Friday, July 19, 2024
Homeदेश-समाजरोज सुबह छात्रों को भड़काते हैं कोचिंग संस्थान, दिखाते हैं आत्महत्या के वीडियो: बिहार...

रोज सुबह छात्रों को भड़काते हैं कोचिंग संस्थान, दिखाते हैं आत्महत्या के वीडियो: बिहार जलाने के लिए दिल्ली से कौन दे रहा आदेश?

वीडियो बना-बना कर केंद्र सरकार की योजनाओं का विरोध किया जाता है। देश भर में आत्महत्या के आँकड़े गिना कर और वीडियो दिखा कर छात्रों की भावनाओं को भड़काया जाता है।

बिहार में ‘अग्निपथ’ योजना के विरुद्ध चल रहे विरोध प्रदर्शन में कोचिंग संस्थानों की बड़ी भूमिका सामने आई है। बिहार में अब तक 15 ट्रेनों को आग के हवाले किया जा चुका है। आगजनी, मारपीट और लूटपाट आम बात हो गई है। दुःखद ये है कि इन घटनाओं में आम युवा ही शामिल हैं। इस साजिश में कई कोचिंग संस्थानों के नाम सामने आ रहे हैं, जिनके बारे में कहा रहा है कि मंगलवार (21 जून, 2022) तक राज्य को जलाने की साजिश है।

‘दैनिक भास्कर’ ने अपने एक स्टिंग ऑपरेशन के बाद पाया है कि दिल्ली में बैठ कर बिहार में हिंसा की साजिश रची गई। दिल्ली में बैठे ये आका बिहार में कोचिंग संस्थानों को युवाओं को हिंसा के लिए तैयार करने को कहते हैं। इसके बाद वीडियो वगैरह का इस्तेमाल कर के युवाओं को भड़काया जाता है। खबर में बाजार समिति के एक स्कूल स्थित प्रशिक्षण केंद्र का जिक्र किया गया है, जहाँ एक कोचिंग संचालक के पहुँचते 25-30 लड़के और हाई जंप की प्रैक्टिस कर रही लड़कियाँ उसके पैर छूने लगीं।

उक्त शिक्षक से बात कर के और गाँधी मैदान में एक अन्य शिक्षक से बात कर के ‘दैनिक भास्कर’ ने इस नेटवर्क का खुलासा किया है। एक शिक्षक ने बताया कि प्रशिक्षण के बाद छात्रों को विरोध प्रदर्शनों में ले जाया जाता है। नालंदा और जहानाबाद जैसे इलाकों से छात्रों को पटना लाया जाता है। उसने ये भी बताया कि दिल्ली से नेटवर्क बना कर 3-4 लाख छात्रों को जोड़ा गया है। छात्रों को ब्रेनवॉश किया जाता है कि वो अब अपने हक़ के लिए खड़े नहीं हुए थे केंद्र से लेकर राज्य पुलिस तक में ऐसी ही योजना आ जाएगी। रोज सुबह प्रशिक्षण के बहाने उन्हें भड़काया जाता है।

वीडियो बना-बना कर केंद्र सरकार की योजनाओं का विरोध किया जाता है। देश भर में आत्महत्या के आँकड़े गिना कर और वीडियो दिखा कर छात्रों की भावनाओं को भड़काया जाता है। बिहार पुलिस ने बताया है कि हर जिले के एसपी को वहाँ के कोचिंग संस्थानों की भूमिका की जाँच के आदेश दिए गए हैं। छात्रों की आड़ में उपद्रवी हिंसा में शैल हो रहे हैं, जिसकी जाँच चल रही है। पटना के डीएम ने भी जाँच के आदेश दिए हैं।

बिहार के कई जिलों में 2 दिनों से इंटरनेट सेवाएँ बंद हैं। पटना के 5 कोचिंग सेंटर्स पर आगजनी की साजिश रचने के आरोप लगे हैं। उनके विरुद्ध FIR भी दर्ज की गई है। व्हाट्सएप्प चैट के माध्यम से छात्रों को उकसाने की बात भी सामने आई है। अकेले पटना में 8 कोचिंग सेंटरों की भूमिकाओं की जाँच चल रही है। राजस्थान के सीकर और मध्य प्रदेश के ग्वालियर में भी कोचिंग संस्थानों पर ही हिंसा की साजिश रचने के आरोप लगे हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

1 साल में बढ़े 80 हजार वोटर, जिनमें 70 हजार का मजहब ‘इस्लाम’, क्या याद है आपको मंगलदोई? डेमोग्राफी चेंज के खिलाफ असम के...

असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने तथ्यों को आधार बनाते हुए चिंता जाहिर की है कि राज्य 2044 नहीं तो 2051 तक मुस्लिम बहुल हो जाएगा।

5 साल में 123% तक बढ़ गए मुस्लिम वोटर, फैक्ट फाइडिंग रिपोर्ट से सामने आई झारखंड की 10 सीटों की जमीनी हकीकत: बाबूलाल का...

झारखंड की 10 विधानसभा सीटों के कई मुस्लिम बहुल बूथ पर 100% से अधिक वोटर बढ़ गए हैं। यह खुलासा भाजपा की एक रिपोर्ट में हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -