Wednesday, February 24, 2021
Home रिपोर्ट अंतरराष्ट्रीय उइगरों के शोषण को अमेरिका ने बताया चिंताजनक: कहा- अंतरराष्ट्रीय जाँचकर्ताओं को आने दे...

उइगरों के शोषण को अमेरिका ने बताया चिंताजनक: कहा- अंतरराष्ट्रीय जाँचकर्ताओं को आने दे चीन, वरना भुगतने होंगे गंभीर परिणाम

संयुक्त राज्य अमेरिका का कहना है कि चीन को अंतरराष्ट्रीय जाँचकर्ताओं को वहाँ जाने की अनुमति देनी होगी और इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं।

चीन के शिनजियांग प्रांत में मुस्लिम महिलाओं के साथ हो रहे अमानवीय बर्ताव को लेकर संयुक्त राज्य अमेरिका चिंतित नजर आ रहा है। हाल ही में एक खबर सामने आई थी कि वहाँ किस तरह री-एड्यूकेशन के नाम पर उइगर महिलाओं का एक सिस्टम के तहत बलात्कार किया जाता है और कैसे शी जिनपिंग के नेतृत्व में चीन का मकसद किसी समुदाय में कोई सुधार करना नहीं, बल्कि उन्हें पूरी तरह बर्बाद करना है।

अमेरिका के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता का इन महिलाओं पर हो रहे अत्याचार पर कहना है कि ये जानकारियाँ परेशान करने वाली हैं। उन्होंने इन डिटेंशन कैम्प में नियोजित तरीके से उइगर व अन्य मुस्लिम महिलाओं पर होने वाले यौन शोषण को घोर अमानवीय बताया है। प्रवक्ता ने कहा कि अमेरिका पहले ही शिनजियांग प्रांत की घटनाओं को मानवता के खिलाफ और नरसंहार की संज्ञा दे चुका है।

संयुक्त राज्य अमेरिका का कहना है कि चीन को अंतरराष्ट्रीय जाँचकर्ताओं को वहाँ जाने की अनुमति देनी होगी और इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं। अमेरिका अपने सहयोगी देशों के साथ मिलकर कम्युनिस्ट राष्ट्र के खिलाफ कोई सख्त कदम उठाने पर विचार कर रहा है। इससे पहले, अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति चीन की इस प्रवृत्ति के कारण उस पर पहले ही कई प्रकार के प्रतिबंध आरोपित कर चुके हैं।

इस मामले को लेकर, अमेरिका में चायनीज कम्युनिस्ट पार्टी (CCP) के जबरदस्ती जनसंख्या नियंत्रण प्रयासों और शिनजियांग उइगर क्षेत्र में मानवाधिकारों के हनन के बारे में संयुक्त राज्य के कानून मंत्री एंटनी ब्लिन्केन और सुलिवन के पास 45 कानूनविदों ने लिखित रूप में चिंता व्यक्त की है।

इन सदस्यों ने लिखा, “इसमें कोई संदेह नहीं है कि चीन संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए सबसे महत्वपूर्ण चुनौतियों में से एक है। इस चुनौती का सामना करने के प्रशासन के प्रयास के तहत, हम आपसे शिनजियांग में चल रहे नरसंहार के लिए चीनी सरकार को जवाबदेह ठहराने का आग्रह करते हैं। यह सभी लोगों के लिए जीवन, मानव गरिमा और धार्मिक स्वतंत्रता के अधिकारों के लिए।”

वहीं, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बायडेन ने भी बृहस्पतिवार को जरी एक बयान में कहा कि वो चीन की विभिन्न क्षेत्र में की जा रही मनमानियों और गुस्ताखियों पर फैसला लेगा लेकिन जहाँ अमेरिका को फायदा होगा, वो उसे भी प्रभावित नहीं होने देंगे। बायडेन सरकार के रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन को लिखे एक पत्र में, सीनेटर रिक स्कॉट ने लिखा है कि कम्युनिस्ट चीन की धमकी पेंटागन के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए।

सीनेटर स्कॉट ने ऑस्टिन को लिखा, “कम्युनिस्ट चीन निस्संदेह हमारे सबसे बड़े दुश्मन हैं और उन्हें इस तरह से माना जाना चाहिए। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (सीसीपी) ने उइगरों के खिलाफ नरसंहार की नीति, अमेरिकी तकनीक की चोरी, अपनी सैन्य उपस्थिति और संयुक्त राज्य अमेरिका की सुरक्षा को खतरा पैदा करने के लिए खतरनाक कार्रवाई की हैं। इसके सहयोगियों को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता है।”

गौरतलब है कि इससे पूर्व, चीन द्वारा ट्रंप सरकार में विदेश मंत्री रहे माइक पोंपियो के उइगर मुस्लिमों पर अत्याचार के संबंध में दिए गए बयान को ‘रद्दी कागज’ बताया था। चीन ने इन तमाम बातों को निराधार बताते हुए कहा था कि पोंपियो का शिनजियांग प्रांत में अल्पसंख्यक मुस्लिमों पर अत्याचार का आरोप दुर्भावना से और महज सनसनी फैलाने के लिए दिया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बंगाल: PM मोदी ने जिस मैदान में रैली की, TMC नेताओं ने वहाँ किया गंगाजल छिड़ककर ‘शुद्धिकरण’

PM मोदी ने सोमवार को हुगली के जिस मैदान में जनसभा को संबोधित किया था वहाँ रैली के अगले ही दिन TMC के कार्यकर्ताओं ने जाकर गंगाजल छिड़का और उसका 'शुद्धिकरण' किया।

वोटर समझदार होता है, हमें उनका सम्मान करना चाहिए: राहुल के उत्तर-दक्षिण वाले बयान पर कॉन्ग्रेस नेता कपिल सिब्बल

राहुल गाँधी के बयान पर कॉन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि हमें मतदाताओं का सम्मान करना चाहिए, चाहे वो उत्तर से हो या दक्षिण से, वोटर्स समझदार होते हैं।

कर्नाटक: चलती बस में छात्रा को छेड़ने वाला अरबी स्कूल का शिक्षक मोहम्मद सैफुल्ला गिरफ्तार

कर्नाटक की उप्पिनंगडी पुलिस ने 32 वर्षीय अरबी शिक्षक मोहम्मद सैफुल्ला को बस में एक छात्रा के साथ यौन उत्पीड़न के आरोप में में गिरफ्तार किया है।

बंगाल: फ्री वैक्सीन बाँटने के लिए दीदी ने ‘दंगाबाज’ मोदी से माँगी मदद, भाषण में उगला जहर

ममता ने एक ओर पीएम मोदी से वैक्सीन के लिए मदद माँगी है और दूसरी ओर पीएम मोदी व अमित शाह को रावण-दानव तक करार देते हुए 'दंगाबाज' बताया।

महाराष्ट्र कॉन्ग्रेस ने मुस्लिम और मराठा आरक्षण के समर्थन में किया प्रस्ताव पारित

महाराष्ट्र कॉन्ग्रेस की संसदीय समिति की एक बैठक ने राज्य में मुस्लिम और मराठा आरक्षण के समर्थन में एक प्रस्ताव पारित किया है।

UP: लव-जिहाद के खिलाफ विधेयक विधानसभा में ध्वनि मत से पास, नाम बदलकर निकाह करने वालों के ‘अच्छे दिन’ समाप्त

उत्तर प्रदेश विधानसभा में 'लव जिहाद' के खिलाफ कानून यानी, उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध विधेयक-2021 ध्वनिमत से पारित हो गया है।

प्रचलित ख़बरें

ई-कॉमर्स कंपनी के डिलीवरी बॉय ने 66 महिलाओं को बनाया शिकार: फीडबैक के नाम पर वीडियो कॉल, फिर ब्लैकमेल और रेप

उसने ज्यादातर गृहणियों को अपना शिकार बनाया। वो हथियार दिखा कर रुपए और गहने भी छीन लेता था। उसने पुलिस के समक्ष अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

मोहम्मद फिरोज 2 महीने से कर रहा था 16 साल की बेटी का रेप, हुई गर्भवती: पीड़िता की माँ करती थी वहीं मजदूरी

मोहम्मद फ़िरोज़ लगभग दो महीने से लगातार नाबालिग का बलात्कार कर रहा था। आरोपित ने पीड़िता की माँ को धमकी भी दी कि...

महिला ने ब्राह्मण व्यक्ति पर लगाया था रेप का झूठा आरोप: SC/ST एक्ट में 20 साल की सज़ा के बाद हाईकोर्ट ने बताया निर्दोष

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा, "पाँच महीने की गर्भवती महिला के साथ किसी भी तरह की ज़बरदस्ती की जाती है तो उसे चोट लगना स्वाभाविक है। लेकिन पीड़िता के शरीर पर इस तरह की कोई चोट मौजूद नहीं थी।”

उन्नाव मर्डर केस: तीसरी लड़की को अस्पताल में आया होश, बताई वारदात से पहले की हकीकत

विनय ने लड़कियों को कीटनाशक पिलाकर बेहोश किया और बाद में वहाँ से चला गया। बेहोशी की हालत में लड़कियों के साथ किसी तरह के सेक्सुअल असॉल्ट की बात सामने नहीं आई है।

‘आप दोनों बंगाल और महाराष्ट्र को अलग देश घोषित कर PM बन जाएँ, भारत से लें आज़ादी’: SFJ की ममता और उद्धव को सलाह

"आप दोनों (ममता और उद्धव) के पास क्षमता है कि आप पश्चिम बंगाल और महाराष्ट्र को अलग-अलग देश घोषित करें। अभी आप मुख्यमंत्री हैं, लेकिन ऐसा होते ही आप दोनों अपने-अपने देशों के प्रधानमंत्री बन जाएँगे।"

धराया लईक खान, जबरन निकाह से मना करने पर नीतू के सिर और चेहरे पर हथौड़े से किया था 1 दर्जन वार

दिल्ली के बेगमपुर में निकाह से मना करने पर नीतू नाम की 17 वर्षीय लड़की की हत्या करने वाले लईक खान को पुलिस ने गिरफ्तार करने में कामयाबी पाई।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

291,795FansLike
81,850FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe