Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाज'मार दिया है, लाश उठा लो' : दिल्ली में सरेआम फैजान, बिलाल और आलम...

‘मार दिया है, लाश उठा लो’ : दिल्ली में सरेआम फैजान, बिलाल और आलम ने मनीष को 60 बार चाकू घोंपा, लोग देखते रहे; CCTV में पूरी वारदात कैद

25 साल के मनीष की दिल्ली के सुंदर नगरी में हत्या कर दी गई। हत्या करने वाले सीसीटीवी वीडियो में कैद हो गए। रिपोर्ट्स के अनुसार, इन लोगों ने मनीष को 60 बार चाकू घोंपा और उसके बाद लोगों से कहा- मार दिया है, लाश उठा लो।

देश की राजधानी दिल्ली में मनीष नाम के एक हिन्दू युवक की हत्या कर दी गई है। इस हत्या का आरोप फैजान, बिलाल और आलम नाम के युवकों पर लगा है। बताया जा रहा है कि पुराने केस को वापस न लेने के चलते इस घटना को अंजाम दिया गया। पुलिस ने तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना के बाद क्षेत्र में सांप्रदायिक तनाव फ़ैल गया है। मामला शनिवार (1 अक्टूबर 2022) का है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना दिल्ली नार्थ ईस्ट इलाके के सुंदर नगरी की है। यहाँ 25 साल के मनीष की हत्या चाकुओं से गोद कर हुई है। मनीष पर चाकुओं के 60 वार किए गए हैं। आरोपित और मृतक एक ही क्षेत्र के रहने वाले बताए जा रहे हैं। मनीष के परिजनों के अनुसार 1 साल पहले मनीष का मोबाईल छीन कर उसकी गर्दन और पेट पर चाकुओं से हमला किया गया था। इस घटना की मनीष ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी जिसके बाद कासिम और मोहसिन को गिरफ्तार किया गया था।

घटना के बाद जेल में बंद कासिम और मोहसिन मनीष और उनके घर वालों पर केस वापसी का दबाव बना रहे थे। इस दौरान मनीष के परिजनों को धमकियाँ भी दी जा रही थीं। ऐसी जानकारी है कि मनीष ने इन धमकियों की शिकायत कोर्ट में की थी। साथ ही धमकियों से डरे बिना 28 सितम्बर 2022 को आरोपितों के विरुद्ध गवाही दी थी।

गवाही देने के ठीक 3 दिन बाद कथिततौर पर इसी बात से नाराज हो कर मनीष की हत्या कर दी गई। हत्या का फुटेज CCTV में दर्ज हो गया। इस फुटेज में दिख रहे हमलावर फैज़ान, बिलाल और आलम बताए जा रहे हैं। घटना के समय आस-पास लोग भी मौजूद दिख रहे हैं जिसमें से किसी ने भी मनीष को बचाने की हिम्मत नहीं की। बताया जा रहा है कि हत्या के बाद आरोपितों ने कहा, “मार दिया है, लाश उठा लो।” पुलिस का कहना है कि मनीष को पहले धमकी देने वाले अन्य आरोपितों की भी तलाश की जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘वनवासी महिलाओं से कर रहे निकाह, 123% बढ़ी मुस्लिम आबादी’: भाजपा सांसद ने झारखंड में NRC के लिए उठाई माँग, बोले – खाली हो...

लोकसभा में बोलते हुए सांसद निशिकांत दुबे ने कहा, विपक्ष हमेशा यही बोलता रहता है संविधान खतरे में है पर सच तो ये है संविधान नहीं, इनकी राजनीति खतरे में है।

देशद्रोही, पंजाब का सबसे भ्रष्ट आदमी, MeToo का केस… खालिस्तानी अमृतपाल का समर्थन करने वाले चन्नी की रवनीत बिट्टू ने उड़ाई धज्जियाँ, गिरिराज बोले...

रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा कि एक पूर्व मुख्यमंत्री देशद्रोही की तरह व्यवहार कर रहा है, देश को गुमराह कर रहा है। गिरिराज सिंह बोले - ये देश की संप्रभुता पर हमला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -