Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजजो जगह हिंदुओं के पलायन से चर्चा में आया, वहाँ हरियाणा STF पर हमला:...

जो जगह हिंदुओं के पलायन से चर्चा में आया, वहाँ हरियाणा STF पर हमला: हथियार छीन अपराधी को छुड़ाया, शामली पुलिस ने एनकाउंटर के बाद दबोचा

हरियाणा पुलिस की STF विंग के ESI राजवीर सिंह के मुताबिक जबरूद्दीन ने गिरफ्तार करने के बाद 50-60 लोग मौके पर जमा हो गए। इनलोगों ने पुलिस टीम पर ईंट-पत्थर और डंडों से हमला कर जबरूद्दीन को छुड़ा लिया।

उत्तर प्रदेश के शामली जिला का कैराना कुछ साल पहले हिंदुओं के पलायन को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर चर्चा में आया था। अब इसी जिले के केरटू गाँव से हरियाणा एसटीएफ की टीम पर हमला कर अपराधी को छुड़ाने की घटना सामने आई है। एसटीएफ की टीम हत्या के मामले में वांछित 25 हजार रुपए के इनामी जबरूद्दीन को गिरफ्तार करने पहुँची थी।

हमले के दौरान पुलिस पर पत्थरबाजी की गई। लाठी-डंडों का प्रयोग हुआ। हमलावरों ने पुलिस से सरकारी पिस्टल छीन ली, जिसे बाद में बरामद कर लिया गया। अब तक इस मामले में 6 आरोपितों की गिरफ्तार की गई है। इनमें जबरूद्दीन भी शामिल है। अन्य की तलाश में दबिश जारी है। घटना रविवार (26 मार्च 2023) की है।

केरटू गाँव झिंझाना थाना क्षेत्र में आता है। यहाँ का रहने वाला जबरूद्दीन साल 2020 में हरियाणा के करनाल में हुए एक हत्या और अवैध हथियार के मामले में फरार चल रहा था। 21 मार्च 2023 को हरियाणा पुलिस ने जबरूद्दीन पर 25 हजार रुपए का इनाम भी घोषित किया था। 26 मार्च को पुलिस के उसके अपने गाँव में ही छिपे होने की सूचना मिली थी। इस जानकारी पर पुलिस ने जबरूद्दीन के गाँव में छापा मारा। दबिश के दौरान पुलिस को जबरूद्दीन मिल गया और उसके गिरफ्तार कर पुलिस टीम साथ ले जाने लगी। इसी दौरान भीड़ ने पुलिस पर हमला कर जबरूद्दीन की छुड़ा लिया।

हरियाणा पुलिस की STF विंग के ESI राजवीर सिंह के मुताबिक जबरूद्दीन ने गिरफ्तार होने के बाद अपने भाई मेहरदीन और अलमदीन को बुलाया। जबरूद्दीन के बुलाने पर केरटू गाँव के लगभग 50-60 लोग मौके पर जमा हो गए। इन सभी ने पुलिस टीम पर ईंट-पत्थर और डंडों से हमला कर जबरूद्दीन को छुड़ा लिया। इसके बाद उत्तर प्रदेश पुलिस की मदद से जबरूद्दीन को दोबारा पकड़ने का प्रयास शुरू हुआ। इस दौरान भी जबरूद्दीन के साथियों ने हमला किया। हमलावर भीड़ ने 1 पुलिसकर्मी की पिस्टल छीन ली और दूसरे से AK 47 राइफल छीनने की कोशिश की।

मिली जानकारी के मुताबिक हमले के दौरान एक पुलिसकर्मी के सिर में चोट आई। हमलावरों ने एक पुलिसकर्मी के गले में पड़ी चाँदी की चेन भी छीन ली। हमले को लेकर दर्ज FIR में जबरूद्दीन के अलावा अलमदीन, मेहरदीन, अलीशेर, तासीन, हासिम, दिलशाद, काला, हामिद, आरिस, आमिर, नदीम, आसिफ, आरिफ, कय्यूम, विजय, अय्यूब, लाला, मुरसलीन शरीफ, साजिद, फुरकान जैसे नाम शामिल हैं। 30 से 40 अन्य अज्ञात का भी जिक्र है। हमले का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इस मामले में पुलिस ने IPC की धारा 147, 148, 149, 323, 224, 225, 307, 332, 353, 395, 397, 506, 186 के साथ आपराधिक कानून संशोधन अधिनियम 1932 की धारा 7 के तहत कार्रवाई की है। अभी तक 6 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें जबरूद्दीन भी शामिल है, जिसे सोमवार (27 मार्च 2023) को शामली पुलिस ने एक मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया। शामली पुलिस ने हरियाणा पुलिस की लूटी गई पिस्टल भी बरामद कर ली है। फरार चल रहे अन्य आरोपितों की तलाश में दबिश जारी है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेशी महिला के 5 छोटे बच्चे, 3 लड़कियाँ… इसलिए इलाहाबाद हाई कोर्ट ने दे दी जमानत: सपा विधायक की मदद से भारत में रहने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने जेल में बंद एक बांग्लादेशी महिला हिना रिजवान को जमानत दे दी। महिला अपने बच्चों के साथ अवैध रूप से भारत में रही थी।

घुमंतू (खानाबदोश) पूजा खेडकर: जिसका बाप IAS, वो गुलगुलिया की तरह जगह-जगह भटक बिताई जिंदगी… इसी आधार पर बन गई MBBS डॉक्टर

पूजा खेडकर ने MBBS में नाम लिखवाने से लेकर IAS की नौकरी पास करने तक में नाम, उम्र, दिव्यांगता, अटेंप्ट और आय प्रमाण पत्र में फर्जीवाड़ा किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -