Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाज2.5 लाख करोड़ तक पहुँचेगा टैक्स कलेक्शन, सिर्फ पर्यटन से ₹25000 करोड़ की एक्स्ट्रा...

2.5 लाख करोड़ तक पहुँचेगा टैक्स कलेक्शन, सिर्फ पर्यटन से ₹25000 करोड़ की एक्स्ट्रा कमाई: राम मंदिर भर देगा यूपी की झोली, SBI की रिपोर्ट आ गई

अयोध्या में राम मंदिर के पूरे होने और यूपी सरकार द्वारा पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए किए गए कामों की वजह से वित्त वर्ष 2025 में 20 से 25 हजार करोड़ रुपए की ज्यादा कमाई हो सकती है।

उत्तर प्रदेश की अयोध्या में नगरी में भगवान राम अपने जन्मस्थान पर विराजमान हो रहे हैं। ये शुभ घड़ी न सिर्फ भक्ति और अध्यात्म के लिहाज से बेहद अच्छी है, बल्कि ये उत्तर प्रदेश के विकास को नई ऊँचाईयों पर पहुँचाने की भी एक नई शुरूआत होगी। जी हाँ, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट जारी हुई है, जिसमें बताया गया है कि आने वाले समय में अयोध्या का भव्य राम मंदिर उत्तर प्रदेश के सरकार के लिए बेहद फायदेमंद रहेगा। अयोध्या से जुड़े पूरे धार्मिक-आर्थिक तंत्र की वजह से यूपी सरकार को हर साल कम से कम 20 से 25 हजार करोड़ रुपए का फायदा होगा।

SBI की एक रिपोर्ट में यह दावा किया गया है कि अयोध्या में राम मंदिर के पूरे होने और यूपी सरकार द्वारा पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए किए गए कामों की वजह से वित्त वर्ष 2025 में 20 से 25 हजार करोड़ रुपए की ज्यादा कमाई हो सकती है। साल 2022 में उत्तर प्रदेश में आए घरेलू पर्यटकों की ओर से जो खर्च किया गया था, वह 2.2 लाख करोड़ रुपए था। वहीं, विदेशी पर्यटकों की ओर से 10 हजार करोड़ रुपए खर्च किए गए थे। इस बार देखें तो यूपी सरकार के बजट में टैक्स कलेक्शन 2.5 लाख करोड़ रुपए तक पहुँच सकता है।

इस साल टूट जाएँगे सारे रिकॉर्ड

बता दें कि यूपी ने पर्यटन के क्षेत्र में साल 2023 में सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए थे। जहाँ साल 2021 की तुलना में साल 2022 में 200 प्रतिशत ज्यादा पर्यटक आए थे, जिनकी संख्या 32 करोड़ से ज्यादा थी, तो विदेशी पर्यटकों की संख्या भी 2.21 करोड़ को पार गई। चूँकि अब अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद आम भक्तों का आना शुरू हो जाएगा, तो ये आँकड़ा बेहद तेजी से बढ़ेगा।

एसबीआई की रिपोर्ट को माने तो साल 2028 तक भारत की अर्थव्यवस्था 5 ट्रिलियन की हो जाएगी। अकेले यूपी की जीडीपी 50 बिलियन डॉलर को पार कर सकेगी। ये पूरे देश के किसी भी राज्य की तुलना दूसरे नंबर की रहेगी। वहीं, उत्तर प्रदेश राज्य को केंद्र की तीर्थयात्रा कायाकल्प और आध्यात्मिक विरासत संवर्धन अभियान (PRASHAD) योजना से बड़ा लाभ मिलता हुआ दिखाई दे रहा है। इसमें कहा गया है कि अयोध्या के राम मंदिर और राज्य सरकार की अन्य पर्यटन योजनाओं के चलते यूपी सरकार को मोटी कमाई होगी।

अयोध्या पहले से ही आस्था का बड़ा केंद्र है और यहां बड़ी संख्या में पर्यटक पहुँचते हैं। अब जबकि, राम मंदिर का उद्घाटन होने जा रहा है, तो इसके बाद पर्यटकों की संख्या में और बढ़ोतरी होने की उम्मीद जताई जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -