Monday, July 15, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयमस्जिद के अंदर गोला-बारूद, तहखाने में क्रेन भी, बच्चों के खेलने की जगह में...

मस्जिद के अंदर गोला-बारूद, तहखाने में क्रेन भी, बच्चों के खेलने की जगह में बम-बोरियाँ: इजरायल ने उड़ा डाली अल अंसार मस्जिद

नमाज पढ़ने वाली मस्जिद में तहखाना। तहखाना में गोला-बारूद। गोला-बारूद को ऊपर लाने के लिए मस्जिद के ही भीतर क्रेन भी। बच्चों के खेलने की जगह पर गोला-बारूद-बोरियाँ। इजरायल ने पूरी मस्जिद ही उड़ा दी।

इजरायली सुरक्षा बलों ने फिलीस्तीन के वेस्ट बैंक इलाके में स्थित अल अंसार मस्जिद को एक हवाई हमले में उड़ा दिया है। इजरायली सुरक्षा बलों ने बताया है कि इस मस्जिद के नीचे बने तहखाने में इस्लामी आतंकी संगठन हमास और फिलीस्तीनी इस्लामी जिहाद के आतंकी इजरायल पर बड़े हमले की योजना बना रहे थे।

इजरायली सुरक्षा बलों ने हमले को लेकर जारी किए गए बयान में इसे इस्लामी आतंकी सगठन हमास का कमांड सेंटर बताया है। उनके अनुसार बताया गया है कि यह मस्जिद इजरायल पर हमले करने के लिए जुलाई 2023 के बाद से बेस की तरह उपयोग की जा रही थी।

इजरायली सुरक्षा बलों ने इस संबंध में कई तस्वीरें और वीडियो भी साझा किए हैं। इन तस्वीरों में से कुछ में मस्जिद के भीतर रखा गया गोला-बारूद जबकि एक तस्वीर में तहखाने का रास्ता दिखता है।

बच्चों के खेलने के मैदान के पास गोला बारूद छुपाया गया था (चित्र साभार: @IAFSite/X)

इजरायली सुरक्षा बलों ने तस्वीरों में दिखाया है कि मस्जिद के अंदर बच्चों के खेलने की जगह की आड़ में दो मंजिलों पर गोला-बारूद-बोरियाँ रखे थे। तहखाने से गोला-बारूद ऊपर लाने के लिए छोटी क्रेन भी मस्जिद के अंदर लगाई गई थी। फिलीस्तीनी एजेंसियों ने इस हमले में एक व्यक्ति के मौत की पुष्टि की है।

आतंकी तहखाने में जाने का रास्ता (चित्र साभार: @IAFSite/X)
आतंकियों द्वारा बनाया गया तहखाने का रास्ता और क्रेन (चित्र साभार: @IAFSite/X)

गौरतलब है कि यह मस्जिद उस इलाके में मौजूद है, जो इजरायल और हमास के बीच लड़ाई चालू होने के बाद भी तुलनात्मक रूप से शांत रहा है। इजरायल ने अपने सभी हमलों का मुख्य निशाना अभी गाजा पट्टी को बनाया है, जबकि यह हमला वेस्ट बैंक में हुआ है।

इजरायली सुरक्षा बलों ने कहा है कि उन्होंने इस हमले में ऐसे आतंकियों को मार गिराया है, जो कि उसके निर्दोष नागरिकों पर हमले में शामिल थे। यह हमला एक ख़ुफ़िया जानकारी के आधार पर किया गया। हालाँकि, इजरायल ने मारे जाने वाले आतंकियों की सँख्या या उनके नाम आदि की जानकारी नहीं दी है।

इजरायल के इस हमले के बाद सोशल मीडिया पर कुछ वीडियो भी वायरल हुए हैं, जिसमें मस्जिद के आसपास मलबा बिखरा दिखता है और लोग एम्बुलेंस की तरफ भागते हैं।

7 अक्टूबर को इस्लामी आतंकी संगठन हमास द्वारा इजरायल पर किए गए हमले में अब तक 1,400 व्यक्तियों की मौत हो चुकी है। इजरायल की जवाबी कार्रवाई में अब तक 4,300 से अधिक फिलीस्तीनी आतंकी मारे जा चुके हैं। दोनों तरफ घायलों की संख्या भी हजारों में है।

इजरायल ने यह स्पष्ट कर दिया है कि वह आने वाले दिनों में अपने हमलों में और तेजी लाएगा और इसके लिए उसने गाजा के नागरिकों को दक्षिण दिशा में जाने को कहा है। इजरायल के जल्द ही गाजा के भीतर सेना भेजने की बात भी कही जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -