Sunday, July 14, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअमेरिकी मॉल में ताबड़तोड़ फायरिंग, हमलावर को हथियारों से लैस 'आम आदमी' ने मार...

अमेरिकी मॉल में ताबड़तोड़ फायरिंग, हमलावर को हथियारों से लैस ‘आम आदमी’ ने मार गिराया: 4 की मौत, बाथरूम में मिला संदिग्ध ‘बस्ता’

ग्रीनवुड मेयर ने हमलावर को मारने वाले युवक का आभार जताते हुए कहा, “इस आदमी ने सबकी जान बचाई है। ग्रीनवुड शहर की ओर से मैं उनको धन्यवाद देता हूँ कि उन्होंने इतनी त्वरित कार्रवाई करके ऐसी स्थिति में साहस दिखाया।”

अमेरिका में फिर से सरेआम लोगों पर गोली चलाए जाने का मामला प्रकाश में आया है। घटना ग्रीनवुड शहर के इंडियाना मॉल की है। यहाँ एक शख्स ने अचानक फूड कोर्ड में बैठे लोगों के ऊपर रविवार (17 जुलाई 2022) शाम गोली दागनी शुरू कर दी। गोलीबारी में 4 लोगों की मौत हो गई जबकि एक 12 साल की बच्ची समेत 2 लोग गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। मरने वालों में से एक हमलावर भी है।

ग्रीनवुड पुलिस डिपार्टमेंट चीफ जिम इसॉन ने बताया कि रविवार शाम को (अमेरिकी टाइम के अनुसार) 6 बजे इमरजेंसी कॉल सेंटर से पता चला कि इंडियाना मॉल हुई ताबड़तोड़ फायरिंग हो रही है। घटना में 4 लोगों की मौत हो गई है। हमलावर भी मारा गया है। उसे मॉल में हथियारों से लैस एक व्यक्ति ने मारा, तब जाकर फायरिंग रुकी।

इसॉन ने कहा कि घटना के बाद पुलिस अपनी जाँच कर रही है। पुलिस को पता चला था कि शूटर ने मॉल के बाथरूम में ‘संदिग्ध’ बैग छोड़ दिया था, जिसके बाद बम स्क्वॉड ने उसकी जाँच की और पता लगाया कि कहीं कुछ विस्फोटक तो नहीं है। हालाँकि बैग में ऐसा कुछ नहीं मिला और जाँच को आगे बढ़ाया गया।

मास शूटिंग के इस नए मामले पर ग्रीनवुड के मेयर ने कहा, “मॉल में बड़े पैमाने पर शूटिंग हुई। ग्रीनवुड पुलिस ने हालात पर काबू पा लिया है। मैं कमांड पोस्ट से सीधे संपर्क में हूँ और अब खतरा नहीं है। मैं जनता से अपील करता हूँ कि अभी इस क्षेत्र से दूर रहें।”

मेयर ने हमलावर को मारने वाले युवक का आभार जताते हुए कहा, “इस आदमी ने सबकी जान बचाई है। ग्रीनवुड शहर की ओर से मैं उनको धन्यवाद देता हूँ कि उन्होंने इतनी त्वरित कार्रवाई करके ऐसी स्थिति में साहस दिखाया।”

पुलिस ने हमलावर की जानकारी देते हुए बताया कि इस बार हमला करने वाला 22 वर्षीय व्यक्ति है और उसके पास लंबी राइफल व कई सारी मैग्जीन थीं। अंदर मौजूद लोगों ने बताया कि उन्हें फूड कोर्ड से अचानक 20 गोली चलने की आवाज सुनाई दीं थी। हमलावर फूड कोर्ट में ही गोली बारी कर रहा था जब उसे मारा गया।

बता दें कि मास शूटिंग के मामले लगातार अमेरिका में बढ़ रहे हैं। 4 जून 2022 फिलाडेल्फिया में साउथ स्ट्रीट पर जमा भीड़ पर अज्ञात बंदूकधारियों ने अंधाधुंध फायरिंग की थीं। इस हमले में 14 लोगों को गोली लगी थी जिनमें तीन ने दम तोड़ दिया था और 11 घायल हो गए थे।

अमेरिकका में मास शूटिंग

अमेरिका में बढ़ रहे मास शूटिंग के मामलों को देखते हुए कुछ दिन पहले ही अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा था कि अमेरिका में बच्चों और परिवारों की रक्षा करने के लिए हथियारों की खरीद पर प्रतिबंध लगना चाहिए या फिर हथियार खरीदने की उम्र को 18 से बढ़ाकर 21 किया जाना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि अमेरिका में बीते कुछ दिनों में उवाल्डे, बफेलो और टेक्सास में गोलीबारी की कई घटना घट चुकी हैं। ऐसे में 22 जून को अमेरिकी सांसदों के ग्रुप ने एक नया सुरक्षा विधेयक तैयार किया था जिसमें खतरनाक लोगों से हथियार वापस लेने का प्रस्ताव है। साथ ही कई बिलियन डॉलर लोगों के मानसिक स्वास्थ्य पर खर्चने की बात है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

US में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लगी गोली, हमलावर सहित 2 की मौत: PM मोदी ने जताया दुख, कहा- ‘राजनीति में हिंसा की...

गोलीबारी के दौरान सुरक्षाबलों ने हमलावर को मार गिराया। इस हमले में डोनाल्ड ट्रंप घायल हो गए और उनके कान से निकला खून उनके चेहरे पर दिखा।

छात्र झारखंड के, राष्ट्रगान बांग्लादेश-पाकिस्तान का, जनजातीय लड़कियों से ‘लव जिहाद’, फिर ‘लैंड जिहाद’: HC चिंतित, मरांडी ने की NIA जाँच की माँग

झारखंड में जनजातीय समाज की समस्या पर भाजपा विरोधी राजनीतिक दल भी चुप रहते हैं, जबकि वो खुद को पिछड़ों का रहनुमा कहते नहीं थकते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -