Saturday, July 13, 2024
Homeदेश-समाजशिव विहार में जिनके घर दंगाइयों ने फूँके, कपिल मिश्रा ने फिर से बसाया:...

शिव विहार में जिनके घर दंगाइयों ने फूँके, कपिल मिश्रा ने फिर से बसाया: दावा- केजरीवाल के MLA हाजी यूनुस देते रहते हैं उजाड़ने की धमकी

"अब जाने दीजिए हमें तो कुछ दंगों ने बर्बाद किया है और कुछ कोरोना ने।"

उत्तर-पूर्वी दिल्ली का शिव विहार वह इलाका जहाँ राजधानी पब्लिक स्कूल है। 2020 के दंगों के दौरान इसी स्कूल की छत पर वह गुलेल लगी थी जिससे पेट्रोल बम दागकर हिंदुओं और उनकी संपत्ति को निशाना बनाया गया था। इसी इलाके में अनिल स्वीट्स है, जिसमें काम करने वाले दिलबर नेगी की निर्मम हत्या की गई थी। यहाँ की दो पार्किंग में खड़ी गाड़ियों को भी उस समय फूँक दिया गया था। शिव विहार चौराहे पर स्थित झुग्गियों में भी लूट और आगजनी की गई थी।

दो साल बाद भी इन झुग्गियों में रहने वाले उससे उबर नहीं पाए हैं। मुआवजे के तौर पर इन्हें 25-25 हजार के चेक मिले थे। इस जगह की मौजूदा स्थिति आप नीचे के वीडियो में देख सकते हैं;

इन झुग्गियों में रहने वाले लोगों के अनुसार उन्हें सबसे बड़ी मदद बीजेपी नेता कपिल मिश्रा से मिली। स्थानीय लोगों ने बताया, “कपिल मिश्रा ने 65 हजार के तिरपाल और पन्नी मँगा कर दिए। तखत, बर्तन, गैस चूल्हा और घर-गृहस्थी के सामान दिलवाए। पर्याप्त मात्रा में राशन भी दिए।” अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार से किसी तरह की मदद मिलने के बाबत पूछे जाने पर इनलोगों का कहना था कि AAP के विधायक हाजी यूनुस से मदद मिलना तो दूर की बात है। वे उन्हें यहाँ से हटाने की कई बार चेतावनी दे चुके हैं। इससे डरकर वे कभी उनके पास नहीं जाते। इनलोगों ने बीजेपी सांसद मनोज तिवारी से भी व्यक्तिगत तौर पर मदद मिलने की बात बताई।

जहाँ जला दी गई थीं सैकड़ों गाड़ियाँ

शिव विहार तिराहे के पास स्थित दो पार्किंग स्पेस में खड़ी सैकड़ों गाड़ियाँ भी दिल्ली दंगों के दौरान जला दी गई थी। इनमें से एक राजधानी स्कूल के करीब स्थित है। इसके मालिक ने बात करने से इनकार करते हुए कहा, “अब जाने दीजिए हमें तो कुछ दंगों ने बर्बाद किया है और कुछ कोरोना ने।” अब यह पार्किंग स्पेस मैरिज लॉन के रूप में बदल चुका है।

दंगों के दौरान पार्किंग में जली गाड़ियाँ, अब मैरिज लॉन में बदल चुकी है यह जगह

पार्किंग के मौजूदा हालात को आप नीचे के वीडियो में देख सकते हैं;

दंगों में निशाना बने एक अन्य पार्किंग के मालिक हमें नहीं मिले। इस पार्किंग को भी अब मैरिज लॉन का रूप दे दिया गया है।

शिव विहार चौराहे पर स्थित गजेंद्र परिहार का मैरिज लॉन और पार्किंग एरिया

इस पार्किंग एरिया के मालिक गजेंद्र परिहार ने बीते साल ऑपइंडिया को बताया था, “अब वे पार्किंग नहीं चलाते हैं। दंगों का डर अब उतना तो नहीं रहा। लेकिन असर बना हुआ है।” दिल्ली दंगों के दौरान गजेंद्र का कुल 13 लाख रुपए का नुकसान हुआ था। शिव विहार के दोनों पार्किंग एरिया में ही करीब 170 गाड़ियाँ फूँक दी गई थीं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

रवि अग्रहरि
रवि अग्रहरि
अपने बारे में का बताएँ गुरु, बस बनारसी हूँ, इसी में महादेव की कृपा है! बाकी राजनीति, कला, इतिहास, संस्कृति, फ़िल्म, मनोविज्ञान से लेकर ज्ञान-विज्ञान की किसी भी नामचीन परम्परा का विशेषज्ञ नहीं हूँ!

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -