Friday, July 30, 2021
Homeरिपोर्टमीडियाOLX पर केजरीवाल की बेटी से ठगी, NDTV ने बताकर डिलीट मारी स्टोरी: जानिए,...

OLX पर केजरीवाल की बेटी से ठगी, NDTV ने बताकर डिलीट मारी स्टोरी: जानिए, रिपोर्ट में क्या कुछ था

यह स्पष्ट नहीं है कि NDTV ने स्टोरी क्यों हटाई। यह भी साफ नहीं हो पाया है कि यह स्टोरी झूठी थी या एनडीटीवी और अन्य मीडिया घरानों ने AAP के दबाव में रिपोर्ट हटाई है।

NDTV ने सोमवार (फरवरी 8, 2021) को एक रिपोर्ट पब्लिश की। इसमें मीडिया हाउस ने बताया था कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की बेटी हर्षिता केजरीवाल ने जब ऑनलाइन मार्केटप्लेस ओएलएक्स (OLX) पर सेकेंड हैंड सोफा बेचने की कोशिश की, तो एक जालसाज ने उसे 34,000 रुपए का चूना लगा दिया

इसमें कहा गया था कि दिल्ली के सिविल लाइन्स पुलिस स्टेशन में इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई गई है और मामले की जाँच की जा रही है। लेकिन, रिपोर्ट प्रकाशित करने के कुछ मिनट बाद NDTV ने अपनी वेबसाइट से इसे हटा लिया।

NDTV deletes story about daughter of Arvind Kejriwal being duped
NDTV की रिपोर्ट, जिसे प्रकाशित होने के कुछ मिनट बाद हटा दिया गया था

NDTV ने इस स्टोरी वाली ट्वीट भी कुछ देर पहले डिलीट कर दी।

NDTV deletes story about daughter of Arvind Kejriwal being duped
NDTV का ट्वीट, जो अब डिलीट कर दिया गया है

इंडिया टीवी ने भी इस रिपोर्ट को पब्लिश किया था, लेकिन फिर बाद में डिलीट कर दिया।

इंडिया टीवी की डिलीट की गई रिपोर्ट

रिपोर्ट के अनुसार, आरोपित ने हर्षिता को 34,000 रुपए का चूना लगाया। आरोपित ने शुरू में उसका विश्वास हासिल करने के लिए हर्षिता केजरीवाल के खाते में कुछ राशि जमा की थी। बाद में, हर्षिता को भेजे गए एक क्यूआर कोड का उपयोग करते हुए, जालसाज ने उसके खाते से राशि वापस निकाल ली।

NDTV deletes story about daughter of Arvind Kejriwal being duped
NDTV की रिपोर्ट का अंश जो डिलीट कर दी गई है

दिल्ली सिविल लाइंस पुलिस ने दिल्ली के मुख्यमंत्री की बेटी की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया है और जाँच चल रही है।

यह स्पष्ट नहीं है कि NDTV ने स्टोरी क्यों हटाई। यह भी साफ नहीं हो पाया है कि यह स्टोरी झूठी थी या एनडीटीवी और अन्य मीडिया घरानों ने AAP के दबाव में रिपोर्ट हटाई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वतंत्र है भारतीय मीडिया, सूत्रों से बनी खबरें मानहानि नहीं: शिल्पा शेट्टी की याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट

कोर्ट ने कहा कि उनका निर्देश मीडिया रिपोर्ट्स को ढकोसला नहीं बताता। भारतीय मीडिया स्वतंत्र है और सूत्रों पर बनी खबरें मानहानि नहीं है।

रामायण की नेगेटिव कैरेक्टर से ममता बनर्जी की तुलना कंगना रनौत ने क्यों की? जावेद-शबाना-खान को भी लिया लपेटे में

“...बंगाल मॉडल एक उदाहरण है… इसमें कोई शक नहीं कि देश में खेला होबे।” - जावेद अख्तर और ममता बनर्जी की इसी मीटिंग के बाद कंगना रनौत ने...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,014FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe