Sunday, July 21, 2024
Homeफ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया फ़ैक्ट चेकराजस्थान में भगवा ध्वज फाड़ने वाले कॉन्ग्रेस MLA को लोगों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा: वायरल...

राजस्थान में भगवा ध्वज फाड़ने वाले कॉन्ग्रेस MLA को लोगों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा: वायरल वीडियो का FactChek

कहा जा रहा है कि वीडियो में जिस शख्स को पिटा जा रहा है वह कॉन्ग्रेस विधायक हैं और उन्होंने कुछ दिन पहले जयपुर में भगवा ध्वज को फाड़ दिया था। इसलिए लोग विधायक को दौड़ा-दौड़ा कर पीट रहे हैं।

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दिख रहा है कि लाठी-डंडा लिए भीड़ एक शख्स को दौड़ा-दौड़ाकर पीट रही है। कहा जा रहा है कि वीडियो में जिस शख्स को पिटा जा रहा है वह कॉन्ग्रेस विधायक हैं और उन्होंने कुछ दिन पहले जयपुर में भगवा ध्वज को फाड़ दिया था। इसलिए लोग विधायक को दौड़ा-दौड़ा कर पीट रहे हैं।

क्या है सच?

इस वायरल वीडियो का सच जानने के लिए ऑपइंडिया ने वीडियो को रिवर्स सर्च किया। रिजल्ट में हमें नीचे दिया गया वीडियो यूट्यूब चैनल पर मिला। इसके टाइटल में लिखा है, “पूर्व विधायक रामकेश मीणा को गंगापुर सिटी में दौड़ा दौड़ाकर पीटा।”

इस दौरान पता चला कि इस वीडियो को 10 अप्रैल 2018 को अपलोड हुआ था। जब हमने इससे संबंधित कीवर्ड को सर्च किया तो इस वायरल वीडियो से जुड़ी न्यूज़ हमें न्यूज 18 की वेबसाइट पर मिली।

इसमें खबर में बताया गया है, “2 अप्रैल को किए गए भारत बंद के दौरान सवाई माधोपुर जिले के गंगापुर सिटी कस्बे का उपद्रव भले ही शांत हो गया है, लेकिन गंगापुर सिटी के पूर्व विधायक रामकेश मीणा की उपद्रवियों द्वारा की गई पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में उपद्रवी रामकेश मीणा को दौड़ा-दौड़ा कर पीटते हुए दिखाई दे रहे हैं।”

यह खबर 7 अप्रैल को पब्लिश की गई थी। इस खबर में राजस्थान के गंगापुर सिटी की घटना का जिक्र है, जिसमें भारत बंद के दौरान हुई वारदात के बारे में बताया गया है। खबर में कहा गया है कि 2 अप्रैल को भारत बंद का आयोजन किया था। उसी दौरान सवाई माधोपुर जिले के गंगापुर सिटी के पूर्व विधायक रामकेश मीणा को उपद्रवियों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीट दिया। उस घटना का वीडियो खूब वायरल हुआ था।

उसी वीडियो को ‘भगवा झंडे का अपमान करने के बाद भीड़ द्वारा पिटाई’ बताकर फैलाया जा रहा है। ऑपइंडिया की जाँच में यह वायरल वीडियो में किया गया दावा झूठा पाया गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

काशी विश्वनाथ मंदिर और महाकालेश्वर मंदिर परिसर के दुकानदारों को लगाना होगा नेम प्लेट: बिहार के बोधगया की दुकानों में खुद ही लगाया बोर्ड,...

उत्तर प्रदेश के बाद मध्य प्रदेश के महाकालेश्वर मंदिर परिसर में स्थित दुकानदारों को अपना नेम प्लेट लगाने का आदेश दिया गया है।

‘मध्य प्रदेश और बिहार में भी काँवर यात्रा मार्ग में ढाबों-ठेलों पर लिखा हो मालिक का नाम’: पड़ोसी राज्यों में CM योगी के फैसलों...

रमेश मेंदोला ने कहा कि नाम बताने में दुकानदारों को शर्म नहीं बल्कि गर्व होना चाहिए। हरिभूषण ठाकुर बचौल बोले - विवादों से छुटकारा मिलेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -