Thursday, July 18, 2024
Homeफ़ैक्ट चेकराजनीति फ़ैक्ट चेक'दम भर मार खाए' किसान की कहानी, जिसे देख रोने लगीं पहलवान साक्षी मलिक,...

‘दम भर मार खाए’ किसान की कहानी, जिसे देख रोने लगीं पहलवान साक्षी मलिक, AAP वाले संजय सिंह भी लाइन में… 4 साल पुराने फोटो से जानिए क्या है सच

2023 में किया गया ट्वीट। फोटो 2 से 4 साल पुराना। तो पहलवान साक्षी मलिक, आम आदमी पार्टी वाला सांसद संजय सिंह और रेडियो मिर्ची वाली जॉकी सायमा… इन लोगों ने ट्वीट किसके लिए किया, क्यों किया? ट्वीट कब-कब किया गया... क्रोनोलॉजी भी समझिए।

7 जून 2023 को एक ट्वीट वायरल होता है। ट्वीट में 3 फोटो है। मार खाया हुआ शख्स है। बदन पर चोट के निशान हैं। पहलवान साक्षी मलिक (Sakshee Malikkh) के इस ट्वीट से पता चलता है कि मार खाया शख्स किसान है। फोटो देख कर दुख इतना कि उनकी आँखें नम हो गईं।

रेडियो मिर्ची में एक औरत काम करती है। नाम है सायमा। पहलवान साक्षी मलिक के ट्वीट को रिट्वीट करके लिखती हैं – कितनी शर्म की बात है!

आम आदमी पार्टी के नेता और राज्य सभा सांसद संजय सिंह भी एक ट्वीट करते हैं। 2 फोटो वाला ट्वीट। वो लिखते हैं कि फोटो भारत के अन्नदाता की है। इन पर हरियाणा की खट्टर सरकार ने जानलेवा हमला किया क्योंकि ये अनाज का दाम माँग रहे थे।

साक्षी मलिक (Sakshee Malikkh) 7 जून 2023 को 8:48 बजे रात में ट्वीट करती हैं। सायमा का रिट्वीट होता है उसी रात 9:02 बजे। AAP सांसद संजय सिंह का ट्वीट आता है रात के 9:51 पर। आप क्रोनोलॉजी समझिए।

कौन किसान मार खाया, कब की है घटना?

7 जून 2023 के बाद चलते हैं 17 जून 2019 को। आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह का एक ट्वीट देखिए। किसी पलंग पर बैठे हैं। उनके साथ में 3 आदमी और एक बच्चा भी है। संजय सिंह के अलावे उसी तारीख में @SikhSangarsh नामक ट्विटर हैंडल वाले का भी ट्वीट देखिए।

अब दोनों ट्वीट का मिलान कर लेते हैं। जो ट्वीट साल 2023 में किया गया, उससे साल 2019 में किए गए ट्वीट का। जिस मार खाए किसान की कहानी 2019 में बताई गई, उसके चेहरे को मिला लेते हैं अभी वाली कहानी से।

पहलवान साक्षी मलिक (Sakshee Malikkh) और आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह के ट्वीट में पगड़ी पहने इंसान के अलावे भी एक शख्स है। वो शख्स जिसके सिर से खून बह रहा है।

यह शख्स कौन है? 2 साल पीछे चलते हैं। 29 अगस्त 2021 का दिन। ‘छोटा-मोटा गंवई पत्रकार’ मनदीप पूनिया एक ट्वीट करता है। सेम-टू-सेम यही आदमी, यही घाव।

साक्षी मलिक, संजय सिंह, सायमा… सब ने फैलाया झूठ

क्रोनोलॉजी समझ गए। 2 से 4 साल पुराने ट्वीट से मिलान भी कर लिए। तो पहलवान साक्षी मलिक, आम आदमी पार्टी वाला सांसद संजय सिंह और रेडियो मिर्ची वाली जॉकी सायमा… इन लोगों ने ट्वीट किसके लिए किया, क्यों किया?

अब इस लाइन का कोई मतलब नहीं, फिर भी इतिहास में दर्ज करने के लिए लिख देना अच्छा है कि इन तीनों ने झूठ फैलाया। तीनों का मकसद भी सेम-टू-सेम: भाजपा सरकार को बदनाम करना। हुआ लेकिन उल्टा, खुद ही झूठ की टट्टी में सन गए!

वैसे आपको बता दें कि रेडियो मिर्ची की RJ सायमा वही शख्स हैं, जिसने दिल्ली पुलिस मुख्यालय के बाहर भीड़ जुटाने के लिए उस समय ट्वीट किया था, जब दिल्ली जल रही थी, जामिया के बाहर बसों में आग लगाई जा रही थी। सोशल मीडिया पर लोग हर हमेशा आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह को सिनेमा हॉल के बाहर ब्लैक में टिकट बेचने वाला कह कर मजे लेते हैं। एक बार तो यहाँ तक कहा जा चुका है कि इनकी अपनी ही पार्टी के दलित कार्यकर्ताओं ने इनकी पिटाई करके मुँह काला किया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -