Tuesday, August 3, 2021
Homeराजनीति'अपराधियों की संपत्ति जब्त कर गरीबों मेंं बँटेगी, दुनिया देखेगी जहाँ माफिया का कब्ज़ा...

‘अपराधियों की संपत्ति जब्त कर गरीबों मेंं बँटेगी, दुनिया देखेगी जहाँ माफिया का कब्ज़ा था वहाँ गरीब रह रहा है’: CM योगी

"यूपी में बड़े-बड़े लोग माफिया से घबराते थे। मैंने विकास प्राधिकरण से कहा है कि जिन सरकारी ज़मीनों पर माफिया ने कब्जा किया है उन्हें मुक्त करवा वहाँ गरीबों के लिए आवास योजना बनाई जाए। देश देखेगा, दुनिया देखेगी कि जहाँ पहले एक माफिया रहता था वहाँ एक गरीब रह रहा है।"

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बुधवार (16 दिसंबर, 2020) को प्रयागराज में आयोजित अधिवक्ता समागम में हिस्सा लेने पहुँचे थे। इस दौरान उन्होंने अधिवक्ताओं की समस्याएँ दूर करने के अलावा, 2022 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को मद्देनजर रखते हुए विपक्षियों को भी घेरा। माफिया व अपराधियों पर की जा रही कार्रवाई को वाजिब बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि माफिया व अपराधियों की संपत्ति जब्त कर उसे गरीबों मेंं बाँटा जाना चाहिए।

केपी कालेज ग्राउंड में हुए अधिवक्ता समागम में उन्होंने कहा, “यूपी में बड़े-बड़े लोग माफिया से घबराते थे। मैंने विकास प्राधिकरण से कहा है कि जिन सरकारी ज़मीनों पर माफिया ने कब्जा किया है उन्हें मुक्त करवा वहाँ गरीबों के लिए आवास योजना बनाई जाए। देश देखेगा, दुनिया देखेगी कि जहाँ पहले एक माफिया रहता था वहाँ एक गरीब रह रहा है।”

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रयागराज विकास प्राधिकरण माफिया से छुड़ाई गई जमीन पर आवासीय योजनाएँ बनाकर उसका आवंटन अधिवक्ताओं के साथ-साथ पत्रकारों और शिक्षकों में नो लास, नो प्राफिट के आधार पर करे। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार ने वकीलों के चेंबर के लिए काफी धनराशि अवमुक्त की है। कोविड के दौरान वकीलों की मदद के लिए कार्ययोजना माँगी है। साथ ही मदद का रास्ता निकालने का भरोसा भी दिया है।

आत्मनिर्भर भारत को प्रोत्साहन देते हुए सीएम ने कहा, “हमें मिट्टी के दीपक, गणपति और माँ लक्ष्मी जी की मूर्ति के लिए भी चीन पर निर्भर होना पड़ता था। कोरोना ने चीन को ऐसा घेरा कि वहाँ से सामान नहीं आ सकता था। आत्मनिर्भर भारत के तहत हर जगह मिट्टी के बर्तन बनने लगे। लोगों की आमदनी बढ़ी और आत्मनिर्भर भारत का आधार टेराकोटा बना।”

इसके अलावा यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने संबोधन के दौरान दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार को भी आड़े हाथों लिया। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी की जनसंख्या 24 करोड़ है जबकि दिल्ली की पौने दो करोड़ है। फिर भी कोरोना का प्रबंधन यूपी में दिल्ली के मुकाबले काफी बेहतर रहा है।

उन्होंने कहा कि दो महीने पहले यूपी में 68000 सक्रिय मरीज थे पर आज संक्रमितों की संख्या 18 हजार से भी कम है। वहीं, प्रदेश में कोविड-19 के संक्रमण की दर व मृत्युदर भी काफी कम है। उन्होंने कहा कि यूपी में कोरोना के कारण अब तक 8000 मौतें हो चुकी हैं जबकि दिल्ली में 10 हजार लोगों की मौत हो चुकी है।

यूपी में पहले और अभी के सरकार की तुलना करते हुए सीएम ने प्रयागराज कुंभ का भी उल्लेख किया। उन्होंने कुंभ को दुनिया का भव्य आयोजन बताते हुए कहा कि पहले भगदड़, गंदगी कुम्भ का पर्याय था, लेकिन 2019 का कुंभ शहर के कायाकल्प वाला रहा। कई कुंभ बीते लेकिन भरद्वाज ऋषि को किसी ने याद नही किया था। हमने उनकी भव्य प्रतिमा लगाई। कई देशों के राजदूत और नागरिक आए। शासन की मंशा नेक थी, इसलिए लोगों ने घर टूटने के बाद भी कार्यों का विरोध नहीं किया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘चुप! वर्दी उतरवा दूँगी.. तेरी औकात नहीं है’: नैनीताल में महिला पर्यटक की पुलिस से दबंगई, ₹6 करोड़ की कार जब्त

महिला के साथ उसके कुछ साथी भी थे, जो लगातार पुलिसकर्मियों के साथ बदसलूकी कर रहे थे। नैनीताल पुलिस ने 6 करोड़ रुपए की कार सीज कर ली है।

‘माँस फेंक करते हैं परेशान’: 81 हिन्दू परिवारों ने लगाए ‘मकान बिकाऊ है’ के पोस्टर, एक्शन में मुरादाबाद पुलिस

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद स्थित कटघर थाना क्षेत्र में स्थित इस कॉलोनी में 81 हिन्दू परिवारों ने 'मकान बिकाऊ है' के पोस्टर लगा दिए हैं। वहाँ बसे मुस्लिमों पर परेशान करने के आरोप।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,740FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe