Saturday, October 16, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयफिलिस्तीनी आतंकी संगठन हमास का Modi’in पर हमला, वेस्ट बैंक का 'बदला' लेने के...

फिलिस्तीनी आतंकी संगठन हमास का Modi’in पर हमला, वेस्ट बैंक का ‘बदला’ लेने के लिए दागे रॉकेट

"अल-कसम ब्रिगेड ने कब्जे वाले वेस्ट बैंक के शहीदों की आत्माओं के लिए और उनके खून का बदला लेने के लिए, रामल्लाह के पश्चिम में Modi’in पर बमबारी की।"

मध्य इजरायल पर शनिवार (15 मई) को हुए जोरदार रॉकेट हमले के दौरान एक रॉकेट वेस्ट बैंक स्थित एक फिलिस्तीनी कस्बे से टकराया। ये रॉकेट अज्जुन शहर के करीब गिरा, जिससे नुकसान तो हुआ, लेकिन कोई घायल नहीं हुआ।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, फिलिस्तीनी आतंकी संगठन हमास की सैन्य शाखा ने कहा कि रॉकेट का उद्देश्य इजरायली रक्षा बलों के साथ शुक्रवार को हुई झड़प में मारे गए नौ फिलिस्तीनियों की मौत का बदला लेने के लिए मध्य इजरायल के शहर Modi’in को निशाना बनाना था।

आतंकवादी समूह ने घोषणा की, “अल-कसम ब्रिगेड ने कब्जे वाले वेस्ट बैंक के शहीदों की आत्माओं के लिए और उनके खून का बदला लेने के लिए, रामल्लाह के पश्चिम में Modi’in पर बमबारी की।”

क्या है इजरायल का Modi’in

Modi’in-Maccabim-Re’ut मध्य इजरायल स्थित एक शहर है। यह तेल अवीव से लगभग 35 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व और यरुशलम से 30 किलोमीटर पश्चिम में स्थित है, और उन दो शहरों से हाईवे 443 के माध्यम से जुड़ा हुआ है। 2019 में इस शहर की जनसंख्या 93,277 थी।

फिलिस्तीनी प्राधिकरण के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि शुक्रवार को आईडीएफ (इजरायल डिफेंस फोर्सेज) के साथ हिंसक झड़पों के दौरान इजरायल की गोलाबारी में कम से कम नौ वेस्ट बैंक फिलिस्तीनी मारे गए। आईडीएफ के अनुसार, दंगों में करीब 3,000 फिलिस्तीनियों ने भाग लिया था। आईडीएफ ने कहा कि “मुख्य दंगाइयों” को निशाना बनाने सहित कुछ साइटों पर लाइव फायर का इस्तेमाल किया गया था।

हमास के आतंकियों ने गाजा पट्टी से शनिवार दोपहर को मध्य इजरायल की ओर बड़े पैमाने पर रॉकेट दागे। इस हमले में रमत गान नामक 50 वर्ष के एक व्यक्ति के घर के पास रॉकेट गिरने से उसकी मौत हो गई। मध्य तटीय शहरों के साथ-साथ मेगाडलिम, एली, केफर तापुआच, रेचेलिम और अन्य वेस्ट बैंक बस्तियों में सायरन बजते हुए सुनाई दिए। रॉकेट हमले के दौरान कई रॉकेट रामल्लाह के उत्तर में फिलिस्तीनी शहरों के आसपास गिरे।

इसके अतिरिक्त, एक रॉकेट मध्य इजरायली शहर ताइबे में गिरा, जहाँ कुछ अरबी निवासियों को ऑनलाइन वायरल हुए फुटेज में इस स्ट्राइक पर जश्न मनाते देखा गया।

इजरायल के साथ लड़ाई में सैकड़ों फिलिस्तीनियों की मौत

इजरायल सुरक्षा बलों के अनुसार, गाजा में फिलिस्तीनी आतंकवादियों ने सोमवार (10 मई) को लड़ाई शुरू होने के बाद से इजरायल की ओर 2,300 से अधिक रॉकेट दागे हैं।

हमास के इन रॉकेट हमलों में एक छोटे बच्चे सहित दस इजरायली मारे गए हैं और सैकड़ों घायल हुए हैं। गाजा में, हमास द्वारा संचालित स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, शनिवार को लड़ाई से मरने वालों की संख्या बढ़कर 139 हो गई, जिसमें दर्जनों बच्चे शामिल थे, जिसमें 1,000 से अधिक घायल हुए थे।

हमास और इस्लामिक जिहाद आतंकवादी समूहों ने अपने पक्ष के 20 लोगों की मौत की पुष्टि की है, हालांकि इजरायल का कहना है कि मृतकों की संख्या बहुत अधिक है और मारे गए दर्जनों लोग आतंकवादी थे। इसके अलावा, आईडीएफ का यह भी कहना है कि इनमें से कुछ मौतें इजरायल पर दागे गए उन रॉकेटों के कारण हुईं, जो अपने लक्ष्य से पहले ही गाजा पट्टी में गिर गए।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

निहंगों ने की दलित युवक की हत्या, शव और हाथ काट कर लटका दिए: ‘द टेलीग्राफ’ सहित कई अंग्रेजी अख़बारों के लिए ये ‘सामान्य...

उन्होंने (निहंगों ) दलित युवक की नृशंस हत्या करने के बाद दलित युवक के शव, कटे हुए दाहिने हाथ को किसानों के मंच से थोड़ी ही दूर लटका दिया गया।

मुस्लिम भीड़ ने पार्थ दास के शरीर से नोचे अंग, हिंदू परिवार में माँ-बेटी-भतीजी सब से रेप: नमाज के बाद बांग्लादेश में इस्लामी आतंक

इस्‍कॉन से जुड़े राधारमण दास ने ट्वीट कर बताया कि पार्थ को बुरी तरह से पीटा गया था कि जब उनका शव मिला तो शरीर के अंदर के हिस्से गायब थे। 

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,877FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe