Friday, July 30, 2021
Homeराजनीति'मेक इन इंडिया' ने भारतीय वैज्ञानिक और इंजीनियरिंग क्षमता का लोहा मनवाया - PM...

‘मेक इन इंडिया’ ने भारतीय वैज्ञानिक और इंजीनियरिंग क्षमता का लोहा मनवाया – PM मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार देश के विकास को दो पटरियों पर एक साथ आगे बढ़ा रही है। पहली है इंफ्रास्ट्रक्चर जैसे: हाईवे, रेवले, एयरवे, बिजली, इंटरनेट, ऐसी सुविधाओं का विकास है। और दूसरी पटरी गरीब, किसान, श्रमिक, मध्यम वर्ग का जीवन आसान बनाने की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को काशी पहुँचे। यहाँ पर क़रीब चार घंटे रहकर चार स्थानों का दौरा किया। इस दौरान पीएम मोदी ने 3,382 करोड़ रुपये की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। इस अवसर पर उन्होंने कई अहम् बातें कहीं, जो इस प्रकार हैं:

  • 2016 में मैंने इस प्रांगण को विकसित करने और इसके सौन्दर्यीकरण की बात कही थी, जिसकी माँग दशकों से हो रही थी, लेकिन किसी सरकार ने उसे पूरा नहीं किया था। आज इन सभी कार्यों का शुभारंभ हुआ है।
  • संत रविदास जी की जन्मस्थली करोड़ो लोगों के लिए आस्था और श्रद्धा का स्थल है। आपका सांसद होने के नाते मुझे भी यहां सेवा करने का मौका मिल रहा है।
  • गुरु जी ने ऐसे भारत की कल्पना की थी, जहां बिना किसी भेदभाव के हर किसी का ख्याल रखा जाए। हमारी सरकार पिछले साढ़े चार साल से इसी भावना को आगे बढ़ाते हुए लोक कल्याण के काम कर रही है।
  • आज वाराणसी में जिन लोक कल्याणकारी योजनाओं का उद्घाटन हुआ, उन सभी योजनाओं का लाभ समाज के हर वर्ग को समान रूप से मिलने वाला है। हमारी सरकार का हर कदम, हर योजना पूज्य संत रविदास जी की भावनाओं के अनुरूप है।
  • गरीब परिवारों को मुफ्त में बिजली का कनेक्शन, मुफ्त में गैस कनेक्शन, 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज, किसानों के लिए सिंचाई व्यवस्था और 6,000 रुपये वार्षिक अनुदान के साथ ही अन्य कई ऐसी योजनाएं शुरू की गई हैं, जो वंचित वर्ग को ऊपर उठाने के लिए हैं।
  • हमारे नौजवान साथी जो डिजिटल इंडिया के युग में सामाजिक और राजनीतिक व्यवस्था का हिस्सा बन रहे हैं, हम उनके साथ मिलकर वर्तमान स्थिति को बदलने वाले है। हमें उन लोगों को पहचानना होगा, जो अपने स्वार्थ और राजनीतिक लाभ के लिए जात-पात का मुद्दा उठाते हैं।
  • संत रविदास जी के आशीर्वाद से #NewIndia में बेईमानी के लिए, भ्रष्ट आचरण के लिए कोई स्थान नहीं। ईमानदारी से जो आगे बढ़ना चाहते हैं, उनके लिए हमारी सरकार कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी मिलेगी।
  • हम सभी भाग्यशाली हैं, जिन्हें गुरुओं, संतो और ऋषियों-मुनियों का मार्गदर्शन मिला। गुरुओं का ये ज्ञान और महान परम्परा ऐसे ही हमारी पीढ़ियों को रास्ता दिखाती रहे, इसके लिए भी हमारी सरकार लगातार कार्य कर रही है।
  • पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद, वाराणसी के वीर सपूत रमेश यादव को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ।
  • राष्ट्ररक्षा के लिए अपने स्वजन को न्यौछावर करने वाले हर परिवार का ऋण हम सभी पर हमेशा-हमेशा के लिए रहेगा।
  • आज स्वराज, स्वतंत्रता, स्वालंबन और शौर्य के प्रतीक छत्रपति शिवाजी महाराज जी की जयंती पर पूरे राष्ट्र को शुभकामनाएं देता हूँ। शिवाजी महाराज ने अपने सुशासन से हमें वो पथ दिखाया था जिस पर चल कर हम एक सशक्त राष्ट्र बन सकते हैं।
  • काशी को नए भारत की नई ऊर्जा का केंद्र बनाने में हम आज सफल हुए है। थोड़ी देर पहले ही एक ऐसे इंजन को हरी झंडी दिखाने का अवसर मुझे मिला है जो पहले डीजल से चलता था। अब वही इंजन बिजली से चला करेगा।
  • ‘मेक इन इंडिया’ के तहत किए गये इस काम ने एक बार फिर दुनिया में भारतीय वैज्ञानिक और इंजीनियरिंग क्षमता का लोहा मनवाया है। इस प्रयोग के सफल हो जाने के बाद भारतीय रेलवे को और सशक्त बनाने, क्षमता और रफ्तार बढ़ाने में मदद मिलेगी।
  • दिल्ली से काशी के बीच चल रही देश में बनी पहली सेमी-हाईस्पीड ट्रेन, वंदे-भारत एक्सप्रेस को कुछ लोगों द्वारा जिस तरह निशाना बनाया जा रहा है, उसका मजाक उड़ाया जा रहा है, वो बहुत दुखद है। क्या वन्दे भारत ट्रेन बनाने वाले इंजीनियर और technician को अपमानित करना उचित है?
  • मैं चेन्नई रेल कोच फैक्ट्री के इंजीनियरों, टेक्नीशियनों, हर कर्मचारी से भी कहूंगा कि भारत को उन पर गर्व है। मैं उनकी मेहनत को प्रणाम करता हूं, उन्हें नमन करता हूँ।
  • आप जैसे इंजीनियर-प्रोफेशनल्स ही कल भारत में बुलेट ट्रेन भी बनाएंगे और सफलता-पूर्वक चलाएँगे भी।
  • आज जिन दो बहुत बड़े कैंसर अस्पतालों का लोकार्पण हुआ है, उनमें से एक BHU में है और दूसरा लहरतारा में बना है। BHU का कैंसर अस्पताल तो सिर्फ 10 महीने में ही तैयार किया गया है।
  • सड़क और रेलवे से जुड़े जितने भी काम बनारस और आसपास के क्षेत्रों में हो रहे हैं, इससे आवाजाही आसान होने के साथ ही किसानों को और व्यापारियों को लाभ मिल रहा है। बनारस में और पूर्वांचल में नए-नए उद्यमों के लिए रास्ते खुल रहे हैं।
  • हमारी सरकार देश के विकास को दो पटरियों पर एक साथ आगे बढ़ा रही है। पहली है इंफ्रास्ट्रक्चर जैसे: हाईवे, रेवले, एयरवे, बिजली, इंटरनेट, ऐसी सुविधाओं का विकास है। और दूसरी पटरी गरीब, किसान, श्रमिक, मध्यम वर्ग का जीवन आसान बनाने की है।
  • आपने देखा होगा कि पहले 10 वर्ष के बाद कर्जमाफी का ढिंढोरा पीटा जाता था और 50-55 हज़ार करोड़ रुपए की कर्जमाफी की जाती थी। अब जो योजना हमने बनाई है, इससे 10 वर्ष में साढ़े 7 लाख करोड़ रुपए किसानों के खाते में सीधे पहुंचेंगे।
  • दिल्ली से काशी के बीच चल रही देश में बनी पहली सेमी-हाईस्पीड ट्रेन, वन्दे भारत एक्सप्रेस हमारे इंजीनियरों का कमाल है। लेकिन ये बड़े दुःख की बात है कि कुछ लोग उनका मजाक उड़ा रहे हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रोज के ₹300, शराब के साथ शबाब भी: देह व्यापार का अड्डा बना टिकरी बॉर्डर, टेंट में नंगे पड़े रहते हैं ‘किसान’

किसान आंदोलन के नाम पर फर्जी किसान टीकरी बॉर्डर शराब और लड़कियों के साथ झाड़ियों के पीछे अय्याशी करते देखे जा सकते हैं।

‘तब तक आराम नहीं… जब तक ओलंपिक स्वर्ण नहीं’ – लवलिना बोरगोहेन ने चोट लगने पर कहा, अब मंजिल की ओर

टोक्यो ओलंपिक में लवलीना बोरगोहेन ने देश के लिए दूसरा मेडल पक्का कर लिया है। लवलीना ने क्वाटर फाइनल में ने चीनी ताइपे की बॉक्सर को हरा...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,980FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe