Thursday, July 25, 2024
Homeराजनीतिअब संदीप दीक्षित ने AAP पर किया अटैक, कहा- अरविंद केजरीवाल घटिया राजनीति करते...

अब संदीप दीक्षित ने AAP पर किया अटैक, कहा- अरविंद केजरीवाल घटिया राजनीति करते हैं, उन पर भरोसा नहीं कर सकते

संदीप दीक्षित ने AAP की राजनीति को घटिया करार देते हुए कहा है कि कॉन्ग्रेस का स्टैंड यह है कि इस पार्टी पर भरोसा नहीं कर सकते। इसकी जो राजनीति है वो बहुत गलत और घटिया है। उसमें भ्रष्टाचार है, शिष्टाचार कहीं नहीं है। उनकी झूठ बोलने की आदत है।

दिल्ली में I. N. D.I. A. गठबंधन में मची रार खत्म होते नहीं दिख रही है। अलका लांबा के बयान से कॉन्ग्रेस के पल्ला झाड़ने के बाद अब पार्टी के पूर्व सांसद संदीप दीक्षित ने आम आदमी पार्टी (AAP) पर हमला किया है। दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के बेटे ने अरविंद केजरीवाल घटिया राजनीति करने वाला करार दिया है। साथ ही कहा है कि AAP विश्वास के लायक नहीं है।

ANI से बात करते हुए संदीप दीक्षित ने कहा है, “हमने यह नहीं कहा था कि सातों सीटों पर चुनाव लड़ेंगे। आम आदमी पार्टी नासमझ है तो मैं क्या करूँ? यदि वे भाषा नहीं समझते। हिंदी समझ में नहीं आती तो क्या करूँ मैं? हमने यह कहा है कि सभी 7 सीट पर तैयारी करेंगे। तैयारी तो हर पार्टी करेगी। फिर गठबंधन होता है नहीं होता है, उस हिसाब से तय करेंगे कौन किस सीट पर लड़ेगा।”

गौरतलब है कि अलका लांबा ने कहा था कि कॉन्ग्रेस ने दिल्ली की सभी सात लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया था। इसके बाद आप ने कहा था कि फिर I. N. D.I. A. गठबंधन की अगली बैठक में जाने का कोई मतलब नहीं है। इस पर जब संदीप दीक्षित से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, “वे शामिल हों न हों। मैं बार-बार कहता हूँ वे निर्रथक हैं। उनका कोई अर्थ नहीं है। दिल्ली में 6-7 सीट हैं, जहाँ वे प्रभाव रखते हैं। 542 सीटों में वो 1% सीट में प्रभाव करते हैं। अब वो आएँ या न आएँ वो जानें।”

उन्होंने आगे कहा, “वैसे भी भी हम लोग तो यह कह रहे थे कि एक बार जब लोकसभा-राज्यसभा में वोटिंग हो जाएगी तो आम आदमी पार्टी बाहर भागने का रास्ता ढूँढ़ेगी। आपको याद होगा अमित शाह ने लोकसभा में कहा था कि AAP गठबंधन से हट जाएगी। इसलिए हो सकता है केजरीवाल उनकी सुन रहे हों। उन्हें अक्सर उन्हीं से तो डायरेक्शन मिलता है। हम लोग जो बार-बार कह रहे हैं कि यह बीजेपी की B पार्टी है। यह केजरीवाल ने खुद ही सिद्ध कर दिया।”

संदीप दीक्षित ने AAP की राजनीति को घटिया करार देते हुए कहा है कि कॉन्ग्रेस का स्टैंड यह है कि इस पार्टी पर भरोसा नहीं कर सकते। इसकी जो राजनीति है वो बहुत गलत और घटिया है। उसमें भ्रष्टाचार है, शिष्टाचार कहीं नहीं है। उनकी झूठ बोलने की आदत है। उसमें राष्ट्रवाद को गलत तरीके से इस्तेमाल करने की आदत है। देश का विकास करने की जगह मुफ्त करने की राजनीति करना दिखाई देता है। चोरी-चकारी भरी हुई है। केजरीवाल ऐसी राजनीति करते हैं, जिसका कोई साथ नहीं देना चाहता।

दरअसल, कॉन्ग्रेस प्रवक्ता प्रियंका लांबा ने पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी, वर्तमान अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे व अन्य नेताओं के साथ हुई बैठक के बाद कहा था कि कॉन्ग्रेस दिल्ली की सभी 7 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। अलका लांबा के इस बयान के बाद आम आदमी पार्टी नेता प्रियंका कक्कड़ ने I.N.D.I.A. गठबंधन की अगली बैठक में जाना समय की बर्बादी करार दिया था। इसके बाद कॉन्ग्रेस डैमेज कंट्रोल में जुट गई थी। दिल्ली कॉन्ग्रेस प्रभारी दीपक बावरिया ने अलका लांबा के बयान का खण्डन कर दिया था। उन्होंने कहा था कि लांबा अपरिपक्व प्रवक्ता हैं और ऐसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर बोलने के लिए अधिकृत नहीं हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

खालिस्तानी अमृतपाल के लिए संसद में पूर्व CM चन्नी की बैटिंग, सिख किसान नेताओं के साथ राहुल गाँधी की बैठक: क्या पका रही है...

बकौल चरणजीत सिंह चन्नी, अमृतपाल पर NSA लगाना 'अभिव्यक्ति की आज़ादी' के खिलाफ है। वो खालिस्तानी अमृतपाल सिंह की गिरफ़्तारी को आपातकाल बता रहे हैं।

अखलाक की मौत हर मीडिया के लिए बड़ी खबर… लेकिन मुहर्रम पर बवाल, फिर मस्जिद के भीतर तेजराम की हत्या पर चुप्पी: जानें कैसे...

बरेली में एक गाँव गौसगंज में तेजराम नाम के एक युवक की मुस्लिम भीड़ ने मॉब लिंचिंग कर दी। इलाज के दौरान तेजराम की मौत हो गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -