Friday, July 19, 2024
Homeविविध विषयअन्यAsian Games 2023: हॉकी में भारत को गोल्ड, एशियाई खेलों में सबसे ज्यादा गोल्ड...

Asian Games 2023: हॉकी में भारत को गोल्ड, एशियाई खेलों में सबसे ज्यादा गोल्ड के साथ-साथ पहली बार मेडलों का ऐतिहासिक शतक!

एशियन गेम्स में भारत ने 22 गोल्ड, 34 सिल्वर और 39 ब्रॉन्ज के साथ अब तक 95 मेडल अपने नाम किए हैं। इसके अलावा विभिन्न खेलों में 5 मेडल पक्के हो चुके हैं। ऐसे में भारत का शतक का सैकड़ा तय माना जा रहा है।

भारतीय हॉकी टीम ने शुक्रवार (6 अक्टूबर 2023) को शानदार खेल दिखाते हुए एशियन गेम्स (Asian Games 2023) का गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया। कप्तान मनप्रीत सिंह की अगुवाई वाली टीम इंडिया ने जापान को 5-1 के बड़े अंतर से हराकर यह जीत दर्ज की।

इसके साथ ही हॉकी टीम पेरिस ओलंपिक के लिए भी क्वालीफाई कर गई है। एशियन गेम्स में भारत के खाते में अब तक 22 गोल्ड समेत कुल 95 मेडल आ गए हैं। इसके पहले एशियन गेम्स की हॉकी में 2014 में गोल्ड मिला था। 9 साल बाद भारत ने एक बार फिर से स्वर्ण पदक जीता है।

चीन के हांगझोउ में खेले जा रहे 19वें एशियन गेम्स में भारतीय हॉकी टीम शुरुआत से बेहतरीन फॉर्म में थी। फाइनल में भी यह दबदबा कायम रहा। जापान के खिलाफ हुए इस मुकाबले में पहले हाफ में ही 3-0 की बढ़त हासिल कर ली थी, जो कि दूसरे हाफ में भी जारी रही।

भारत की ओर से हरमनप्रीत सिंह (32वें और 59वें मिनट), अभिषेक (48वें मिनट), अमित रोहिदास (36वें मिनट) और मनप्रीत सिंह (25वें मिनट) ने गोल दागे। वहीं, जापान की ओर से एकमात्र गोल एस तनाका ने 51वें मिनट में किया

एशियन गेम्स के इतिहास में भारतीय हॉकी टीम का अब तक शानदार इतिहास रहा है। टीम इंडिया ने हॉकी में रिकॉर्ड 16वीं बार मेडल जीता है। इस बार हासिल हुआ यह चौथा गोल्ड मेडल है। कुल मिलाकर देखें तो भारत ने हॉकी में अब तक 4 गोल्ड, 9 सिल्वर और 3 ब्रॉन्ज मेडल जीते हैं।

एशियन गेम्स में शतक के करीब भारत

एशियन गेम्स में भारत ने 22 गोल्ड, 34 सिल्वर और 39 ब्रॉन्ज के साथ अब तक 95 मेडल अपने नाम किए हैं। इसके अलावा विभिन्न खेलों में 5 मेडल पक्के हो चुके हैं। ऐसे में भारत का पदकों का शतक तय माना जा रहा है।

एशियन गेम्स मेडल टैली देखें तो 185 गोल्ड के साथ चीन पहले स्थान पर है। वहीं, 44 गोल्ड के साथ जापान दूसरे और 36 गोल्ड के साथ कोरिया तीसरे नंबर और 22 गोल्ड के साथ भारत चौथे नंबर पर है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -