Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजराजस्थान: सहेली की मदद से नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म, पुलिस ने किया...

राजस्थान: सहेली की मदद से नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म, पुलिस ने किया मामला दर्ज

9वीं कक्षा में पढ़ने वाली नाबालिग पीड़िता की दोनों सहेलियों ने ही आरोपितों का साथ देकर उसे इस जाल में फँसा दिया। जिसके बाद वह लगातार रेप का शिकार बनती रही और उसके साथ गैंगरेप भी हुआ।

राजस्थान के जालौर जिले से एक बेहद ही शर्मसार करने वाला सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आरोपितों ने इस घिनौनी वारदात को अंजाम देने के लिए पीड़िता के दो सहेलियों का भी इस्तेमाल किया।

9वीं कक्षा में पढ़ने वाली नाबालिग पीड़िता की दोनों सहेलियों ने ही आरोपितों का साथ देकर उसे इस जाल में फँसा दिया। जिसके बाद वह लगातार रेप का शिकार बनती रही और उसके साथ गैंगरेप भी हुआ।

जानकारी के मुताबिक पीड़िता के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपितों के नाम संपतराम, नरेश कुमार मेघवाल और शिवा चौधरी है। इसके अलावा पीड़िता की दोनों सहेलियों को भी आरोपित बनाया गया है।

जालौर जिले के रानीवाड़ा थाना इलाके में पीड़िता के पिता ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है। इस रिपोर्ट के मुताबिक तकरीबन एक महीने पहले मुख्य आरोपित संपतराम ने पीड़िता के सहेलियों के माध्यम से उसे मोबाइल दिया था।

इसके बाद संपतराम ने नाबालिग पीड़िता को बहला-फुसलाकर उसके साथ संबंध बनाकर फोटो और वीडियो बना लिया। फिर उसने उसे इसे वायरल करने की धमकी देकर लगातार उसके साथ रेप किया और फिर एक दिन उसने अपने दो और साथियों नरेश कुमार मेघवाल और शिवा चौधरी के साथ मिलकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की घिनौनी वारदात को अंजाम दिया।

पीड़िता के पिता द्वारा दर्ज कराए गए रिपोर्ट आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है। थानाधिकारी मिट्ठू लाल ने बताया कि पॉक्सो एक्ट के अंतर्गत गैंगरेप का मामला दर्ज कर लिया है और आगे की जाँच की जा रही है। जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर सजा दी जाएगी।

गौरतलब है कि पिछले दिनों राजस्थान में 22 साल की एक युवती को एक महीने तक नशे की हालत में रखा गया और फिर अलग-अलग जगहों पर ले जाकर 5-6 लोगों ने गैंगरेप किया था। पीड़िता ने इस घिनौनी वारदात के लिए अपने मामा परवेज मुन्सर्फ को जिम्मेदार ठहराया था।

पीड़िता ने बताया था कि उसका मामा ही उसे अलग-अलग जगहों पर ले जाकर उसका गैंंगरेप करवाता था। वहीं राजस्थान के भिलवाड़ा में 15 साली की एक बच्ची का 3 लोगों ने शराब के नशे में अपहरण करके गैंगरेप किया

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,363FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe