Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजगरीब से अचानक करोड़पति बन गया लतीफ और उसका बेटा उबेदुल: खरीदे 7 बाइक,...

गरीब से अचानक करोड़पति बन गया लतीफ और उसका बेटा उबेदुल: खरीदे 7 बाइक, ट्रैक्टर, कई बीघा जमीन: SDM ने दिए जाँच के आदेश

बताया जा रहा है कि लकड़हारा ने बीते 15 दिन के अंदर लकड़हारा और उसके बेटे ने सात बाइक और ट्रैक्टर के अलावा कई बीघे जमीन भी खरीदा है।

बिहार के किशनगंज से चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहाँ देखते ही देखते रातों रात एक लकड़हारा करोड़पति हो गया है। उसे कहीं से सीक्रेट तरीके से इतना धन मिला कि उसने एक ट्रैक्टर खरीद लिया, अपने रिश्तेदारों को सात महंगी बाइक खरीद कर दे दी। साथ ही अपना घर भी बनवा लिया। हालाँकि, अब कानूनी पचड़े से बचने के लिए लकड़हारा लतीफ अपने बेटे उबेदुल के साथ कहीं फरार हो गया।

रिपोर्ट के मुताबिक, यह मामला किशनगंज टाउन थाना क्षेत्र की टेउसा पंचायत का है। यहीं का रहने वाला मुस्लिम लकड़हारा संदिग्ध तरीके से रातों-रात करोड़पति बन गया। ग्रामीणों का कहना है कि उसने लॉटरी खरीदा था और उसे एक करोड़ रुपए की लॉटरी लगी थी। खास बात ये है कि लॉटरी खरीदना और बेचना दोनों ही बिहार में बैन है। माना जा रहा है कि लकड़हारे ने पश्चिम बंगाल से ये लॉटरी खरीदा था।

बताया जा रहा है कि लकड़हारा ने बीते 15 दिन के अंदर लकड़हारा और उसके बेटे ने सात बाइक और ट्रैक्टर के अलावा कई बीघे जमीन भी खरीदा है। खास बात ये है कि ग्रामीणों का ये भी कहना है कि जिस व्यक्ति की लॉटरी लगी थी, उसे तो कुछ भी नहीं मिला। लेकिन उसकी टिकट छीनकर ये अमीर बन गया।

लेकिन अब मामला बढ़ता देख दोनों बाप-बेटे कहीं अंडरग्राउंड हो गए हैं। लेकिन पुलिस इस मामले को गंभीरता से लेते हुए घटना की जाँच शुरू कर दी है। दोनों की तलाश की जा रही है। ताकि, दोनों को पकड़ के अचानक से आई इस अमीरी के राज से पर्दा उठाया जा सके।

आईटी और ईडी से करवाई जाएगी जाँच

इस मामले के सामने आने के बाद किशनगंज के एसडीएम शाहनवाज अहमद नियाजी ने इस घटना की जाँच इनकम टैक्स और प्रवर्तन निदेशालय से करवाने की बात कही है। अधिकारी के मुताबिक, अगर यह मनी लॉन्ड्रिंग का केस हुआ तो पर्दे के पीछे छिपे लोगों को भी बेनकाब किया जाएगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

टीम से बाहर होने पर मोहम्मद शमी का वायरल वीडियो, कहा – किसी के बाप से कुछ नहीं लेता हूँ, बल्कि देता हूँ

"मुझे मौका दोगे तभी तो मैं अपनी स्किल दिखाऊँगा, जब आप हाथ में गेंद दोगे। मैं सवाल नहीं पूछता। जिसे मेरी ज़रूरत है, वो मुझे मौका देगा।"

थूक लगी रोटी सोनू सूद को कबूल है, कबूल है, कबूल है! खुद की तुलना भगवान राम से, खाने में थूकने वाले उनके लिए...

“हमारे श्री राम जी ने शबरी के जूठे बेर खाए थे तो मैं क्यों नहीं खा सकता। बस मानवता बरकरार रहनी चाहिए। जय श्री राम।” - सोनू सूद

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -