5 साल की बच्ची का बेहोश होने तक रेप किया, जब मर गई तो फेंक दिया: मोहम्मद रफी गिरफ्तार

मो. रफी ने लगभग 10 साल पहले भी 5 साल की ही एक बच्ची का बलात्कार किया था। उस समय वो बलात्कारी 15 साल का था और उसे यौन शोषण के आरोप में जुवेनाइल होम भेजा गया था। जब वो वहाँ से निकला तो...

आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले की पुलिस ने शनिवार (नवंबर 16, 2019) को 5 वर्षीय एक बच्ची के साथ यौन शोषण और उसकी हत्या के मामले में एक 25 वर्षीय लॉरी क्लीनर को गिरफ्तार किया। आरोपित की पहचान पाटन मोहम्मद रफी के रूप में की गई है। मृतक बच्ची के माता-पिता द्वारा दर्ज की गई शिकायत के आधार पर पुलिस ने आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज किया और जाँच शुरू किया।

बता दें कि पाँच साल की मृतक बच्ची 7 नवंबर अपने माता-पिता के साथ अंगल्लू गाँव के एक निजी समारोह हॉल में एक शादी में भाग लेने गई थी। जहाँ रहस्यमय परिस्थितियों में वो लापता हो गई और अगले दिन 8 नवंबर को सुबह समारोह हॉल के पीछे मृत पाई गई थी। पुलिस ने मामले को सुलझाने के लिए सीसीटीवी फुटेज का सहारा लिया। फुटेज में कथित तौर पर आरोपित पाटन मोहम्मद रफी को बच्ची के साथ खेलते और फोटो क्लिक करते हुए देखा गया। जिसके बाद पुलिस ने संदिग्ध आरोपित का सुराग प्राप्त करने के लिए सोशल मीडिया पर उसके स्केच को फैला दिया।

जिला एसपी सेंथिल कुमार ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, “सीसीटीवी फुटेज के अलावा हमारे तकनीकी विश्लेषण, स्थानीय लोगों से मिले इनपुट और जानकारी के आधार पर आरोपित को पकड़ने में इस्तेमाल किया गया था।” उन्होंने कहा कि आरोपित ने कथित तौर पर ‘पूर्व मकसद’ के साथ बच्ची से दोस्ती की थी।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

एसपी ने बताया कि बच्ची की फोटो क्लिक करने और उसके साथ दोस्ती करने के बाद वो बच्ची को बाथरूम ले गया और फिर उसका यौन शोषण किया। जब वह बेहोश हो गई और फिर मर गई, तो रफी ने उसके शव को समारोह हॉल के परिसर से बाहर फेंक दिया। फिर फंक्शन में आकर उसने सामान्य तरीके से खाना खाया, जैसे कुछ हुआ ही नहीं था। पुलिस ने अब आरोपित के ऊपर यौन शोषण के लिए POCSO अधिनियम के तहत अन्य धाराएँ भी लगा दी है। जिला एसपी ने कहा कि वे मृत्यु के सटीक कारण पर पहुँचने के लिए FSL (फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी) रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं।

पुलिस अधिकारी के मुताबिक आरोपित रफी का बाल यौन शोषण का आपराधिक इतिहास रहा है। चित्तौड़ के एसपी ने बता कि आरोपित रफी को लगभग 10 साल पहले बेसिनिकोंडा में उनके खिलाफ दर्ज एक बलात्कार के मामले में गिरफ्तार किया गया था। पहली बार उसने पाँच साल की बच्ची के साथ यौन शोषण किया था। मोहम्मद रफी उस समय 15 साल का था और उसे यौन शोषण के आरोप में एक जुवेनाइल होम भेजा गया था। फिर बाद में उसे जमानत मिल गई।

लगभग डेढ़ साल पहले उसने कथित तौर पर एक 12 वर्षीय लड़की से छेड़छाड़ की थी। उस समय वो अंगल्लू गाँव में एक वाटर प्लांट में काम कर रहा था। रफी की इस हरकत के बाद उसे काम से निकाल दिया गया लेकिन उसके खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं कराया गया था। उसका तीसरा शिकार वो पाँच वर्षीय बच्ची बनी, जिसके शोषण और हत्या के आरोप में पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

उद्धव ठाकरे-शरद पवार
कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गॉंधी के सावरकर को लेकर दिए गए बयान ने भी प्रदेश की सियासत को गरमा दिया है। इस मसले पर भाजपा और शिवसेना के सुर एक जैसे हैं। इससे दोनों के जल्द साथ आने की अटकलों को बल मिला है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

118,575फैंसलाइक करें
26,134फॉलोवर्सफॉलो करें
127,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: