Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाजअपनी लड़की को खोजना छोड़ दो, वर्ना जिंदा जला देंगे: विशाल बन हिंदू लड़की...

अपनी लड़की को खोजना छोड़ दो, वर्ना जिंदा जला देंगे: विशाल बन हिंदू लड़की को फँसाने वाले अकलीन कुरैशी की धमकी

अभी तक सभी आरोपित पुलिस की पहुँच से बाहर हैं। शाही थाने के प्रभारी सौरभ सिंह के मुताबिक, युवती कहाँ और किन हालात में है अभी तक पता नहीं चल सका है।

उत्तर प्रदेश के बरेली जिले के शाही कस्बे में बीए सेकेंड ईयर में पढ़ने वाली हिंदू छात्रा से नजदीकी बढ़ाकर अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल करने और फिर उसका अपहरण करने का मामला सामने आया है। आरोपित अकलीम कुरैशी ने सबसे पहले खुद को विशाल बताकर लड़की के साथ नजदीकियाँ बढ़ाईं, उसके बाद पीड़िता का अपहरण कर लिया। उसने युवती की खोजबीन कर रहे परिजनों को दूर रहने की धमकी देते हुए जिंदा जलाने की धमकी दी है।

हालाँकि, जब छात्रा उसके ब्लैकमेलिंग और धमकियों के आगे नहीं झुकी तो एक दिन जब लड़की दुकान में सामान लेने के लिए गई थी तो वहाँ से उसका अपहरण कर लिया। अपहरण के बाद इन आरोपों से खुद को बचाने के लिए आरोपित ने पोस्ट ऑफिस के जरिए शाही थाने को एक पत्र भेजा। इसमें लड़की के नाम से लिखा कि उसने (लड़की) अपना धर्म परिवर्तन कर इस्लाम अपना लिया है और आरोपित अकलीम के साथ निकाह कर लिया है। हालाँकि, जब इसकी जानकारी को खंगाला गया तो निकाह की बात झूठी निकली।

मामला बढ़ने के बाद आरोपित की धमकियों से डरे लड़की के परिजनों ने बुधवार (11 अगस्त 2021) को जिले के एसएसपी से मिलकर सहायता की गुहार लगाई। एसएसपी ने पीड़ित परिवार को जल्द से जल्द न्याय का आश्वासन दिया है। साथ ही कहा है कि जल्द ही आरोपित को भी पकड़ लिया जाएगा। आरोपित की लास्ट लोकेशन को ट्रेस कर लिया गया है, जो कि सीबीगंज में थी। हालाँकि, अभी तक सभी आरोपित पुलिस की पहुँच से बाहर हैं। शाही थाने के प्रभारी सौरभ सिंह के मुताबिक, युवती कहाँ और किन हालात में है अभी तक पता नहीं चल सका है।

रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले में इलाके के सभासद खलीबुल हसन खान पर आरोप है कि उसी ने वारदात को अंजाम देने में अकलीम कुरैशी की मदद की थी। दोनों के ही खिलाफ नामजद रिपोर्ट लिखी गई है और पुलिस उनके करीबियों से पूछताछ कर रही है। बीते 5 अगस्त 2021 से अकलीम औऱ सभासद खलीबुल हसन खान ने अपना मोबाइल फोन बंद कर रखा है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -