Friday, July 19, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाभारतीय दूतावास पर हमले में NIA की बड़ी सफलता: लंदन के 15 और सैन...

भारतीय दूतावास पर हमले में NIA की बड़ी सफलता: लंदन के 15 और सैन फ्रांसिस्को के 4 खालिस्तानी हमलावरों की पहचान, लुक आउट सर्कुलर की तैयारी

लंदन स्थित हाई कमीशन के सामने 19 मार्च 2023 को खालिस्तान समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन किया था। इस दौरान उन्होंने दूतावास पर हमला कर दिया था। उसी तरह, 2 जुलाई 2023 को अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को में भी इंडियन काउंसलेट को खालिस्तान समर्थकों ने निशाना बनाया था और आग लगा दी थी। अगले महीने NIA वहाँ दौरा करने वाली है।

इंग्लैंड की राजधानी लंदन स्थित भारतीय हाई कमीशन पर हमला करने वाले 15 आरोपितों की राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) ने पहचान की है। दो महीने पहले NIA ने 45 खालिस्तानी हमलावरों की तस्वीरें जारी की थीं। वहीं, अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को में 2 जुलाई को भारतीय वाणिज्य दूतावास को निशाना बनाने वाले चार खालिस्तानियों की भी पहचान की गई है।

इनके खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी करने की तैयारी की जा रही है। बताते चलें कि इस साल खालिस्तानी समर्थकों ने लंदन स्थित हाईकमीशन पर हमला कर तिरंगे की जगह खालिस्तान का झंडा लहरा दिया था। इसके साथ ही दूतावास की बिल्डिंग में तोड़फोड़ भी की थी। NIA ने मई महीने में घटनास्थल से टूटे हुए शीशे सहित कई सबूत जुटाए थे।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अप्रैल में NIA को लंदन विरोध प्रदर्शन के संबंध में एक नया मामला दर्ज करने का निर्देश दिया था। दरअसल, इसकी प्रारंभिक जाँच में पाकिस्तान की कुख्यात एजेंसी ISI जुड़े आतंकी लिंक सामने आए थे। मंत्रालय के निर्देश के बाद दिल्ली पुलिस ने इस मामले में गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (UAPA) के तहत प्राथमिकी दर्ज की थी, ताकि जाँच NIA को सौंपी जा सके।

जाँच अपने हाथ में लेने के बाद NIA की एक ने मई 2023 में यूनाइटेड किंगडम का दौरा कर सबूत जुटाए थे। भारत लौटकर NIA ने घटना से संंबंधित पाँच वीडियो जारी किए थे। एजेंसी ने लोगों से उन संदिग्धों की पहचान करने में मदद माँगी थी, जिन्होंने उच्चायोग में तोड़फोड़ करने की कोशिश की थी। कहा जा रहा है कि इसके जवाब में एजेंसी को 500 से अधिक कॉल आए।

NIA ने असम के डिब्रूगढ़ जेल में बंद ‘वारिस पंजाब दे’ के मुखिया अमृतपाल सिंह और उसके अन्य सहयोगियों से भी पूछताछ की थी। पूछताछ के दौरान पता चला है कि हमले के लिए इन्होंने ही उकसाया था। इसके बाद 1 अगस्त को NIA ने पंजाब और हरियाणा में कई हमलावरों के ठिकानों पर रेड डालकर महत्वपूर्ण दस्तावेज बरामद किए थे।

इंडियन एक्सप्रेस ने गृह मंत्रालय के एक सूत्र के हवाले से अपनी रिपोर्ट में कहा है कि रिसर्च एंड एनालिसिस विंग (RAW) ने भी संदिग्धों की पहचान करने में NIA को जाँच में मदद की। एक अधिकारी ने कहा, “सूचना की क्राउडसोर्सिंग और अन्य एजेंसियों की मदद से NIA ने 15 हमलावरों की पहचान की है। उनकी पहचान के बाद वे जल्द ही उनके खिलाफ LOC (लुक आउट सर्कुलर) जारी करने की प्रक्रिया में हैं।”

उच्चायोग में सहायक कार्मिक और कल्याण अधिकारी एवं शिकायतकर्ता किरण कुमार वसंत भोसले ने FIR में तीन व्यक्तियों – अवतार सिंह उर्फ खांडा, गुरचरण सिंह और जसवीर सिंह के नामों का उल्लेख किया है। एक अधिकारी ने कहा, “खांडा की जून में बर्मिंघम में मृत्यु हो गई और NIA अपनी केस फाइल के लिए उसका मृत्यु प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए संबंधित विभाग के संपर्क में है।”

बता दें कि लंदन स्थित हाई कमीशन के सामने 19 मार्च 2023 को खालिस्तान समर्थकों ने विरोध प्रदर्शन किया था। इस दौरान उन्होंने दूतावास पर हमला कर दिया था। उसी तरह, 2 जुलाई 2023 को अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को में भी इंडियन काउंसलेट को खालिस्तान समर्थकों ने निशाना बनाया था और आग लगा दी थी। अगले महीने NIA वहाँ दौरा करने वाली है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -