि बुजुर्गों पर इसका असर कम होता है।”

बता दें कि चीन की सरकार ने उसकी दोनों वैक्सीन सिनोफॉर्म और सिनोवैक को अपनी अंतरराष्ट्रीय कूटनीति का हिस्सा बना लिया है। वह उन देशों को जिन्हें अमेरिका और यूरोप निर्मित टीके मिलने में कठिनाई हो रही है, उन्हें इसकी सप्लाई कर रहा है। सिनोफॉर्म और सिनोवैक बायोटेक लिमिटेड को पहले ही विश्व स्वास्थ्य संगठन से एमरजेंसी इस्तेमाल की मंजूरी मिल चुकी है।

इन दोनों ही टीकों को इनएक्टिवेटेड वायरस से बनाया गया है। टीका बनाने की यह तकनीक लंबे समय से इस्तेमाल की जाती रही है। जबकि, फाइजर-बायोएनटेक ने आरएनए मैसेंजर तकनीक का इस्तेमाल कर इसे वैक्सीन का निर्माण किया है।

लोगों को तीसरा बूस्टर डोज देंगे सेशेल्स और यूएई

हिंद महासागर की गोद में बसा छोटा सा आईलैंड नेशन सेशेल्स, यूएई से दान में मिली सिनोफॉर्म वैक्सीन के दम पर दुनिया का सर्वाधिक वैक्सीनेशन वाला देश बन गया है। हालाँकि, चीन की वैक्सीन लगाने के बावजूद वहाँ कोरोना का संक्रमण तेजी से फैला है, जिसके बाद अब सेशेल्स के मंत्रालय ने अपने लोगों को तीसरा डोज देने का एलान किया है।

इस बीच अब यूएई ने भी उन लोगों को वैक्सीन का तीसरा डोज देने का एलान किया है, जिनमें एंटीबॉडी नहीं बनी है। वैसे सिनोफॉर्म ने संयुक्त अरब अमीरात में एक ट्रायल भी किया था और मध्य-पूर्व में यूएई के नेतृत्व वाले ट्रायल के बाद सिनोफॉर्म ने मिस्र, हंगरी और अर्जेंटीना के साथ 175 मिलियन वैक्सीन के डोज के लिए कॉन्ट्रैक्ट किया था। इसके अलावा दूसरे छोटे देशों को 18 मिलियन वैक्सीन दान की थी।

दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम, सर्बियाई राष्ट्रपति अलेक्जेंडर वूसिक और फिलीपीन के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते उन राष्ट्र-प्रमुखों में शामिल हैं, जिन्होंने सार्वजनिक रूप से सिनोफॉर्म का टीका लगवाया था।

लेकिन अब दुबई में जैसे-जैसे कोरोना संक्रमण के केसों में वृद्धि हुई है, दुबई के अधिकारियों ने लोगों को फाइजर-बायोएनटेक का डोज देना शुरू कर दिया है। इसी के साथ बहरीन की तरह ही यूएई में भी लोग अपनी पसंद का टीका चुन सकेंगे।

अब जब चीनी वैक्सीन सिनोफॉर्म के असर को लेकर सवाल उठने शुरू हो गए हैं तो चीन ने इस पर चुप्पी साध ली है। सबसे ज्यादा चीनी वैक्सीन पर निर्भर देश सेशेल्स में कोरोना के मामलों में उछाल आने के बाद पिछले महीने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने दावा किया था कि इस तरह हर मोड़ पर चीन को बदनाम करने की विदेशी मीडिया की अस्वस्थ मानसिकता को उजागर करती है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

UP के ‘ऑपरेशन’ क्लीन में अतीक गैंग की ₹46 करोड़ की संपत्ति कुर्क, 1 साल में ₹2000 करोड़ की अवैध प्रॉपर्टी पर हुई कार्रवाई

पिछले 1 हफ्ते में अतीक गैंग के सदस्यों की 46 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क की गई और अब आगे 22 सदस्य ऐसे हैं जिनकी कुंडली प्रयागराज पुलिस लगातार खंगाल रही है।

कॉन्ग्रेस की सरकार आई तो अनुच्छेद-370 फिर से: दिग्विजय सिंह ने पाक पत्रकार को दिया संकेत, क्लब हाउस चैट लीक

दिग्विजय सिंह एक पाकिस्तानी पत्रकार से जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाए जाने के फैसले पर बोल रहे हैं। क्लब हाउस चैट का यह ऑडियो...

‘भाईजान’ के साथ निकाह से इनकार, बॉयफ्रेंड संग रहना चाहती थी समन अब्बास, अब खेत में दफन? – चचेरा भाई गिरफ्तार

तथाकथित ऑनर किलिंग में समन अब्बास के परिवार वालों ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी और उसके शव को खेत में दफन कर दिया?

‘नुसरत जहां कलमा पढ़े और ईमान में दाखिल हो, नाजायज संबंध थी उसकी शादी’ – मौलाना कारी मुस्तफा

नुसरत ने जिससे शादी की, उसके धर्म के मुताबिक करनी थी या फिर उसे इस्लाम में दाखिल कराके विवाह करना चाहिए था। मौलाना कारी ने...

गुजरात का वह स्थान जहाँ भगवान श्रीकृष्ण ने मानव शरीर का किया था त्याग, एक बहेलिया ने मारा था उनके पैरों में बाण

भालका तीर्थ का वर्णन महाभारत, श्रीमदभागवत महापुराण, विष्णु पुराण और अन्य हिन्दू धर्म ग्रंथों में है। मंदिर में वह पीपल भी है, जिसके नीचे...

‘वन नेशन-वन राशन कार्ड’ बंगाल में लागू करना ही होगा, बहाना नहीं चलेगा: ममता सरकार को सुप्रीम कोर्ट ने हड़काया

"कोई बहाना नहीं चलेगा। जब सारे राज्य ये कर चुके हैं तो पश्चिम बंगाल को क्या दिक्कत है। हर हाल में ये योजना लागू होना चाहिए।"

प्रचलित ख़बरें

सस्पेंड हुआ था सुशांत सिंह का ट्रोल अकाउंट, लिबरलों ने फिर से करवाया रिस्टोर: दूसरों के अकाउंट करवाते थे सस्पेंड

जो दूसरों के लिए गड्ढा खोदता है, वो उस गड्ढे में खुद गिरता है। सुशांत सिंह का ट्रोल अकाउंट @TeamSaath के साथ यही हुआ।

सुशांत ड्रग एडिक्ट था, सुसाइड से मोदी सरकार ने बॉलीवुड को ठिकाने लगाया: आतिश तासीर की नई स्क्रिप्ट, ‘खान’ के घटते स्टारडम पर भी...

बॉलीवुड के तीनों खान-सलमान, शाहरुख और आमिर के पतन के पीछे कौन? मोदी सरकार। लेख लिखकर बताया गया है।

‘तुम्हारी लड़कियों को फँसा कर रोज… ‘: ‘भीम आर्मी’ के कार्यकर्ता का ऑडियो वायरल, पंडितों-ठाकुरों को मारने का दावा

'भीम आर्मी' के दीपू कुमार ने कहा कि उसने कई ब्राह्मण और राजपूत लड़कियों का बलात्कार किया है और पंडितों और ठाकुरों को मौत के घाट उतारा है।

11 साल से रहमान से साथ रह रही थी गायब हुई लड़की, परिवार या आस-पड़ोस में किसी को भनक तक नहीं: केरल की घटना

रहमान ने कुछ ऐसा तिकड़म आजमाया कि सजीथा को पूरे 11 साल घर में भी रख लिया और परिवार या आस-पड़ोस तक में भी किसी को भनक तक न लगी।

नुसरत जहाँ की बेबी बंप की तस्वीर आई सामने, यश दासगुप्ता के साथ रोमांटिक फोटो भी वायरल

नुसरत जहाँ की एक तस्वीर सामने आई है, जिसमें उनकी बेबी बंप साफ दिख रहा है। उनके पति निखिल जैन पहले ही कह चुके हैं कि यह उनका बच्चा नहीं है।

‘भाईजान’ के साथ निकाह से इनकार, बॉयफ्रेंड संग रहना चाहती थी समन अब्बास, अब खेत में दफन? – चचेरा भाई गिरफ्तार

तथाकथित ऑनर किलिंग में समन अब्बास के परिवार वालों ने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी और उसके शव को खेत में दफन कर दिया?
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
103,326FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe