Thursday, July 25, 2024
Homeसोशल ट्रेंडब्रेकअप, प्यार में धोखा, संजय सिंह से लड़ाई... सपा का 'सांड' और '₹5 लाख':...

ब्रेकअप, प्यार में धोखा, संजय सिंह से लड़ाई… सपा का ‘सांड’ और ‘₹5 लाख’: बड़े खुराफाती हैं ये नेटिजन्स भी

अखिलेख यादव के 'सांड' वाले वादे को समाजवादी पार्टी ने 22 में बाइसाइकिल अभियान के साथ पोस्टर में सजाया और ट्विटर पर शेयर किया। अब इस ट्वीट पर मजेदार प्रतिक्रिया देखने को मिल रही हैं।

साल 2022 के विधानसभा चुनावों से पहले उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी वादे पर वादे करने में लगी है। इसी क्रम में उन्होंने यूपी की जनता को एक अजीबोगरीब आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा है कि यदि सपा सरकार आने के बाद कोई व्यक्ति सांड से टकरा कर मरा तो उसके परिजनों को उनकी सरकार 5 लाख रुपए का मुआवजा देगी।

अखिलेश यादव के इसी वादे को समाजवादी पार्टी ने ’22 में बाइसाइकिल’ अभियान के साथ पोस्टर में सजाया और ट्विटर पर शेयर किया। अब इस ट्वीट पर मजेदार प्रतिक्रिया देखने को मिल रही हैं। कोई इसे ‘सपा का मास्टरस्ट्रोक’ बता रहा है। तो कोई कह रहा है पढ़ाई-लिखाई सब नाम की है। लोगों की जिंदगी की आखिरी मकसद सांड के साथ लड़कर मरना ही है।

द स्किन डॉक्टर लिखते हैं, “अद्भुत। मेरी बचपन से ही प्रबल इच्छा थी कि सांड से लड़ूँ क्योंकि इसके अलावा जीवन में और करने को है भी क्या! किंतु डरता था कि कहीं कुछ मृत्यु हुई तो मेरे बाद परिवार का क्या होगा। इस घोषणा से अखिलेश भैया ने मेरी दुविधा दूर कर दी है। सपा सरकार आते ही मेरी सांड से भिड़ंत निश्चित है।”

कुछ लोग एक सांड की तस्वीर शेयर कर रहे हैं जिसमें वो अखिलेश यादव की पार्टी का पोस्टर दीवार से फाड़ रहा है। इस तस्वीर पर लोगों का कहना है कि सांड को भी अखिलेश यादव का फैसला पसंद नहीं आ रहा।

एक ट्विटर यूजर ने सपा पर तंज कसा और कहा, “इनकी सरकार में गाय ही नहीं बचेगी कसाइयों से तो सांड भी नहीं रहेगा। लेते रहना मुआवजा। क्या अखंड बुद्धिमान व्यक्ति हैं और इसे वोट देने वाला।”

वहीं कुछ लोग इस ट्वीट को एडिट करके मीम बना रहे हैं। कोई ऐसे मुआवजे को ब्रेकअप से जोड़ रहा है तो कोई संजय सिंह से। एक ने तस्वीर एडिट करके मीम बनाया, “प्यार में धोखा खाए लोगों को 5 लाख रुपए देगी सपा सरकार।”

कुछ यूजर्स सपा द्वारा सांड का नाम लेने पर AAP नेता संजय सिंह की तस्वीरें शेयर कर रहे हैं। एक ने कहा कि क्या ‘सांड से मतलब संजय सिंह से है।’ एक ने संजय सिंह की फोटो शेयर की और ब्रेकिंग बताकर लिखा, “समाजवादी पार्टी के सांड से लड़कर मौत होने पर मुआवजा वाली योजना पर भड़के संजय सिंह। कहा, IPC की धारा के तहत दर्ज कराएँगे मानहानि का मुकदमा।”

बता दें कि कल उन्नाव में सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अपनी ओर से बड़ी घोषणाएँ की थी। उन्होंने कहा था साइकिल से चलने वालों की एक्सीडेंट में मौत हुई या, सांड से लड़ कर दुर्घटना में मौत हुई तो उनकी सपा 5 लाख रुपए का मुआवजा देगी। अखिलेश यादव ने इस रैली में ये भी वादा किया कि सपा सरकार बनी तो गंगा पार करके कानपुर से उन्नाव तक मेट्रो बनेगी। इसके अलावा उन्होंने बीजेपी के ख़िलाफ़ जनता को भड़काया और कहा कि अगर बीजेपी दोबारा सत्ता में आ गई तो वह इस संविधान को भी खत्म कर देगी, संविधान बचेगा नहीं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भिंडराँवाले के बाद कॉन्ग्रेस ने खोजा एक नया ‘संत’… तब पैसा भेजते थे, अब संसद में कर रहे खुला समर्थन: समझिए कैसे नेहरू-गाँधी परिवार...

RA&W और सेना के पूर्व अधिकारी कह चुके हैं कि कॉन्ग्रेस ने पंजाब में खिसकती जमीन वापस पाने के लिए भिंडराँवाले को पैदा किया। अब वही फॉर्मूला पार्टी अमृतपाल सिंह के साथ आजमा रही। कॉन्ग्रेस के बड़े नेता जरनैल सिंह के सामने फर्श पर बैठते थे। संजय गाँधी ने उसे 'संत' बनाया था।

‘वनवासी महिलाओं से कर रहे निकाह, 123% बढ़ी मुस्लिम आबादी’: भाजपा सांसद ने झारखंड में NRC के लिए उठाई माँग, बोले – खाली हो...

लोकसभा में बोलते हुए सांसद निशिकांत दुबे ने कहा, विपक्ष हमेशा यही बोलता रहता है संविधान खतरे में है पर सच तो ये है संविधान नहीं, इनकी राजनीति खतरे में है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -