Tuesday, July 23, 2024
Homeदेश-समाजनशे में थी प्रिया सिंह, अश्वजीत को मार रही थी: जिस इंफ्लुएंसर ने BF...

नशे में थी प्रिया सिंह, अश्वजीत को मार रही थी: जिस इंफ्लुएंसर ने BF पर लगाया गाड़ी से रौंदने का इल्जाम, उस पर ‘पैसे ऐंठने’ का आरोप

अश्वजीत के परिवार का कहना है कि उनके बेटे ने लड़की को कॉल या मैसेज नहीं किया था बल्कि वो खुद अश्वजीत को मैसेज कॉल कर रही थी। जब वो होटल पहुँची तब भी नशे में थी। परिवार का कहना है कि हो सकता है अश्वजीत का उससे अतीत में रिश्ता रहा हो लेकिन अब वो सिर्फ उसकी दोस्त थी।

इंस्टाग्राम इनफ्लुएंसर प्रिया सिंह ने हाल में अपने बॉयफ्रेंड पर इल्जाम लगाया था कि उसने उनके साथ मारपीट करके गाड़ी से रौंदा। हालाँकि अब इस मामले में अश्वजीत गायकवाड का पक्ष सामने आया है। अश्वजीत के परिवार ने बताया है कि घटना ठाणे के होटल की है जहाँ अश्वजीत उस दिन अपने परिवार के साथ घूमने गया था और साथ में उसके दोस्त भी थे।

परिवार के मुताबिक अश्वजीत ने लड़की को कॉल या मैसेज नहीं किया था बल्कि वो खुद अश्वजीत को मैसेज कॉल कर रही थी। जब वो होटल पहुँची तब भी नशे में थी। परिवार का कहना है कि हो सकता है अश्वजीत का उससे अतीत में रिश्ता रहा हो लेकिन अब वो सिर्फ उसकी दोस्त थी। अश्वजीत ने उसे कई मौकों पर पैसा भी दिया था। उनका कहना है कि प्रिया सिंह के ये सारे इल्जाम उनसे पैसे लेने के लिए ही हैं।

घटनास्थल पर प्रिया ने अश्वजीत और उसके दोस्तों को मारना शुरू कर दिया था। इसलिए वो अपने परिवार के साथ शर्मिंदगी में जाने लगे। इसके बाद प्रिया ड्राइवर की गाड़ी पर लटक गई। चूँकि मालिक के जाने के बाद ड्राइवर भी जाना चाहता था तो गाड़ी की स्पीड तेज थी। प्रिया ने उसी चलती गाड़ी को पकड़ा। ऐसे में वो गिर गई।

ड्राइवर ने लड़की को चोट लगा देख उसे अस्पताल पहुँचवाया और सारी फॉरमैलिटी पूरी की। इसके बाद मरीज की बहन की बहन को घटना के बारे में बताया गयाष कुछ टाइम बाद पता चला कि उसने अस्पताल ही बदल दिया है। इसी दौरान गायकवाड परिवार का एक विरोधी उससे मिला और घटना को भुनाने का प्रयास किया।

सीसीटीवी फुटेज में पुलिस को कहीं से भी घटनास्थल पर अश्वजीत नहीं मिला। वहीं इंस्टाग्राम पर डाली गई कहानी भी बिकुल अलग है। परिवार ने कहा कि संभव है कि लड़के और लड़की का अतीत रहा हो। अगर कोई रिश्ता नहीं सही चला तो वो उससे निकल गया। हर बार लड़का ही क्यों दोषी होता है। सिर्फ इसलिए क्योंकि वो किसी जानी-मानी हस्ती का बेटा या भतीजा है। क्या लड़की को कुछ भी करने का अधिकार है। उसने कहा कि अश्वजीत ने मारा लेकिन क्या ये बातें अस्पताल की रिपोर्ट में हैं। टॉक्सीलॉगी टेस्ट किया गया था क्या लड़की का।

बता दें कि एक ओर अश्वजीत गायकवाड के परिवार ने प्रिया सिंह द्वारा लगाए गए सारे इल्जामों को नकारा है। वहीं प्रिया सिंह ने अश्वजीत की शादी को लेकर कहा कि पहले उसे नहीं पता था कि अश्वजीत शादीशुदा है। जब उसे पता चला तो अश्वजीत ने कहा कि दोनों अलग हो चुके हैं और अब वह मुझसे शादी चाहता है। जब मैं उस रात वहाँ पहुँची तो वो अपने बीवी के साथ था। मैं हैरान रह गई। मैं उससे बात करने गई तो वो गुस्सा हो गया। तब हमारी लड़ाई हुई।

अपनी चोटों के बारे में बात करते हुए प्रिया ने कहा, “मेरे दाहिने पैर की तीन हड्डियाँ टूट गई हैं, इसका ऑपरेशन किया गया है। मेरे बाएँ कंधे से लेकर कूल्हों तक गहरी चोटें हैं। मैं अपने शरीर को हिला नहीं सकती।” प्रिया ने कहा, “चार दिन पहले मैं एफआईआर दर्ज कराने गई थी, जिस दिन यह सब हुआ। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। आज जब मैंने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया तो पुलिस ने मेरा समर्थन किया।” पीड़िता की वकील दर्शना पवार ने कहा, “मैं सुबह प्रिया से मिली, उसकी हालत स्थिर है लेकिन चोटें काफी गंभीर हैं। चोटों के मुताबिक भारतीय दंड संहिता की धारा 307 दर्ज की जानी चाहिए थी, जो दर्ज नहीं की गई है।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कागज तो दिखाना ही पड़ेगा: अमर, अकबर या एंथनी… भोले के भक्तों को बेचना है खाना, तो जरूरी है कागज दिखाना – FSSAI अब...

सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि कांवड़ रूट में नाम दिखने पर रोक लगाई जा रही है, लेकिन कागज दिखाने पर कोई रोक नहीं है।

‘कोई भी कार्रवाई हो तो हमारे पास आइए’: हाईकोर्ट ने 6 संपत्तियों को लेकर वक्फ बोर्ड को दी राहत, सेन्ट्रल विस्टा के तहत इन्हें...

दिसंबर 2021 में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने हाईकोर्ट को आश्वासन दिया था कि वक्फ बोर्ड की संपत्तियों को कोई नुकसान नहीं पहुँचाया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -