Monday, July 15, 2024
Homeसोशल ट्रेंड'मियाँ आगे बढ़ो आटा नहीं मिलेगा' : PAK के बिलावल भुट्टो से विदेश मंत्री...

‘मियाँ आगे बढ़ो आटा नहीं मिलेगा’ : PAK के बिलावल भुट्टो से विदेश मंत्री एस जयशंकर की मुलाकात, Video देख आई मीम की बहार

वीडियो में एस जयशंकर का बुलावल भुट्टो के प्रति इतना ठंडा बर्ताव देखने के बाद भारतीय यूजर्स की हँसी नहीं रुक रही। कुछ लोग कह रहे हैं कि विदेश मंत्री ने नमस्कार करके अरनी संस्कृति दिखाई है। वहीं कुछ लोग इस पर मीम बना रहे हैं।

गोवा में हुई शंघाई संहयोग संगठन (SCO) की बैठक में भारत के विदेश मंत्री की पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी से मुलाकात इस समय सुर्खियों में है। एक वीडियो सामने आया है जिसमें केंद्रीय मंत्री एस जयशंकर अतिथियों का स्वागत करने के लिए एंट्रेंस पर खड़े दिखाई दे रहे हैं कि तभी वहाँ बिलावल भुट्टो आते हैं। वीडियो में केंद्रीय मंत्री का रिएक्शन देखने के बाद अब इसे खूब शेयर किया जा रहे हैं।

देख सकते हैं कि SCO मीटिंग के लिए बिलावल भुट्टो भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर के पास आगे बढ़ते हैं। मगर जयशंकर अपने दोनों हाथ बाँधकर वहीं खड़े रहते हैं। वह मुस्कुराकर भुट्टो का अभिवादन करते हैं पर हाथ नहीं मिलाते। इसके बाद वह उन्हें अंदर आने का इशारा करते हैं।

वीडियो में एस जयशंकर का बुलावल भुट्टो के प्रति इतना ठंडा बर्ताव देखने के बाद भारतीय यूजर्स की हँसी नहीं रुक रही। कुछ लोग कह रहे हैं कि विदेश मंत्री ने नमस्कार करके अरनी संस्कृति दिखाई है।

वहीं कुछ लोग इस पर मीम बना रहे हैं। एक यूजर ने मीम डाला- जिसमें एस जयशंकर को ये कहते दिखाया गया कि ‘जाओ मियाँ आँटा नहीं मिलेगा।’ वहीं भुट्टो को ये कहते कि- “एक पैकेट ही दे देते वरना पाकिस्तान घुसने नहीं देगा।”

इसी तरह पहली फुरसत में निकल डायलॉग पर भी कई मीम इस मुलाकात का वीडियो देखने के बाद शेयर किए जा रहे हैं।

बता दें कि इस मुलाकात के अलावा इस बैठक में आया एस जयशंकर का बयान भी चर्चा में है। उन्होंने इस बैठक में बिलावल भुट्टो के साथ चीन के विदेश मंत्री छिन कांग के सामने आतंकवाद पर जमकर लताड़ा।

जयशंकर ने कहा, “आतंकवाद की समस्‍या जस की तस है। हमारा मानना है कि आतंकवाद को किसी तरह भी रूप में उचित नहीं ठहराया जा सकता और इसे किसी भी रूप में सीमा पार से रोका जाना चाहिए। आतंकवाद से मुकाबला SCO के मूल उद्देश्यों में से एक है। अगर आतंकवाद को नजरअंदाज किया जाता है तो यह सुरक्षा हितों के लिए नुकसानदायक होगा।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

मंगलौर के बहाने समझिए मुस्लिमों का वोटिंग पैटर्न: उत्तराखंड की जिस विधानसभा से आज तक नहीं जीता कोई हिन्दू, वहाँ के चुनाव परिणामों से...

मंगलौर में हाल के विधानसभा उपचुनावों में कॉन्ग्रेस ने भाजपा को हराया। इस चुनाव में मुस्लिम वोटिंग का पैटर्न भी एक बार फिर साफ़ हो गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -