Friday, July 30, 2021
Homeराजनीतिमहिला कॉन्ग्रेस उपाध्यक्ष ने ठेकेदार से ली रिश्वत, ₹1.25 लाख की दूसरी किस्त के...

महिला कॉन्ग्रेस उपाध्यक्ष ने ठेकेदार से ली रिश्वत, ₹1.25 लाख की दूसरी किस्त के साथ ACB ने धरा

ठेकेदार ने सुमन से कहा था कि वो उसे पैसे दे देगा, लेकिन फिर सड़क बनने के बाद घटिया सामग्री का मुद्दा नहीं उठना चाहिए। इस पर कॉन्ग्रेस पार्षद ने कहा था, "तू चिंता मत कर, मैं हूँ ना, बिल पास करवा दूँगी।"

राजस्थान कॉन्ग्रेस की महिला नेत्री को एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने राजधानी जयपुर से रिश्वत लेते गिरफ्तार किया। महिला कॉन्ग्रेस की प्रदेश उपाध्यक्ष और वार्ड पार्षद सुमन गुर्जर को 1 लाख 25 हजार रुपये की रिश्वत लेते पकड़ा गया। इसमें 50 हजार रुपए नकद और 75 हजार सेल्फ चेक के तौर पर था।

सुमन जयपुर नगर निगम के वार्ड नंबर 39 की पार्षद हैं। वह जयपुर नगर निगम की महिला उत्थान समिति की चेयरमैन भी हैं। सुमन गुर्जर को एसीबी की टीम ने जयपुर के सांगानेर स्थित उनके आवास से गिरफ्तार किया। पार्षद ठेकेदार से 50 हजार रूपए पहले भी ले चुकी थी।

एसीबी के महानिदेशक आलोक त्रिपाठी ने बताया कि सुमन गुर्जर अपने वार्ड में विकास कार्यों के एवज में ठेकेदार से 3 प्रतिशत कमीशन मॉंग रही थी। उन्होंने ठेकेदार से 1 लाख 75 हजार रुपए की रिश्वत माँगी थी। जिसके बाद ठेकेदार ने 50,000 रुपए की पहली किस्त दी। शुक्रवार (अक्टूबर 11, 2019) को रिश्वत की दूसरी किस्त 1 लाख 25 हजार रुपए देने के दौरान एसीबी की टीम ने रंगे हाथों सुमन गुर्जर को गिरफ्तार कर लिया। ठेकेदार ने इसकी शिकायत एसीबी से की थी। ठेकेदार ने सुमन से कहा था कि वो उसे पैसे दे देगा, लेकिन फिर सड़क बनने के बाद घटिया सामग्री का मुद्दा नहीं उठना चाहिए। इस पर कॉन्ग्रेस पार्षद ने कहा था, “तू चिंता मत कर, मैं हूँ ना, बिल पास करवा दूँगी।”

रिश्वतखोरी के मामले में गिरफ्तारी के बाद महिला कॉन्ग्रेस ने भी सुमन से किनारा कर लिया। जयपुर नगर निगम की पार्षद सुमन गुर्जर पर इस कार्रवाई के बाद महिला कॉन्ग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव के निर्देश पर महिला कॉन्ग्रेस की प्रदेशाध्यक्ष रेहाना रियाज चिश्ती ने गुर्जर को प्रदेश महिला कॉन्ग्रेस की उपाध्यक्ष पद से तुरंत प्रभाव से निष्कासित कर दिया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,052FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe