Thursday, July 18, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्तान में आटे के लिए भगदड़, 7 बच्चों के अब्बा की मौत: AK-47 से...

पाकिस्तान में आटे के लिए भगदड़, 7 बच्चों के अब्बा की मौत: AK-47 से की जा रही आटे की सुरक्षा, सब्सिडी के बावजूद 3100 रुपए में मिल रहा 1 पैकेट

भगदड़ के बाद हुई मौत को लेकर भील समुदाय के लोगों ने बड़ी संख्या में एकजुट होकर सरकार विरोधी प्रदर्शन किया। इस दौरान, कई राजनीतिक दल के नेता भी विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए।

पाकिस्तान में महँगाई सातवें आसमान पर पहुँच गई है। हालत यह है कि आटे के एक पैकेट की कीमत सभी रिकॉर्ड तोड़ते हुए 3000 रुपए तक पहुँच गई है। इसलिए, सब्सिडी वाला आटा पाने के लिए भारी भीड़ उमड़ रही है। इस भीड़ में मची भगदड़ में एक व्यक्ति की मौत हो गई, वहीं कई लोग घायल हुए हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पाकिस्तान में खराब आर्थिक हालात के बीच सरकार सब्सिडी वाला आटा बाँट रही है। इसी कड़ी में सिंध प्रांत के मीरपुरखास में आटा लेने के लिए भारी संख्या में लोग एकत्रित हुए थे। जहाँ, अचानक भगदड़ मचने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। मृतक की पहचान हरसिंह उर्फ ​​​​गुलाही भील के रूप में हुई है। वह 6 बेटियों समेत सात बच्चों के पिता थे।

भगदड़ के बाद हुई मौत को लेकर भील समुदाय के लोगों ने बड़ी संख्या में एकजुट होकर सरकार विरोधी प्रदर्शन किया। इस दौरान, कई राजनीतिक दल के नेता भी विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए। लोगों का कहना है कि मीरपुरखास के उपायुक्त बाढ़ पीड़ितों व अन्य जरूरतमंदों को आटा तक उपलब्ध नहीं करा सके हैं। इसलिए, उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज होनी चाहिए।

प्रदर्शनकारियों ने मीडिया से बात करते हुए आरोप लगाया है कि सिंध सरकार प्रांत के 23 जिलों में बाढ़ के कारण लाखों लोग विस्थापित हुए हैं। सरकार इन लोगों को आटा नहीं दे सकी है। लोग सस्ती दरों में आटा के पैकेट लेने के प्रयास में जान गँवा रहे हैं। लोगों का दावा है कि उन्हें, 150-170 रुपए प्रति किलो की दर से आटा खरीदना पड़ रहा है। सरकार कह रही है कि वह 65 रुपए किलो आटा बेंच रही है, सरकार का यह दावा झूठा है।

सब्सिडी वाले आटे के लिए पाकिस्तान के कई प्रांतों में भीड़ जुटने की खबरें सामने आ रहीं हैं। ऐसे में, भगदड़ व पुलिस द्वारा लाठीचार्ज की घटनाएँ भी देखने को मिल रहीं हैं। सिंध प्रांत के बादिन जिले समेत शहीद बेनजीराबाद व नवाबशाह जैसे जिलों में भी कई लोगों के घायल होने की घटनाएँ सामने आईं हैं।

पाकिस्तान ब्यूरो ऑफ स्टैटिस्टिक्स (पीबीएस) द्वारा जारी आँकड़ों के मुताबिक, इस्लामाबाद, लाहौर और गुजरांवाला में 20 किलो आटे के पैकेट की कीमत 2800 से 3000 रुपए तक पहुँच गई है। वहीं, लरकाना, सुक्कुर और हैदराबाद में आटा 1300 से 2880 रुपए में बेचा गया। क्वेटा और पेशावर में आटे के पैकेट 1295 से 2700 रुपये में बिक रहे हैं। एक किलो आटे की कीमत 150 रुपए तक पहुँच गई है।

वहीं, टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान में आटे की सुरक्षा के लिए AK-47 जैसे घातक हथियारों से लैस सुरक्षा गार्ड लगाए गए हैं। ताकि आटे को चोरी से बचाते हुए लोगों तक पहुँचाया जा सके। हालाँकि, इसके बाद भी लोग आटे को देखते ही उस पर टूट पड़ रहे हैं। ऐसे कई वीडियो सामने आए हैं, जिनसे साफ पता चल रहा है कि पाकिस्तान में भुखमरी जैसे हालात हो गए हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भ#$गी हो, भ$गी बन के रहो’: जामिया के 3 प्रोफेसर पर FIR, दलित कर्मचारी पर धर्म परिवर्तन का डाल रहे थे दबाव; कहा- ईमान...

एफआईआर में आरोपित नाज़िम हुसैन अल-जाफ़री जामिया मिल्लिया इस्लामिया के रजिस्ट्रार हैं तो नसीम हैदर डिप्टी रजिस्ट्रार। इनके साथ ही आरोपित शाहिद तसलीम यूनिवर्सिटी में प्रोफ़ेसर हैं।

पूजा खेडकर की माँ होटल से हुई गिरफ्तार, नाम बदलकर लिया था कमरा: महिला IAS के पिता नौकरी में रहते 2 बार हुए थे...

पूजा खेडकर का चिट्ठा खुलने के बाद उनके माता-पिता के खिलाफ भी जाँच जारी है। माँ को महाड के होटल से हिरासत में लिया गया है और पिता फरार हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -