Sunday, July 14, 2024
Homeसोशल ट्रेंडNRC का ड्राफ्ट कहाँ, CAA पढ़ा है? रुबिका ने स्वरा के उड़ाए होश, सोशल...

NRC का ड्राफ्ट कहाँ, CAA पढ़ा है? रुबिका ने स्वरा के उड़ाए होश, सोशल मीडिया पर लोगों ने लिए मजे

रुबिका ने स्वरा से एक के बाद एक कई सवाल किए- NRC का draft कहाँ है?, बस आपको हवा-हवाई बातें करनी हैं, Vote देने जाएँगी कागज़ दिखाएँगी, और नारे लगवाएँगी कागज़ नहीं दिखाएँगे, मैडम आपने CAA एक्ट पढ़ा है? मुझे यकीन था आपने एक्ट नहीं पढ़ा होगा।

सीएए का विरोध करने वाली फ़िल्म अभिनेत्रियों की बात की जाए तो सबसे पहला नाम स्वरा भास्कर का आता है, जिन्हें देखकर लगता है कि वह आज कल फ़िल्मों में मिलने वाली रोल की तरह ही सीएए के विरोध में प्रदर्शनकारियों का किरदार अदा कर रही हैं वह भी मुख्य भूमिका में, लेकिन एक समाचार चैनल में सीएए एनआरसी को लेकर हो रही चर्चा में एंकर ने स्वरा से बस एक सवाल पूछ लिया कि क्या आपने इसे कभी पढ़ा है? जिसका स्वरा कुछ जवाब नहीं दे सकीं। इसके बाद ट्वीटर पर आई इस वीडियो के जवाब में ट्विटर यूजरों ने स्वरा को अपने निशाने पर ले लिया और अपने-अपने अंदाज में जमकर लताड़ लगाई।

हिंदुस्तान पेपर और ABP समाचार चैनल के संयुक्त प्रयास से बीते दिन ‘शिखर समागम’ का आयोजन किया जा रहा था, जिसमें आयोजित एक सत्र में CAA, NRC, NPR विषय पर चर्चा हो रही थी। मंच पर एंकर रुबिका लियाकत के साथ गेस्ट पैनल में दो अन्य गेस्टों के साथ विषय पर चर्चा करने के लिए फ़िल्म अभिनेत्री स्वरा भास्कर भी मौजूद थीं। चर्चा के दौरान रुबिका ने स्वरा से एक के बाद एक कई सवाल किए- NRC का draft कहाँ है?,
बस आपको हवा-हवाई बातें करनी हैं, Vote देने जाएँगी कागज़ दिखाएँगी, और नारे लगवाएँगी कागज़ नहीं दिखाएँगे, मैडम आपने CAA एक्ट पढ़ा है? मुझे यकीन था आपने एक्ट नहीं पढ़ा होगा। आप मुस्लिमों को डरा रही हैं।

रुबिका के एक साथ इतने सवाल सुनकर स्वरा से कोई जवाब नहीं बना और बोली कि एक मिनट मैडम एक मिनट, ऐसा नहीं है, मैंने जरूरी बिंदू पढ़े हैं, देखिए मैडम ये आपकी आडियंस है वगैरह-वगैरह। इसके बाद ट्विटर पर आई वीडियो पर लोगों ने जो प्रतिक्रियाएँ दी। अब जरा आप उन्हें भी देख लीजिए।

@Priyankabjym नाम के यूजर ने लिखा, “ग़लत जगह उंगली की है इस बार तुमने (स्वरा भास्कर), आपने तो स्वरा की बोलती बंद कर दी (रुबिका लियाकत)।”

@Text_to_Amit नाम के यूजर ने सीएए विरोध करने वाले पूरे गैंग पर ही सवाल खड़े कर दिए और लिखा, “जब लीडर ऐसे हैं तो, को लीडर कैसे होंगे, और फ़िर फोलोवर कैसे-कैसे होंगे।”

@RAMSINHZALA14 नाम के यूजर ने लिखा, “आज उंगली बाई को रुबिका जी ने नानी याद दिला दी। लेकिन बेशर्म की हद्द देखो। रुकने का नाम ही नहीं (स्वरा भास्कर)।”

@De_evil1 नाम के यूजर ने स्वरा की विषय की तैयारी को लेकर सवाल खड़े कर दिए और लिखा, “अगली बार अच्छा ट्रेनिंग लेना झूठ बोलने की, ऐसे खुले में दिमागी शौच न किया करो, भारत में खुलें शौच की इजाजत नहीं है।”

@iamurarijit नाम के यूजर ने तो पूरे गैंग की ही पोल खोल दी और लिखा, “JNU वालों में ये ख़ास खूबी है कि ये जो चीज नहीं होती उसे भी देख लेते हैं, जैसे नकाब के पीछे ABVP ‘गुंडे’, बिना ड्राफ्ट के NRC…।”

@gauravsh44 नाम के यूजर ने लिखा, “हर जगह अपना मुँह काला कराती है।”

@shiveshsharma ने एक विडियो पोस्ट करते हुए अपनी बातों को दूसरो तक पहुँचाया, वीडियो में स्वरा पाकिस्तान में बैठकर यह कहती हुई दिखाई दे रही हैं कि उनको लंदन, पेरिस, न्यूयॉर्क से भी अधिक पाकिस्तान का लाहौर शहर पसंद है।

@ChiyaShuchi नाम की यूजर ने तो कमाल ही कर दिया और मानो स्वरा के मन की बात ही कह दी हो। लिखा, “हाय राम! टाइम तो देश छोड़ने का है।”

आख़िर में @KhajuriaPawan नाम के यूजर ने बिना लिखे ही सब कुछ लिख दिया। अब आप ही देख लीजिए और समझ जाइएगा।

10 साल में 17 साल बढ़ गई स्वरा की उम्र: CAA विरोध के चक्कर में बेसिक गणित भी भूलीं अभिनेत्री

हाथ में संविधान, जुबाँ पर सुप्रीम कोर्ट के लिए गाली, दिल में राम के लिए घृणा: ऐसे कैसे चलेगा स्वरा मैडम?

तुम ‘दैनिक भास्कर’ से भी सस्ती बिकती हो: फ़िल्म निर्देशक ने मज़ाक-मज़ाक में स्वरा को जम कर लताड़ा

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

डोनाल्ड ट्रंप को मारी गई गोली, अमेरिकी मीडिया बता रहा ‘भीड़ की आवाज’ और ‘पॉपिंग साउंड’: फेसबुक पर भी वामपंथी षड्यंत्र हावी

डोनाल्ड ट्रंप की हत्या के प्रयास की पूरी दुनिया के नेताओं ने निंदा की, तो अमेरिकी मीडिया ने इस घटना को कमतर आँकने की कोशिश की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -