Sunday, August 1, 2021
Homeसोशल ट्रेंडपैरों में गिर पड़े पूर्व सपा सांसद: भतीजे को जिताने के लिए 'राजनीति', वीडियो...

पैरों में गिर पड़े पूर्व सपा सांसद: भतीजे को जिताने के लिए ‘राजनीति’, वीडियो वायरल

“मैं समाजवादी पार्टी के लिए पैरों पर गिर सकता हूँ। मैंने कोई माँग नहीं की। पार्टी की खातिर मैंने पैर पकड़े। आपसी विवाद था, इसलिए उनको समझा-बुझा रहे थे।"

उत्तर प्रदेश जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के नतीजे आने लगे हैं। हाथरस, महाराजगंज और मुलायम सिंह यादव के गढ़ मैनपुरी में बीजेपी की जीत हुई है, तो वहीं समाजवादी पार्टी को बड़ा झटका लगा है। इसी क्रम में चंदौली से एक वीडियो सामने आया, जिसमें पूर्व सांसद और समाजवादी पार्टी के नेता रामकिशुन यादव सपा के जिला पंचायत उम्मीदवार और अपने भतीजे की जीत के लिए पार्टी के जिला पंचायत सदस्यों के पैर पड़ रहे हैं। रामकिशुन को चंदौली का कद्दावर नेता माना जाता है।

पकड़े सदस्यों के पैर

सपा नेता का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें वह सपा सदस्यों से एकजुट रहने की विनती कर रहे हैं और अध्यक्ष पद के उम्मीदवार तेज नारायण यादव को जिताने की अपील कर रहे हैं। अपने इज्जत की दुहाई देते हुए रामकिशुन ने सदस्यों के पैर पकड़ लिए। जब उनसे पूछा गया कि वह पैर क्यों पकड़े तो रामकिशुन ने कहा कि पार्टी के सम्मान की खातिर वह किसी का भी पैर छू सकते हैं।

रामकिशुन यादव ने कहा, “मैं समाजवादी पार्टी के लिए पैरों पर गिर सकता हूँ। मैंने कोई माँग नहीं की। पार्टी की खातिर मैंने पैर पकड़े।” उन्होंने आगे कि कहा कि पैर पर गिरना कोई बड़ी बात नहीं है। वह कोई दूसरे नहीं, बल्कि हमारी ही पार्टी के सिपाही हैं। आपसी विवाद था, इसलिए वे उनको समझा-बुझा रहे थे।

जानकारी के मुताबिक, समाजवादी पार्टी के जिला पंचायत सदस्य जिले कार्यालय में बैठक कर रहे थे। इसी दौरान कुछ नेताओं के आपस में किसी बात को लेकर विवाद होने लगा। तभी पूर्व सांसद रामकिशुन ने अपने सदस्यों को काफी समझाने की भरपूर कोशिश की, लेकिन वह विवाद करते रहे। यह सब देख पूर्व सांसद जी सदस्यों के पैरों पर  गिर पड़े और कहने लगे कि वह अपनी ही पार्टी के सदस्य को ही वोट करें।

पूर्व सांसद का भतीजा सपा से अध्यक्ष पद का उम्मीदवार

सपा ने चंदौली जिला पंचायत अध्यक्ष पद का उम्मीदवार तेज नारायण यादव को बनाया है। तेज नारायण निर्दलीय लड़कर जिला पंचायत सदस्य का चुनाव जीते थे। बाद में सपा ने उन्हें टिकट देकर अध्यक्ष पद के लिए अधिकृत प्रत्याशी बनाया। तेज नारायण यादव पूर्व सांसद रामकिशुन यादव के भतीजे हैं। 

चंदौली में जिला पंचायत सदस्यों की कुल संख्या 35 है। जिला पंचायत अध्यक्ष पद की जीत के लिए कुल 18 का आँकड़ा चाहिए, जबकि समाजवादी पार्टी के पास 14 सदस्य हैं। वहीं, बीजेपी के पास 08 सदस्य हैं। इसके अलावा 09 निर्दलीय व अन्य हैं। ऐसे में सपा के पास सबसे अधिक सदस्य हैं। सपा के अधिकृत प्रत्याशी तेज नारायण को मिलने वाले वोटों की संख्या सपा से जीते जिला पंचायत सदस्यों की पार्टी के प्रति निष्ठा को तय कर देगी। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मस्जिद के सामने जुलूस निकलेगा, बाजा भी बजेगा’: जानिए कैसे बाल गंगाधर तिलक ने मुस्लिम दंगाइयों को सिखाया था सबक

हिन्दू-मुस्लिम दंगे 19वीं शताब्दी के अंत तक महाराष्ट्र में एकदम आम हो गए थे। लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक इससे कैसे निपटे, आइए बताते हैं।

मानसिक-शारीरिक शोषण से धर्म परिवर्तन और निकाह गैर-कानूनी: हिन्दू युवती के अपहरण-निकाह मामले में इलाहाबाद HC

आरोपित जावेद अंसारी ने उत्तर प्रदेश में 'लव जिहाद' के खिलाफ बने कानून के तहत हो रही कार्रवाई को रोकने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट का रुख किया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,352FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe