Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाजअस्थाई मंदिर में विराजमान होंगे रामलला: 24 मार्च को प्राण प्रतिष्ठा, पूजा-अर्चना में शामिल...

अस्थाई मंदिर में विराजमान होंगे रामलला: 24 मार्च को प्राण प्रतिष्ठा, पूजा-अर्चना में शामिल होंगे सीएम योगी

24 मार्च को प्राण प्रतिष्ठा के साथ रामलला को अस्थाई मंदिर में विराजमान कर दिया जाएगा। इस कार्यक्रम में सीएम योगी भी हिस्सा लेंगे। योगी के कार्यक्रम को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह से तैयारियों में जुट गया है।

श्रीराम मंदिर जन्मभूमि विवाद को लेकर पिछले साल आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद से अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का रास्ता तो साफ हो गया है, लेकिन उसे मूर्त रूप देने में जिला प्रशासन से लेकर पूरा अमला लगा हुआ है। राम मंदिर निर्माण का कार्य सही से और बेहतर ढंग से किया जा सके इसके लिए रामलला की मूर्ति को एक अस्थाई मंदिर में रखने का निर्णय लिया गया। माना जा रहा है कि 24 मार्च को प्राण प्रतिष्ठा के साथ रामलला को अस्थाई मंदिर में विराजमान कर दिया जाएगा। इस कार्यक्रम में सीएम योगी भी हिस्सा लेंगे। योगी के कार्यक्रम को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह से तैयारियों में जुट गया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 24 मार्च को अयोध्या के दौरे पर रहेंगे। सीएम योगी राम जन्मभूमि परिसर में बन रहे रामलला के अस्थाई मंदिर के प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम में भी हिस्सा लेंगे। इसके बाद अयोध्या में ही रात्रि प्रवास के बाद सीएम योगी 25 मार्च की सुबह नवरात्र के प्रथम दिन रामलला के नए अस्थाई मंदिर में ही रामलला का पूजन अर्चना करेंगे। वहीं राम मंदिर निर्माण को लेकर रामलला के गर्भगृह को शिफ्ट करने की प्रक्रिया लगभग अंतिम दौर में है। दरअसल, मानस भवन के गैलरी में बने फाइबर के मंदिर में संत धर्माचार्य वैदिक मंत्रों के बीच रामलला की प्राण प्रतिष्ठा करेंगे। इसके बाद रामलला अपने नए अस्थाई मंदिर में विराजमान होंगे। इस कार्यक्रम में राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास और ट्रस्ट के अन्य सदस्यों के भी मौजूद रहने की उम्मीद है।

वहीं सीएम योगी के रामलला के पूजन के बाद आम श्रद्धालुओं के लिए नए अस्थाई मंदिर को रामलला के दर्शन-पूजन के लिए खोल दिया जाएगा। अयोध्या जिला प्रशासन और राम जन्मभूमि क्षेत्र के ट्रस्टी ने रामलला को शिफ्ट करने के लिए तैयारियाँ तेज कर दी हैं। बताया जा रहा है कि अब भक्तों को नजदीक से रामलला के दर्शन होंगे इसके लिए रास्ते की दूरी को कम किया गया है। आपको बता दें कि राम मंदिर पर सुप्रीम का फैसला आने के बाद राम जन्म भूमि की सुरक्षा व्यवस्था और कड़ी कर दी गई है। वहीं राम मंदिर निर्माण ट्रस्ट की दूसरी बैठक 4 अप्रैल को तय है। माना जा रहा है कि आगामी बैठक में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन की तिथि सुनिश्चित की जा सकती है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पेगासस: ‘खोजी’ पत्रकारिता का भ्रमजाल, जबरन बयानबाजी और ‘टाइमिंग’- देश के खिलाफ हर मसाले का प्रयोग

दुनिया भर में कुल जमा 23 स्मार्टफोन में 'संभावित निगरानी' को लेकर ऐसा बड़ा हल्ला मचा दिया गया है, मानो 50 देशों की सरकारें पेगासस के ज़रिए बड़े पैमाने पर अपने नागरिकों की साइबर जासूसी में लगी हों।

पिता ने उधार लेकर करवाई हॉकी की ट्रेनिंग, निधन के बाद अंतिम दर्शन भी छोड़ा: अब ओलंपिक में इतिहास रच दी श्रद्धांजलि

वंदना कटारिया के पिता का सपना था कि भारतीय महिला हॉकी टीम ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीते। बचपन में पिता ने उधार लेकर उन्हें हॉकी की ट्रेनिंग दिलवाई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,163FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe