Tuesday, July 16, 2024
Homeफ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया फ़ैक्ट चेकPM मोदी के अंडर काम करने वाला IAS, दूरदर्शन/प्रसार भारती का था CEO... अब...

PM मोदी के अंडर काम करने वाला IAS, दूरदर्शन/प्रसार भारती का था CEO… अब प्रधानमंत्री की फेक फोटो से फैला रहा झूठ

सरकार द्वारा शेयर की गई तस्वीर में नरेंद्र मोदी, नीता अंबानी के आगे सिर झुकाकर हाथ जोड़कर खड़े दिखाई दे रहे हैं। जबकि हकीकत में फोटोशॉप की गई तस्वीर पीएम मोदी की दीपिका मंडल के साथ हुई मीटिंग की है।

प्रसार भारती के पूर्व सीईओ जवाहर सरकार ने सोमवार (जून 7, 2021) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधने के लिए एक फोटोशॉप की गई तस्वीर को शेयर किया। फर्जी तस्वीर के जरिए सिरकार ने बताना चाहा कि कैसे देश के पीएम अपने दोस्तों के साथ इतने विनम्र हो जाते हैं कि उनके आगे हाथ जोड़ लेते हैं।

सरकार ने तंज भरे अंदाज में लिखा, “काश साथी सांसद और राजनीति में अन्य लोगों को भी उनके हमेशा भौह चढ़ाने वाले पीएम से ऐसा शिष्टाचार और खुशमिजाजी मिलती। एक परिपक्व लोकतंत्र में, हम दोतरफा संबंध, अहसान, लेन-देन को जानेंगे। किसी दिन इतिहास हमें बताएगा।”

सरकार द्वारा शेयर की गई तस्वीर में नरेंद्र मोदी, नीता अंबानी के आगे सिर झुकाकर हाथ जोड़कर खड़े दिखाई दे रहे हैं। जबकि हकीकत में फोटोशॉप की गई तस्वीर पीएम मोदी की दीपिका मंडल के साथ हुई मीटिंग की है। दीपिका एक ‘दिव्य ज्योति कल्चरल ऑर्गनाइजेशन एंड वेल्फेयर सोसायटी’ नाम की एनजीओ को चलाती हैं।

यह पहली बार नहीं है कि ये फोटो सोशल मीडिया पर झूठ बोलकर शेयर की जा रही हो। साल 2015 से ये तस्वीर वायरल हो रही है। इससे पहले ये दावे किए गए थे कि तस्वीर में नजर आने वाली महिला गौतम अडानी की पत्नी प्रीति अडानी हैं।

आज इस तस्वीर को लेकर दोबारा चर्चा शुरू हुई हैं। सरकार की सोशल मीडिया एक्टिविटी देखकर पता चलता है कि ये कोई अंजाने में हुई गलती नहीं है बल्कि मंशा के साथ झूठ फैलाया गया।

दरअसल, सरकार ने अपने ट्वीट पर आए फैक्ट चेक्स को हाइड किया हुआ है। इसमें यूजर ने उन्हें बताया है कि कैसे उनके द्वारा फैलाई जा रही खबर झूठी है। इस हरकत से साफ पता चलता है कि उन्हें मालूम था कि ये इमेज फर्जी है लेकिन वह फिर भी उसे आगे बढ़ाते रहे।

ट्वीट्स के हिडेन रिप्लाई में दिख रहा था कि जवाहर ने उन सारे जवाबों को हाइड कर दिया है जिन्होंने उनके झूठ की पोल खोली और बताया कि वो प्रोपगेंडा चला रहे हैं।

बता दें कि हमारे रिपोर्ट लिखते समय तक सरकार ने अपने अकॉउंट से इस फेक इमेज वाला ट्वीट डिलीट कर दिया है। अब सोशल मीडिया पर सिर्फ इसके स्क्रीनशॉट शेयर हो रहे हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -