Saturday, July 13, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअल्लाह-हू-अकबर और नारा-ए-तकबीर के कब्जे में पाकिस्तान: आर्मी हेड-क्वॉर्टर पर हमला, जलाए जा रहे...

अल्लाह-हू-अकबर और नारा-ए-तकबीर के कब्जे में पाकिस्तान: आर्मी हेड-क्वॉर्टर पर हमला, जलाए जा रहे सेना/पुलिस के घर-सामान

इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान-तहरीक-ए-इंसाफ द्वारा अब तक के शेयर किए वीडियो के अनुसार पाकिस्तान के 27 शहरों में आगजनी और लूटमार मची हुई है।

पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की गिरफ्तारी के बाद से पाकिस्तान हिंसा की आग में जल रहा है। गिरफ्तारी के बाद इमरान की पार्टी PTI ने बड़े प्रदर्शन का ऐलान किया। अब लाहौर से लेकर रावलपिंडी और क्वेटा में हो रही हिंसक घटनाओं के वीडियो सामने आ रहे हैं। इमरान समर्थकों ने आर्मी हेडक्वार्टर में भी हमला किया है।

सामने आए वीडियो में लोगों को आर्मी हेडक्वार्टर में पत्थरबाजी और फिर लाठी डंडों से हमला करते देखा जा सकता है। इस दौरान लोगों को ‘नारा-ए-तकबीर, अल्लाह-हू-अकबर’ के नारे लगाते सुना जा सकता है।

लाहौर में स्थित कोर कमांडर हाउस पर भी तोड़-फोड़ और आगजनी की गई। कोर कमांडर हाउस पर हुए हमले का वीडियो सामने आया है। वीडियो में लोगों को “कहा था इमरान को न छेड़ना” और “इमरान खान को छोड़ो” कहते हुए सुना जा सकता है।

एक अन्य वीडियो को लेकर दावा किया जा रहा है कि इमरान समर्थकों की भीड़ ने कोर कमांडरों की कैंटीन में लूटपाट की है।

यही नहीं, इमरान की पार्टी पाकिस्तान-तहरीक-ए-इंसाफ के लोगों ने पाकिस्तान के सरकारी रेडियो की इमारत में भी आग लगा दी है। इसका वीडियो भी जमकर वायरल हो रहा है।

इसी तरह खैबर पख्तूनख्वा के विधानसभा भवन में भी तोड़फोड़ और पथराव हुआ है।

एक अन्य वीडियो पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI के ऑफिस का बताया जा रहा है। यहाँ भी सैकड़ों की संख्या में आए इमरान समर्थक पत्थरबाजी करते देखे गए।

एक फ़ोटो को लेकर दावा किया जा रहा है कि इमरान समर्थक की गोली मारकर हत्या कर दी गई है।

वहीं, PTI ने भी वीडियो शेयर किया है। इसमें पाकिस्तान के अलग-अलग हिस्सों में हो रहे प्रदर्शनों को दिखाया गया है। इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान-तहरीक-ए-इंसाफ द्वारा अब तक के शेयर किए वीडियो के अनुसार पाकिस्तान के 27 शहरों में आगजनी और लूटमार मची हुई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NITI आयोग की रिपोर्ट में टॉप पर उत्तराखंड, यूपी ने भी लगाई बड़ी छलाँग: 9 साल में 24 करोड़ भारतीय गरीबी से बाहर निकले

NITI आयोग ने सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स (SDG) इंडेक्स 2023-24 जारी की है। देश में विकास का स्तर बताने वाली इस रिपोर्ट में उत्तराखंड टॉप पर है।

लैंड जिहाद की जिस ‘मासूमियत’ को देख आगे बढ़ जाते हैं हम, उससे रोज लड़ते हैं प्रीत सिंह सिरोही: दिल्ली को 2000+ मजार-मस्जिद जैसी...

प्रीत सिरोही का कहना है कि वह इन अवैध इमारतों को खाली करवाएँगे। इन खाली हुई जमीनों पर वह स्कूल और अस्पताल बनाने का प्रयास करेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -