रिपब्लिक के पत्रकार के साथ धक्का-मुक्की कर चुकी है वामपंथियों को कोचिंग देने वाली ‘इंडिया टुडे’ की तनुश्री

तनुश्री ने ख़ुद स्वीकार किया था कि उन्होंने बाकी पत्रकारों से लड़ाई की थी। तब तनुश्री ने पत्रकारों के साथ धक्का-मुक्की को जायज ठहराते हुए कहा था कि वो 'अपने लोगों द्वारा किए गए अन्याय' को बर्दाश्त नहीं कर सकतीं।

रविवार (जनवरी 12, 2020) को ऑपइंडिया ने ‘इंडिया टुडे’ के पत्रकार के वायरल वीडियो को लेकर एक ख़बर प्रकाशित की थी। उस वीडियो में देखा जा सकता है कि पत्रकार तनुश्री पांडेय जेएनयू के सर्वर रूम में वामपंथी छात्रों को सिखाती हुई दिख रही हैं कि उन्हें कैमरे के सामने क्या बोलना है? अपने फ़र्ज़ी स्टिंग ऑपरेशन को लेकर ‘इंडिया टुडे’ पहले से ही विवादों में है। चैनल वामपंथी छात्रों को पीड़ित व निर्दोष साबित करने के लिए पूरा जोर लगा रहा है। चैनल ने 5 दिसंबर को जेएनयू में हुई हिंसा में एबीवीपी के छात्रों को दोषी साबित करने के लिए दिन-रात एक कर दिया है।

अब सामने आया है कि ‘इंडिया टुडे’ की तनुश्री पांडेय जेएनयू छात्र संगठन की अध्यक्ष आईसी घोष के साथ मिल कर ‘रिपब्लिक टीवी’ के पत्रकार के साथ धक्का-मुक्की की थी। पत्रकार तनुश्री, वामपंथी छात्र नेता आईसी व अन्य वामपंथी छात्रों ने ‘रिपब्लिक टीवी’ के पत्रकार के साथ सिर्फ़ इसीलिए धक्का-मुक्की की थी क्योंकि उसने कुछ सवाल पूछे थे। ये घटना नवंबर 20, 2019 की है, जब जेएनयू में हॉस्टल फी बढ़ाने को लेकर हंगामा चल रहा था।

इस सम्बन्ध में ‘टीवी 9 भारतवर्ष’ ने एक ख़बर दिखाई थी। इस ख़बर के अनुसार, जेएनयू छात्र न सिर्फ़ मीडिया के सवालों से भड़क गए बल्कि ‘मीडिया बाहर जाओ’ के नारे भी लगाने लगे। तब तनुश्री ने इस ख़बर को नकार दिया था। उन्होंने जेएनयू का बचाव करते हुए लिखा था कि प्रेस कॉन्फ्रेंस में ‘रिपब्लिक टीवी’ के पत्रकार और सुरेश चव्हाणके के गुंडों ने हंगामा किया था। उनका आशय ‘सुदर्शन टीवी’ के पत्रकारों से था। तनुश्री ने ख़ुद स्वीकार किया था कि उन्होंने बाकी पत्रकारों से लड़ाई की थी।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

तनुश्री ने पत्रकारों के साथ धक्का-मुक्की को जायज ठहराते हुए कहा था कि वो ‘अपने लोगों द्वारा किए गए अन्याय’ को बर्दाश्त नहीं कर सकतीं। ‘टीवी 9 भारतवर्ष’ के वीडियो में देखा जा सकता है कि आईसी घोष के साथ तनुश्री पांडेय भी हैं। वामपंथी छात्र नेता सन्नी धीमन ने तनुश्री की तारीफ करते हुए कहा था कि वो ‘गोदी मीडिया’ से लोहा लेने के लिए मज़बूरी से खड़ी रहीं। उसने तो यहाँ तक दावा किया था कि तनुश्री ने रिपब्लिक टीवी, ज़ी न्यूज़ और सुदर्शन न्यूज़ के पत्रकारों के साथ ‘लोहा लिया।’

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

सुब्रमण्यम स्वामी
सुब्रमण्यम स्वामी ने ईसाइयत, इस्लाम और हिन्दू धर्म के बीच का फर्क बताते हुए कहा, "हिन्दू धर्म जहाँ प्रत्येक मार्ग से ईश्वर की प्राप्ति सम्भव बताता है, वहीं ईसाइयत और इस्लाम दूसरे धर्मों को कमतर और शैतान का रास्ता करार देते हैं।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

154,435फैंसलाइक करें
42,730फॉलोवर्सफॉलो करें
179,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: