Tuesday, July 23, 2024
Homeराजनीतिजिस अडानी का नाम लेकर PM मोदी को घेरता है बेटा, निवेश के लिए...

जिस अडानी का नाम लेकर PM मोदी को घेरता है बेटा, निवेश के लिए उन्हीं के आगे बिछे पिता स्टालिन: Adani करेगा ₹42700 करोड़ इन्वेस्ट

अडानी समूह तमिलनाडु में 42,700 करोड़ रुपए निवेश करेगा। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन, राज्य के उद्योग मंत्री टीआरबी राजा और अडानी पोर्ट्स एवं विशेष आर्थिक क्षेत्र के एमडी करण अडानी के बीच हुई। बता दें कि DMK सरकार में मंत्री एवं मुख्यमंत्री स्टालिन के बेटे उदयनिधि स्टालिन अडानी का नाम लेकर अक्सर केंद्र की मोदी सरकार को घेरने की कोशिश करते रहते हैं।

अडानी समूह तमिलनाडु में 42,700 करोड़ रुपए निवेश करेगा। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन, राज्य के उद्योग मंत्री टीआरबी राजा और अडानी पोर्ट्स एवं विशेष आर्थिक क्षेत्र के एमडी करण अडानी के बीच हुई। बता दें कि DMK सरकार में मंत्री एवं मुख्यमंत्री स्टालिन के बेटे उदयनिधि स्टालिन अडानी का नाम लेकर अक्सर केंद्र की मोदी सरकार को घेरने की कोशिश करते रहते हैं।

दरअसल, तमिलनाडु की स्टालिन सरकार राज्य में निवेश के लिए उद्योगपतियों को आकर्षित करने के लिए तमिलनाडु ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट 2024 का आयोजन किया है। इस आयोजन में उद्योगपति गौतम अडानी की कंपनी को भी आमंत्रित किया गया था। इसी दौरान अडानी समूह की विभिन्न कंपनियों ने तमिलनाडु में 42,700 करोड़ रुपए निवेश करने के लिए सरकार के साथ समझौता किया।

इसमें अडानी टोटल गैस कंपनी 180 करोड़ रुपए निवेश करके राज्य के कुड्डालोर और तिरुप्पुर जिलों में 100 पाइपलाइन बिछाकर 5,000 से अधिक घरों में पाइप के जरिए गैस उपलब्ध कराएगी। इसके अलावा, अडानी समूह की ACC और अंबुजा सीमेंट भी यहाँ 550 करोड़ रुपए निवेश करेंगे। इससे 5 हजार लोगों को प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से रोजगार मिलेगा।

इतना ही नहीं, अडानी पोर्ट्स वर्तमान में राज्य के कट्टुपल्ली और एन्नोर बंदरगाह का संचालन करती है। कंपनी तिरुवल्लूर जिले में अब तक 3,733 करोड़ रुपए का निवेश कर चुकी है। अडानी समूह की यह कंपनी भी स्वच्छ ऊर्जा परियोजना के लिए 25,000 करोड़ रुपए का निवेश करेगी। इससे लगभग 4,500 लोगों को रोजगार मिलेगा।

बता दें कि तमिलनाडु के युवा एवं खेल मामलों के मंत्री उदयनिधि स्टालिन भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरने के लिए अक्सर अडानी समूह के मालिक गौतम अडानी का नाम लेते रहते हैं। उन्होंने पिछले साल दिसंबर के शुरुआत में कहा था कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश को अपने दोस्त अडानी के हाथों में सौंप दिया है।

एक तरफ अडानी के हाथों देश को बेचने का आरोप लगाने और दूसरी तरफ राज्य में निवेश के लिए अडानी समूह को बुलाने पर तमिलनाडु भाजपा के नेता ने DMK सरकार पर हमला बोला है। भाजपा के राष्ट्रीय सचिव सत्य कुमार ने अपने X हैंडल पर लिखा, “विडंबना ये है कि द्रमुक के नेता क्रोनी कैपिटलिज्म और पक्षपात की बात करते हैं!”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एंजेल टैक्स’ खत्म होने का श्रेय लूट रहे P चिदंबरम, भूल गए कौन लेकर आया था: जानिए क्या है ये, कैसे 1.27 लाख StartUps...

P चिदंबरम ने इसके खत्म होने का श्रेय तो ले लिया, लेकिन वो इस दौरान ये बताना भूल गए कि आखिर ये 'एंजेल टैक्स' लेकर कौन आया था। चलिए 12 साल पीछे।

पत्रकार प्रदीप भंडारी बने BJP के राष्ट्रीय प्रवक्ता: ‘जन की बात’ के जरिए दिखा चुके हैं राजनीतिक समझ, रिपोर्टिंग से हिला दी थी उद्धव...

उन्होंने कर्नाटक स्थित 'मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी' (MIT) से इलेक्ट्रॉनिक एवं कम्युनिकेशंस में इंजीनियरिंग कर रखा है। स्कूल में पढ़ाया भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -