Thursday, October 21, 2021
Homeदेश-समाजबंगाल हिंसा मामले में CBI की बड़ी कार्रवाई: 11 लोगों को किया गिरफ्तार, NHRC...

बंगाल हिंसा मामले में CBI की बड़ी कार्रवाई: 11 लोगों को किया गिरफ्तार, NHRC ने कहा था-‘राज्य में कानून का राज नहीं’

हिंसा के मामले में सीबीआई ने नंदीग्राम और सीतलकुची में दो मामले दर्ज किए थे। इसके अलावा केंद्रीय एजेंसी ने अलग-अलग थानों में करीब 30 से अधिक केस दर्ज की है।

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद बड़े पैमाने पर टीएमसी के गुंडों द्वारा की गई हिंसा के मामले की जाँच कर रही केंद्रीय जाँच एजेंसी (सीबीआई) ने शनिवार (9 अक्टूबर 2021) को बड़ी कार्रवाई करते हुए 11 लोगों को गिरफ्तार किया। सभी आरोपितों को पश्चिम बंगाल के पश्चिमी मेदिनीपुर जिले से गिरफ्तार किया गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक, हिंसा के मामले में सीबीआई ने नंदीग्राम और सीतलकुची में दो मामले दर्ज किए थे। इसके अलावा केंद्रीय एजेंसी ने अलग-अलग थानों में करीब 30 से अधिक केस दर्ज की है। वहीं सीबीआई की कार्रवाई पर पूर्व अपेक्षित तरीके से राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी केंद्रीय एजेंसी पर ही आरो लगा रही हैं। उनका कहना है कि चुनाव बाद हिंसा के मामले में सीबीआई भाजपा के साथ मिलकर काम कर रही है। उन्हें लगता है कि सीबीआई केवल टीएमसी के कार्यकर्ताओं को ही निशाना बना रही है।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में हुई हिंसा के मामले में कोलकाता हाई कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए इस मामले की सीबीआई जाँच के आदेश दिए थे। साथ ही कोर्ट ने राज्य में चुनाव बाद हुई हिंसा के पीड़ितों को मुआवजा देने का आदेश भी दिया था। इतना नहीं कम गंभीर अपराधों की जाँच के लिए कोलकाता हाई कोर्ट में स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम गठित करने का आदेश दिया था, जिसमें राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी शामिल रहेंगे।

इस मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने सात सदस्यीय कमेटी गठित की थी। कमेटी ने जुलाई में 50 पेज की रिपोर्ट कोलकाता हाई कोर्ट को सौंपी थी। अपनी रिपोर्ट में राज्य सरकार की कड़ी आलोचना करते हुए आयोग ने कहा था कि राज्य में ‘कानून का शासन’ नहीं बल्कि ‘शासक का कानून’ है। इसके साथ ही राज्य प्रशासन ने जनता के बीच अपना विश्वास खो दिया है। गौरतलब है कि इसी साल 2 मई को पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों के नतीजे आने के बाद वहाँ बड़े पैमाने पर हिंसा की घटनाएँ हुई थीं। इसके बाद हिंसा प्रभावित क्षेत्रों के हालात जानने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय की 4 सदस्यीय टीम पश्चिम बंगाल गई थी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बांग्लादेश के दुर्गा पूजा मंडप में कुरान रखने वाला निकला इकबाल हुसैन, इसके बाद ही शुरू हुआ हिन्दुओं पर हमलों का सिलसिला

बांग्लादेश के दुर्गा पूजा के मंडप में कुरान रखने वाला कोई हिन्दू नहीं, बल्कि इक़बाल हुसैन था। इसके बाद हिन्दुओं पर हमले शुरू हुए।

डॉक्टर जुनैद ने किया कई हिन्दू महिलाओं का यौन शोषण, इस्लामी धर्मांतरण: अश्लील वीडियो बना करता था ब्लैकमेल, एक नाबालिग का भी रेप

फतेहपुर का डॉक्टर जुनैद कई महिलाओं का यौन शोषण और इस्लामी धर्मांतरण करा चुका है। अश्लील वीडियो बना कर करता था ब्लैकमेल। अब जेल भेजा गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,383FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe