Friday, October 22, 2021
Homeदेश-समाज'ये लोग मुझे फँसा सकते हैं, मुझे डर लग रहा है, मुझे मार देंगे':...

‘ये लोग मुझे फँसा सकते हैं, मुझे डर लग रहा है, मुझे मार देंगे’: मौत से 5 दिन पहले सुशांत का परिवार को SOS

सुशांत ने अपनी बहन से कहा, “ये लोग मुझे फँसा सकते हैं, मुझे डर लग रहा है, मुझे मार देंगे।” रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि सुशांत ने रिया चक्रवर्ती से भी संपर्क करने की कोशिश की, जो उन्हें 8 जून को छोड़कर चली गई थीं और ब्लॉक कर दिया था।

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को मुंबई के बांद्रा स्थित घर में मृत पाए गए थे। सुशांत की मौत के मामले में सीबीआई, ईडी और एनसीबी जैसी एजेंसियाँ जाँच कर रही हैं। वहीं, इस केस में बड़ा खुलासा हुआ है कि सुशांत ने मौत से पाँच दिन पहले यानी 9 जून को अपनी बहन मीतू को फोन कर अपने डर को लेकर बात की थी। एक्टर की बातों से लगा कि उनकी जान खतरे में हैं। सुशांत ने कहा था, “मुझे डर लग रहा है, मुझे मार देंगे।”

सुशांत को यह चिंता तब हुई जब रिया चक्रवर्ती 8 जून को उनका घर छोड़कर और लैपटॉप, कैमरा, हार्ड ड्राइव जैसी चीजें अपने साथ लेकर चली गईं थीं। टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक, सुशांत सिंह राजपूत ने मौत से 5 दिन पहले अपनी बहन मीतू सिंह को 9 जून को एसओएस (SOS) किया।

सुशांत ने अपनी बहन से कहा, “ये लोग मुझे फँसा सकते हैं, मुझे डर लग रहा है, मुझे मार देंगे।” रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि सुशांत ने रिया चक्रवर्ती से भी संपर्क करने की कोशिश की, जो उन्हें 8 जून को छोड़कर चली गई थीं और ब्लॉक कर दिया था।

खबर के अनुसार इस मैसेज में सुशांत ने पहले यह मेंशन किया था कि उन्होंने रिया को भी कई बार कॉल करने की कोशिश की थी। लेकिन रिया ने उनका कॉल रिसीव नहीं किया। इसमें लिखा था, “मेरा उससे बात करना बहुत जरूरी है, क्योंकि मुझे डर है कि वे लोग मुझे किसी चीज में फँसा देंगे।”

सुशांत सिंह राजपूत के द्वारा अपनी बहन मीतू से कॉल के दौरान की गईं बातों से सवाल उठता है कि आखिर उनको किन लोगों से डर था और उन्हें किन चीजों में फँसाए जाने का डर था। सुशांत ने अपनी जान के खतरे को लेकर भी आशंका जताई थी।

पिछले दिनों सुशांत के फ्लैटमेट सिद्धार्थ पिठानी ने सीबीआई के सामने कबूल किया है कि सुशांत, दिशा सालियान की मौत के बारे में सुनकर डर गए थे। सिद्धार्थ पिठानी ने कहा था, “सुशांत दिशा की मौत की खबर सुनकर बेहोश हो गए थे। जब होश में आए तो उन्होंने कहा था कि वे लोग मुझे मार डालेंगे। बाद में उन्होंने अपनी सुरक्षा बढ़ाने की भी बात कही थी। इतना ही नहीं रिया को लगातार फोन भी लगाते रहे थे, क्योंकि वे उनका लैपटॉप, हार्ड ड्राइव और कैमरा ले गईं थीं और सबके पासवर्ड जानती थीं।”

गौरतलब है कि सिद्धार्थ पिठानी ने जाँच टीम को पूछताछ के दौरान बताया था कि 8 जून को रिया ने फ्लैट छोड़ने से पहले 8 हार्ड ड्राइव नष्ट करवाई थी। सिद्धार्थ ने बताया था कि हार्ड ड्राइव के लिए बाकायदा आईटी प्रोफेशनल को बुलवाया गया था। लेकिन यह साफ नहीं किया कि उसे बुलाया किसने था। पिठानी के अनुसार, इस दौरान सुशांत और रिया दोनों कमरे में मौजूद थे और सब कुछ देख रहे थे। उनके अलावा डोमेस्टिक हेल्पर दीपेश सावंत और बावर्ची नीरज भी कमरे में थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बधाई देना भी हराम’: सारा ने अमित शाह को किया बर्थडे विश, आरफा सहित लिबरलों को लगी आग, पटौदी की पोती को बताया ‘डरपोक’

सारा ने गृहमंत्री को बधाई दी लेकिन नाराज हो गईं आरफा खानुम शेरवानी। उन्होंने सारा को डरपोक कहा और पारिवारिक बैकग्राउंड पर कमेंट किया।

‘जमानत के लिए भगवान भरोसे हैं आर्यन खान’: जेल में रोज हो रहे आरती में शामिल, कैदियों से मिलती है दिलासा

आर्यन खान ड्रग केस में इस समय जेल में हैं। वो रोज आरती में शामिल होते हैं और अपनी रिहाई के इंतजार में चुप बैठे रहते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe