Wednesday, July 17, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयजयशंकर से टकराकर चित हुआ आतंकवाद का हर तरफदार, हिना-बिलावल-पत्रकार सबको 'साँप' सूँघा: बौखलाहट...

जयशंकर से टकराकर चित हुआ आतंकवाद का हर तरफदार, हिना-बिलावल-पत्रकार सबको ‘साँप’ सूँघा: बौखलाहट में PM मोदी पर पाकिस्तानी मंत्री का निजी अटैक

विदेश मंत्री जयशंकर ने हिना रब्बानी को अमेरिका की तत्कालीन विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन का एक दशक पुराना बयान याद दिलाया। साल 2011 में पाकिस्तान के दौरे पर गईं हिलेरी क्लिंटन ने कहा था, "अगर अपने घर में साँप पालोगे तो यह उम्मीद मत करना कि वो सिर्फ पड़ोसियों को काटेगा। वह आपको और आपके लोगों को भी काटेगा।"

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में पाकिस्तान द्वारा कश्मीर का मुद्दा उठाने पर भारत द्वारा लताड़े जाने के बाद भी अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहा है। आतंकवाद को लेकर एक बार फिर भारत ने पाकिस्तान को आइना दिखाया है। सार्वजनिक मंच पर दुनिया के सामने पोल खुलने पर पाकिस्तान अब अनाप-शनाप बक रहा है।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जारदारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) पर आपत्तिजनक टिप्पणी की है। बिलावल ने कहा, “मैं भारत को बताना चाहता हूँ कि ओसामा बिन लादेन तो मर चुका है, लेकिन ‘गुजरात का कसाई’ अभी जिंदा है और वह भारत का प्रधानमंत्री है।”

बिलावल ने कहा कि प्रधानमंत्री बनने से पहले अमेरिका ने उनकी एंट्री पर प्रतिबंध लगा दिया था। बिलावल भुट्टो दो कदम आगे बढ़ते हुए यहाँ तक कह दिया कि पीएम मोदी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के प्रधानमंत्री हैं और जयशंकर RSS के विदेश मंत्री। उन्होंने कहा कि भारत सरकार हिटलर की विचारधारा से प्रभावित है और पाकिस्तान में आतंकवाद को बढ़ावा दे रही है।

बता दें कि बिलावल ने कश्मीर और आतंकवाद का मुद्दा उठाया था, तब भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर (S Jaishankar) ने पाकिस्तान पर करारा हमला करते हुए कहा था कि जो आतंकी ओसामा बिन लादेन की मेजबानी करता हो, पड़ोसी देश की संसद पर हमला करता हो वो संयुक्त राष्ट्र में उपदेशक बन रहा है।

विदेश मंत्री जयशंकर ने UNSC में ‘ग्लोबल काउंटर टेररिज्म अप्रोच, चैलेंज एंड वे फारवर्ड’ की अध्यक्षता करते हुए पाकिस्तान पर फिर निशाना साधा। उन्होंने पाकिस्तान को आतंकवाद का केंद्र बताया और कहा कि वह अभी भी इन गतिविधियों में लिप्त है।

इस बार विदेश मंत्री जयशंकर ने पाकिस्तान के विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो को ही सिर्फ नहीं धोया, बल्कि पाकिस्तान की विदेश राज्यमंत्री हिना रब्बानी खार और वहाँ के पत्रकारों को भी अच्छे से धो डाला।

हिना रब्बानी खार ने भारत पर आरोप लगाया कि वह पाकिस्तान में आतंकवाद को सपोर्ट कर रहा है। इस पर विदेश मंत्री जयशंकर ने उन्हें अमेरिका की तत्कालीन विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन का एक दशक पुराना बयान याद दिलाया। साल 2011 में पाकिस्तान के दौरे पर गईं हिलेरी क्लिंटन ने कहा था, “अगर अपने घर में साँप पालोगे तो यह उम्मीद मत करना कि वो सिर्फ पड़ोसियों को काटेगा। वह आपको और आपके लोगों को भी काटेगा।”

हिलेरी क्लिंटन का यह बयान पाकिस्तान द्वारा पोषित आतंकवाद के संदर्भ में था। हिलेरी क्लिंटन ने सीधे शब्दों में पाकिस्तान को एक तरह से चेतावनी दी थी कि वह आतंकवाद को पालना बंद कर दे, नहीं तो एक दिन वह उसे भी नहीं छोड़ेगा। आज पाकिस्तान में वही हो रहा है, जिसको लेकर हिलेरी क्लिंटन ने चेतावनी दी थी।

पाकिस्तान को आईना दिखाते हुए जयशंकर ने कहा कि दुनिया बेवकूफ नहीं है। आज वह आतंकवाद फैलाने वाले देशों और संगठनों के बारे में अच्छी तरह से जानती है। दुनिया पाकिस्तान को आतंकवाद के केंद्र के रूप में जानती है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को सही सलाह अच्छी नहीं लगती, लेकिन उसे ये सब छोड़कर एक अच्छा पड़ोसी बनने की कोशिश करना चाहिए।

इसी तरह जयशंकर ने पाकिस्तान के एक पत्रकार को भी लताड़ लगाई। UNSC मे ब्रीफिंग के दौरान एक पाकिस्तानी पत्रकार ने पूछा कि आतंकवाद कब खत्म होगा? इस पर जयशंकर ने कहा, “आप ये सवाल गलत मंत्री से कर रहे हैं। आपको ये सवाल पाकिस्तान के मंत्रियों से करना चाहिए। वो ही बताएँगे कि ये सब कब खत्म होगा या कब तक वो आतंकवाद को बढ़ावा देने का इरादा रखते हैं।”

जयशंकर ने कहा कि आज दुनिया भर में आतंकवाद गंभीर रूप से चुका है, लेकिन इससे दशकों पहले से ही भारत इसका सामना कर रहा है। आतंकवाद के कारण भारत में हजारों निर्दोष लोगों ने अपनी जान गँवा दी। उन्होंने कहा कि आतंकियों की भर्ती, टेरर फंडिंग, जवाबदेही एवं उनके कार्य करने के तरीके सुनिश्चित करना और आतंकवाद का मुकाबला करने में दोहरे मानदंडों के कारण इस पर काबू पाना चुनौती बना हुआ है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘228 किलो सोना चोरी होने का सबूत दें शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद, या जाएँ कोर्ट’: मंदिर समिति की दो टूक, पूछा – कॉन्ग्रेस के एजेंडे को...

अजेंद्र अजय ने कहा कि सीएम धामी से साधु-संतों और जनप्रतिनिधियों ने अनुरोध किया था, ऐसे में वो धार्मिक कार्यक्रम में सम्मिलित हुए, इसमें सरकारी पैसा नहीं लगा है ।

कर्नाटक में कॉन्ग्रेस सरकार के ‘लोकल कोटा’ पर उठे सवाल, उद्योगपति बोले- प्राइवेट सेक्टर में कन्नड़ भाषियों को रिजर्वेशन भेदभावपूर्ण, बिल रद्द करें

कर्नाटक में निजी नौकरियों में कन्नड़ लोगों को 50-75% आरक्षण देने का निर्णय कारोबारी समुदाय को रास नहीं आया है। उन्होंने इसकी आलोचना की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -