Sunday, July 14, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयछोटी-छोटी बच्चियों का किया रेप, महिलाओं को यातनाएँ दी… अब खुली जेल में रहना...

छोटी-छोटी बच्चियों का किया रेप, महिलाओं को यातनाएँ दी… अब खुली जेल में रहना चाहता है ग्रूमिंग गैग का ‘बनारस हुसैन’: पीड़िता बोली- ये सबसे खतरनाक इंसान

ग्रूमिंग गैंग के मेंबर बनारस हुसैन ने खुद को खुली जेल में ट्रांसफर करने की माँग की है। हुसैन को बेहद कम उम्र की लड़कियों के साथ रेप के आरोपों के तहत 19 साल की सजा मिली है। इन रेप पीड़िताओं में 11 साल की बच्चियाँ भी शामिल हैं।

ब्रिटेन की जेल में बंद एक सजायाफ्ता ग्रूमिंग गैंग के मेंबर ने खुद को खुली जेल में ट्रांसफर करने की माँग की है। हुसैन को बेहद कम उम्र की लड़कियों के साथ रेप के आरोपों के तहत 19 साल की सजा मिली है। इन रेप पीड़िताओं में 11 साल की बच्चियाँ भी शामिल हैं। बनारस हुसैन पर ड्रग तस्करी में भी शामिल होने के आरोप हैं।

डेली मेल के मुताबिक खुद को खुली जेल में भेजे जाने की माँग करने वाला हुसैन एक सजायाफ्ता मुल्जिम है। साल 2016 में उसने रेप, हमला, शारीरिक नुकसान पहुँचाने जैसे 10 आरोपों को कबूल किया था। हुसैन जेल में बंद ग्रूमिंग गैंग के 6 सदस्यों में से एक है। हुसैन के साथ उसका एक भाई अर्शीद हुसैन को 35 साल की, दूसरा भाई बशारत हुसैन 25 साल की और चाचा कुर्बान अली 10 साल जेल की सजा काट रहे हैं।

बनारस हुसैन पर आरोप है कि उसने 11 साल की बच्चियों तक से दुष्कर्म किया। कोर्ट के ट्रायल के दौरान यह बात भी निकल कर सामने आई कि एक पुलिस ने उसे पार्क में खड़ी एक कार के अंदर एक पीड़िता से सेक्स करते हुए पकड़ने के बावजूद छोड़ दिया था। बनारस हुसैन की माँग पर एक सरकारी अधिकारी ने खुली जेल में जाने से पहले कैदियों को एक बेहद जटिल प्रकिया से गुजरने का नियम बताया। साथ ही उन्होंने कहा कि जो भी खुली जेल के दौरान तय किए गए नियमों को तोड़ता है उसे फिर से जेल भेज दिया जाता है।

हुसैन द्वारा प्रताड़ित महिलाओं में से एक 37 वर्षीया सैमी वुडहाउस ने उसे देश का सबसे खतरनाक पुरुष बताया। उसे ‘देश के सबसे खतरनाक पुरुषों में से एक’ बताते हुए सैमी ने कहा कि उसने कई बच्चों के अपहरण, उनसे रेप और टार्चर जैसे अपराध भी किए हैं। बकौल सैमी वो बच्चे अब बड़े हो चुके हैं लेकिन अपने साथ हुए भयानक हादसे को भुलाने के लिए अभी भी हर दिन जद्दोजहद करते हैं। खुद को एक पीड़िता बताते हुए सैमी ने सिस्टम को हुसैन जैसे अपराधियों से निबटने में कमजोर बताया।

बताते चलें कि खुली जेल में कैदिओं को उनकी बैरकों में लॉक नहीं किया जाता। साथ ही उन्हें रोजगार चुनने की भी अनुमति रहती है। इस जेल में भेजे जाने से पहले लम्बे समय तक अधिकारियों द्वारा कैदियों के चाल-चलन पर निगरानी रखी जाती है।

गौरतलब है कि ब्रिटेन के लिए ग्रूमिंग गैंग एक बड़ी समस्या बनी हुई है। दावा है कि इस गैंग से जुड़े मुस्लिमों ने अब तक ब्रिटेन में 5 लाख से अधिक गैर मुस्लिम लड़कियों से रेप किया है। ब्रिटेन के वर्तमान प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने इस गैंग को हर हाल में खत्म करने का भरोसा देते हुए इसके खिलाफ टास्क फ़ोर्स के गठन की जानकारी दी थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

US में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लगी गोली, हमलावर सहित 2 की मौत: PM मोदी ने जताया दुख, कहा- ‘राजनीति में हिंसा की...

गोलीबारी के दौरान सुरक्षाबलों ने हमलावर को मार गिराया। इस हमले में डोनाल्ड ट्रंप घायल हो गए और उनके कान से निकला खून उनके चेहरे पर दिखा।

छात्र झारखंड के, राष्ट्रगान बांग्लादेश-पाकिस्तान का, जनजातीय लड़कियों से ‘लव जिहाद’, फिर ‘लैंड जिहाद’: HC चिंतित, मरांडी ने की NIA जाँच की माँग

झारखंड में जनजातीय समाज की समस्या पर भाजपा विरोधी राजनीतिक दल भी चुप रहते हैं, जबकि वो खुद को पिछड़ों का रहनुमा कहते नहीं थकते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -