Sunday, July 21, 2024
Homeराजनीतिराहुल गाँधी को श्रीराम से भी 'बड़ा' दिखाने की होड़: कॉन्ग्रेसी मंत्री ने कहा...

राहुल गाँधी को श्रीराम से भी ‘बड़ा’ दिखाने की होड़: कॉन्ग्रेसी मंत्री ने कहा – भगवान भी इतना पैदल नहीं चले: BJP ने याद दिलाया – कॉन्ग्रेस ने नकारा था अस्तित्व

उन्होंने कहा कि त्रेता युग में वनवास के समय भगवान राम ने भी इतनी लंबी यात्रा नहीं की थी। बकौल कॉन्ग्रेसी मंत्री, भगवान राम अयोध्या से श्रीलंका तक पैदल गए थे और उससे भी ज्यादा राहुल गाँधी की यह ऐतिहासिक पदयात्रा जो कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक जाएगी।

राजस्थान सरकार में स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। परसादी लाल मीणा ने कॉन्ग्रेस नेता राहुल गाँधी की तुलना भगवान श्रीराम से की है। उन्होंने कहा है कि भगवान राम अयोध्या से लंका तक पैदल गए थे। ‘भारत जोड़ो यात्रा’ कर रहे राहुल गाँधी कन्याकुमारी से कश्मीर तक पैदल जाएँगे, ऐसे में वह भगवान राम से भी अधिक पैदल चलेंगे। मीणा के इस बयान पर भाजपा ने कहा है कि राहुल की भगवान राम से तुलना करना गलत है, जनता सब देख रही है।

दरअसल, राजस्थान की गहलोत सरकार में मंत्री परसादी लाल मीणा सोमवार (17 अक्टूबर, 2022) को दौसा जिले के लालसोट कस्बे के बगड़ी गाँव में CHC भवन समेत कई अन्य योजनाओं का शिलान्यास करने पहुँचे थे। इस दौरान उन्होंने कहा है राहुल गाँधी 3500 किलोमीटर की पैदल यात्रा कर रहे हैं और वह भगवान राम से अधिक पैदल चल रहे हैं।

उन्होंने कहा कि त्रेता युग में वनवास के समय भगवान राम ने भी इतनी लंबी यात्रा नहीं की थी। बकौल कॉन्ग्रेसी मंत्री, भगवान राम अयोध्या से श्रीलंका तक पैदल गए थे और उससे भी ज्यादा राहुल गाँधी की यह ऐतिहासिक पदयात्रा जो कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक जाएगी। उन्होंने कहा कि देश में जैसा माहौल है, सांप्रदायिकता का वातावरण बन गया है, उसमें राहुल गाँधी देश जोड़ने का काम करने वाले हैं। साथ ही बयान दिया कि इतनी लंबी पदयात्रा न कभी निकली और न आगे कोई निकाल पाएगा।

परसादी लाल मीणा के इस बयान को लेकर राजस्थान भाजपा के प्रवक्ता और विधायक रामलाल शर्मा ने कहा है कि कॉन्ग्रेस को चापलूसी एक हद तक करनी चाहिए और देखना चाहिए कि किसकी और कितनी चापलूसी करनी है। उन्होंने स्पष्ट किया कि भगवान राम की यात्रा से राहुल गाँधी की यात्रा की तुलना करना गलत है। साथ ही याद दिलाया कि भगवान राम और रामसेतु के अस्तित्व को नकारने वाली और सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देने वाली कॉन्ग्रेस अब भगवान राम से राहुल गाँधी की तुलना कर रही है।

उन्होंने कहा, “यह अत्यंत निंदनीय है। इस तरह नेताओं की चापलूसी करेंगे तो जनता सब देख रही है। आने वाले समय में जनता इंसाफ करेगी।”

बता दें, इससे पहले 30 सितंबर 2022 को भी परसादी लाल मीणा की जुबान फिसल गई थी। दरअसल, राजस्थान में गहलोत गुट और पायलट गुट के विधायक एक दूसरे के खिलाफ बयानबाजी कर रहे थे। इस दौरान मीणा ने सोनिया गाँधी का गुणगान हुए कहा था कि राहुल गाँधी ने अपने ‘प्राण न्यौछावर’ कर दिए, लेकिन आतंकियों के सामने घुटने नहीं टेके।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आम सैनिकों जैसी ड्यूटी, सेम वर्दी, भारतीय सेना में शामिल हो चुके हैं 1 लाख अग्निवीर: आरक्षण और नौकरी भी

भारतीय सेना में शामिल अग्निवीरों की संख्या 1 लाख के पार हो गई है, 50 हजार अग्निवीरों की भर्ती की जा रही है।

भारत के ओलंपिक खिलाड़ियों को मिला BCCI का साथ, जय शाह ने किया ₹8.50 करोड़ मदद का ऐलान: पेरिस में पदकों का रिकॉर्ड तोड़ने...

बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने बताया कि ओलंपिक अभियान के लिए इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) को बीसीसीआई 8.5 करोड़ रुपए दे रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -