Saturday, July 24, 2021
Homeदेश-समाज7.2 करोड़ YouTube व्यूज के लिए रैपर बादशाह ने दिए थे ₹72 लाख: मुंबई...

7.2 करोड़ YouTube व्यूज के लिए रैपर बादशाह ने दिए थे ₹72 लाख: मुंबई क्राइम ब्रांच का खुलासा

डीसीपी नंदकुमार ठाकुर ने कहा कि बादशाह किसी गाने की रिलीज के पहले 24 घण्टों का विश्व रिकॉर्ड सेट करना चाहते थे, इसीलिए उन्होंने ऐसा किया। अब पुलिस की रडार में बादशाह के कई अन्य गाने भी आ गए हैं, जिन्हें सोशल मीडिया पर रिलीज किया गया था।

मुंबई पुलिस ने रैपर बादशाह के साथ लगातार 3 दिनों तक चली पूछताछ के बाद खुलासा किया है कि उन्होंने अपने गाने ‘पागल है’ का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने के लिए रुपए दिए थे। मुम्बई की क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट ने बताया कि रैपर बादशाह ने यूट्यूब पर 7.2 करोड़ व्यूज के लिए 72 लाख रुपए दिए थे। फेक एकाउंट्स, लाइक्स और व्यूज बेचे जाने का मामले में बादशाह से शनिवार (अगस्त 8, 2020) को लगातार तीसरे दिन पूछताछ हुई।

बादशाह ने पूछताछ के दौरान ही उक्त बातें कबूल कीबादशाह ने दावा किया था कि उनके गाने ‘पागल है’ ने रिलीज के पहले 24 घण्टे में ही यूट्यूब पर 7.5 करोड़ व्यूज पाए थे, लेकिन यूट्यूब की स्वामित्व वाली कम्पनी अल्फाबेट और गूगल ने इन दावों को नकार दिया था। आदित्य सिंह उर्फ बादशाह से पूछताछ के लिए पुलिस ने 25 सवालों की सूची तैयार की थी। इस दौरान रैपर ने कबूल किया कि उन्होंने एक कम्पनी को सोशल मीडिया पर व्यूज बटोरने के लिए रुपए दिए थे।

डीसीपी नंदकुमार ठाकुर ने कहा कि बादशाह किसी गाने की रिलीज के पहले 24 घण्टों का विश्व रिकॉर्ड सेट करना चाहते थे, इसीलिए उन्होंने ऐसा किया। अब पुलिस की रडार में बादशाह के कई अन्य गाने भी आ गए हैं, जिन्हें सोशल मीडिया पर रिलीज किया गया था। उनकी व्यूज में धोखाधड़ी की बात की भी जाँच की जाएगी। सोशल मीडिया मार्केटिंग एजेंसी के नाम पर फेक एकाउंट्स बेचे जाने के नेटवर्क का खुलासा हुआ है।

इस मामले में अब तक सेलेब्रिटीज और सोशल मीडिया मार्केटिंग कम्पनीज के लोगों के बयान दर्ज किए गए हैं। अब तक 20 लोगों से पूछताछ हो चुकी है। 11 जुलाई को जब भूमि त्रिवेदी ने शिकायत दर्ज कराई थी कि किसी ने उनका फेक एकाउंट बनाया है, तब जाकर इस रैकेट का खुलास हुआ। वहीं बादशाह ने कहा है कि वो इन चीजों में संलग्न नहीं थे और मुम्बई पुलिस की जाँच में सहयोग कर रहे हैं।

इससे पहले सोशल मीडिया ‘फर्जी फ़ॉलोअर्स केस’ में मुंबई पुलिस की क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट (CIU) ने 29 साल के काशिफ़ मंसूर को गिरफ्तार किया था। काशिफ़ मंसूर एक सिविल इंजीनियर है और उस पर इंस्टाग्राम, ट्विटर और फेसबुक जैसे सोशल मीडिया पर लोगो को फेक ‘लाइक्स’, ‘व्यूज’ और ‘फॉलोअर्स’ मुहैया कराने का आरोप है। वो एक ऐसी वेबसाइट चलाता था, जो प्रोफ़ाइल यूजर, जिसमें मुख्यतः कई प्रसिद्ध हस्तियाँ भी शामिल थीं, को फ़ेक फॉलोवर्स बेचा करते थे।

जाँच का सबसे बड़ा चौंकाने वाला पहलू यह है कि बॉलीवुड सेलिब्रिटी दीपिका पादुकोण और प्रियंका चोपड़ा जोनास के साथ 10 सेलिब्रिटीज के नाम फेक फॉलोअर्स की लिस्ट में शामिल हैं। पहले ही बताया गया था कि इस मामले में फ़िल्म और क्रिकेट जगत से जुड़े कुछ बड़े नाम भी हैं, जिन्हें पुलिस बयान के लिए तलब कर सकती है। इन फेक फॉलोअर्स को इंस्टाग्राम की भाषा मे ‘Bots’ कहा जाता है। अब मुंबई पुलिस जल्द ही इन सेलिब्रिटीज से पूछताछ कर सकती है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हंगामा 2 देखिए, राज की वजह से नुकसान न हो: फैन्स से शिल्पा शेट्टी की गुजारिश, घर पहुँच मुंबई पुलिस ने दर्ज किया बयान

राज कुंद्रा की गिरफ्तारी के केस में मुंबई पुलिस के समक्ष आज बयान दर्ज करवाने के बीच शिल्पा शेट्टी ने अपनी फिल्म हंगामा 2 के लिए अपील की।

‘CM अमरिंदर सिंह ने किसानों को संभाला, दिल्ली भेजा’: जाखड़ के बयान से उठे सवाल, सिद्धू से पहले थे पंजाब कॉन्ग्रेस के कैप्टन

जाखड़ की टिप्पणी के बाद यह आशय निकाला जा रहा है कि कॉन्ग्रेस ने मान लिया है कि उसी ने किसानों को विरोध के लिए दिल्ली की सीमाओं पर भेजा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,922FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe