Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाज'विधायक का बेटा हूँ, किसी से नहीं डरता': भागलपुर में जदयू MLA गोपाल मंडल...

‘विधायक का बेटा हूँ, किसी से नहीं डरता’: भागलपुर में जदयू MLA गोपाल मंडल का बेटा गिरफ्तार, खुलेआम की थी गोलीबारी, जमीन कब्जाने का भी आरोप

इसी बात से नाराज हो कर विधायक के बेटे आशीष मंडल एक होटल में मौजूद लाल बहादुर के पास पहुँचे। दोनों पक्षों में पहले बहस हुई, जो कुछ ही देर बाद मारपीट में बदल गई।

बिहार के भागलपुर में JDU विधायक गोपाल मंडल के बेटे आशीष मंडल को SIT ने गिरफ्तार किया है। गिरफ्तारी मंगलवार (27 दिसंबर, 2022) को हुई है। आशीष मंडल पर 12 दिसंबर 2022 को एक होटल में गोली चलाने का आरोप है। इस गोलीबारी में एक व्यक्ति घायल हुआ था। इस मामले की जड़ में प्रॉपर्टी का विवाद बताया जा रहा है। कुछ समय पहले गोपाल मंडल एक चुनाव प्रचार में नजर आए थे। तब उनका विधायक का बेटा होने और किसी से भी न डरने का वीडियो वायरल हुआ था।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, आशीष की गिरफ्तारी तिलकामांझी थाना क्षेत्र से हुई है। वहीं ‘दैनिक जागरण’ ने आशीष की गिरफ्तारी उनकी माँ सिवता देवी के कार्यालय से होने की जानकारी दी है। सविता देवी मेयर हैं और उनका ऑफिस बरारी के हाउसिंग बोर्ड में मौजूद है।

क्या है मामला

जानकारी के मुताबिक, बरारी के मुसहरी टोला से सटी जमीनों की खरीद-बिक्री में JDU विधायक गोपाल मंडल और प्रॉपर्टी डीलर लाल बहादुर के बीच पहले से विवाद था। लाल बहादुर ने विधायक पर सत्ता की हनक में जमीनों पर अवैध कब्ज़े का आरोप लगाया है। 11 दिसंबर, 2022 को विधायक गोपाल मंडल और लाल बहादुर के बीच प्रॉपर्टी को ले कर फोन पर कहासुनी हुई। विधायक गोपाल मंडल ने एक जमीन की चारदीवारी करवा रखी थी जिसको लाल बहादुर ने गिरवा दिया था।

इसी बात से नाराज हो कर विधायक के बेटे आशीष मंडल एक होटल में मौजूद लाल बहादुर के पास पहुँचे। दोनों पक्षों में पहले बहस हुई, जो कुछ ही देर बाद मारपीट में बदल गई। इस मारपीट में लाल बहादुर उर्फ़ लड्डू शास्त्री, उनकी पत्नी माधु और रवि कुमार घायल हो गए। आरोप है कि विधायक के बेटे आशीष ने गोली भी चलाई। हमले में बुरी तरह से घायल रवि को सिलीगुड़ी रेफर किया गया है।

बिहार सरकार ने इस मामले की जाँच के लिए SIT का गठन किया। तब से आशीष मंडल फरार चल रहा था। इस घटना में विधायक गोपाल मंडल को भी आरोपित किया गया है। फरारी के दौरान आशीष मंडल का एक वीडियो भी वायरल हुआ था। इस वीडियो में आशीष खुद को विधायक का बेटा बताते हुए किसी से भी न डरने की बात कह रहे थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आरक्षण पर बांग्लादेश में हो रही हत्याएँ, सीख भारत के लिए: परिवार और जाति-विशेष से बाहर निकले रिजर्वेशन का जिन्न

बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ छात्र सड़कों पर उतर आए हैं। वहाँ सेना को तैनात किया गया है। इससे भारत को सीख लेने की जरूरत है।

कर्नाटक के बाद अब तमिलनाडु में YouTuber अजीत भारती के खिलाफ FIR, कॉन्ग्रेस नेता सैमुअल MC ने की शिकायत: राहुल गाँधी से जुड़ा है...

"कर्नाटक उच्च न्यायालय ने स्थगन का आदेश दे रखा है, उस पर कथित घटना और केस पर स्टे के बाद, वापस दूसरे राज्य में केस करना क्या बताता है? "

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -