Tuesday, July 23, 2024
Homeराजनीति'आप जिस जमीन पर लकीर खींच देंगे, मंदिर के लिए दे दूँगा: 'अहलान मोदी'...

‘आप जिस जमीन पर लकीर खींच देंगे, मंदिर के लिए दे दूँगा: ‘अहलान मोदी’ में PM ने याद किया UAE के राष्ट्रपति का ऑफर, बोले – 140 करोड़ भारतीयों का संदेश लाया हूँ

"अब अबूधाबी में इस भव्य-दिव्य मंदिर के लोकार्पण का समय आ गया है। आज 21वीं सदी के इस तीसरे दशक में भारत और UAE का रिश्ता एक अभूतपूर्व ऊँचाई पर पहुँच रहा है।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी UAE (संयुक्त अरब अमीरात) के दौरे पर हैं। वहाँ उन्होंने RuPay कार्ड भी लॉन्च किया, यानी अब यूएई में भी भारत का RuPay कार्ड चलेगा। इसके बाद राजधानी अबुधाबी में प्रधानमंत्री ने ‘अहलान मोदी’ कार्यक्रम को संबोधित किया, जहाँ भारतीय समुदाय के लोग बड़ी संख्या में पहुँचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत के विभिन्न राज्यों और धर्मों के लोग यहाँ आए हुए हैं, लेकिन सबके दिल जुड़े हुए हैं। पीएम मोदी ने कहा कि इस ऐतिहासिक स्टेडियम में हर धड़कन एक ही प्रतिध्वनि देती है – भारत-UAE की दोस्ती लंबी बनी रहे।

पीएम मोदी ने कहा कि आइए, ऐसी यादें लेकर जाएँ जो जीवन भर बनी रहें, ऐसी यादें जिन्हें आप और मैं हमेशा सँजोकर रखेंगे। उन्होंने कहा कि वो वहाँ जनता से मिलने आए हैं। जनता को ‘मेरे प्यारे परिवारजनों’ कह कर संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि वो अपने साथ 140 करोड़ भारतीयों का एक संदेश लेकर आए हैं, और यह सरल लेकिन गहन है – भारत को आप पर गर्व है! उन्होंने कहा कि यूएई ने उन्हें अपने सर्वोच्च सम्मान ‘द ऑर्डर ऑफ जाएद’ से सम्मानित किया, ये उनके लिए सौभाग्य की बात है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये सम्मान भी सिर्फ उनका नहीं है, बल्कि करोड़ों भारतीयों का सम्मान है, आप सभी का सम्मान है। उन्होंने इस पर खुशी जताई कि अमीरात के साथियों ने भारतीयों को अपने दिल में जगह दी है, अपने सुख-दुख का साझीदार बनाया है। पीएम मोदी ने कहा कि समय के साथ ये रिश्ता दिनोंदिन और मजबूत होता जा रहा है। उन्होंने कहा कि जब साल 2015 में उनके सामने आप सब की ओर से यहाँ अबूधाबी में मंदिर का प्रस्ताव रखा तो उन्होंने तुरंत एक पल भी गंवाए बिना उन्होंने हाँ कर दिया।

पीएम मोदी ने कहा, “उन्होंने (UAE के राष्ट्रपति मोहम्मद बिन जायेद अल नाह्यान) यहाँ तक कह दिया कि जिस जमीन पर लकीर खींच लेंगे, मैं दे दूँगा। अब अबूधाबी में इस भव्य-दिव्य मंदिर के लोकार्पण का समय आ गया है। आज 21वीं सदी के इस तीसरे दशक में भारत और UAE का रिश्ता एक अभूतपूर्व ऊँचाई पर पहुँच रहा है। हम एक-दूसरे के विकास में साझीदार हैं। हमारा रिश्ता प्रतिभा का है, इनोवेशन का है, संस्कृति का है। आज यूएई भारत का तीसरा सबसे बड़ा ट्रेड पार्टनर है।”

पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें हर भारतीय के सामर्थ्य पर इतना ज्यादा भरोसा है कि इसी भरोसे के दम पर मोदी ने एक गारंटी भी दी है। उन्होंने कहा कि मोदी ने अपने तीसरे टर्म में भारत को तीसरे नंबर की इकोनॉमी बनाने की गारंटी दी है, और मोदी की गारंटी यानी, गारंटी पूरा होने की गारंटी। पीएम मोदी ने कहा कि आज भारत को दुनिया एक विश्व बंधु के रूप में देख रही है, आज दुनिया के हर बड़े मंच पर भारत की आवाज सुनी जाती है। कहीं भी संकट आता है तो सबसे पहले पहुंचने वाले देशों में भारत का नाम होता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज भारत को दुनिया एक विश्व बंधु के रूप में देख रही है। आज दुनिया के हर बड़े मंच पर भारत की आवाज सुनी जाती है। कहीं भी संकट आता है तो सबसे पहले पहुंचने वाले देशों में भारत का नाम होता है। उन्होंने जानकारी दी कि जल्द ही फ्रांस, श्रीलंका और मॉरीशस की तरह UAE में भी भारत का ऑनलाइन इंस्टेंट पेमेंट सिस्टम UPI लॉन्च हो जाएगा।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राक्षस के नाम पर शहर, जिसे आज भी हर दिन चाहिए एक लाश! इंदौर की महारानी ने बनवाया, जयपुर के कारीगरों ने बनाया: बिहार...

गयासुर ने भगवान विष्णु से प्रतिदिन एक मुंड और एक पिंड का वरदान माँगा है। कोरोना महामारी के दौरान भी ये सुनिश्चित किया गया कि ये प्रथा टूटने न पाए। पितरों के पिंडदान के लिए लोकप्रिय गया के इस मंदिर का पुनर्निर्माण महारानी अहिल्याबाई होल्कर ने करवाया था, जयपुर के गौड़ शिल्पकारों की मेहनत का नतीजा है ये।

मार्तंड सूर्य मंदिर = शैतान की गुफा: विद्यार्थियों को पढ़ाने वाला Unacademy का जहरीला वामपंथी पाठ, जानिए क्या है इतिहास

मार्तंड सूर्य मंदिर को 8वीं शताब्दी ईस्वी में बनाया गया था और यह हिंदू धर्म के प्रमुख सूर्य देवता सूर्य को समर्पित है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -