Saturday, July 20, 2024
Homeदेश-समाजविजय चौधरी को अतीक अहमद ने बनाया उस्मान, UP पुलिस ने मार गिराया: उमेश...

विजय चौधरी को अतीक अहमद ने बनाया उस्मान, UP पुलिस ने मार गिराया: उमेश पाल पर पहली गोली चलाने वाले के ‘धर्म परिवर्तन’ की भी होगी जाँच

अतीक अहमद के बेटों ने विजय चौधरी की वफादारी देखते हुए उसे उस्मान नाम दिया था। उस्मान बेहद शातिर अपराधी था। जब वह अहमद गैंग आईएएस 227 में शामिल हुआ था तभी अतीक अहमद ने ही उसका धर्म परिवर्तन कराया था।

उमेश पाल हत्याकांड में पहली गोली चलाने वाले उस्मान के एनकाउंटर के बाद अब धर्मांतरण का एंगल सामने आया है। इस संबंध में लॉ एंड ऑर्डर एडीजी प्रशांत कुमार ने संज्ञान लिया है। उन्होंने कहा है कि इस बात की जाँच हो रही है कि शूटर विजय चौधरी, उस्मान कैसे बना।

अभी तक सामने आई जानकारी के अनुसार, अतीक अहमद के बेटों ने विजय चौधरी की वफादारी देखते हुए उसे उस्मान नाम दिया था। उस्मान बेहद शातिर अपराधी था। जब वह अहमद गैंग आईएएस 227 में शामिल हुआ था तभी उसे उस्मान नाम दिया गया था। कथिततौर पर चौधरी का उस्मान नाम रखने के वक्त अतीक अहमद ने ही उसका धर्म परिवर्तन भी कराया था। अब पुलिस इस मामले में जाँच कर रही है।

लॉ एंड ऑर्डर एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा कि शूटर के विजय से उस्मान बनने का मामला हमारे संज्ञान में है। कोई सामान्य व्यक्ति खुद का नाम उस्मान क्यों रखेगा?

उस्मान का एनकाउंटर

बता दें कि प्रयागराज की कौंधियारा पुलिस ने आज सुबह 4 बजे उस्मान को लालापुर में एनकाउंटर में मारा। वो अतीक गैंग का वो शार्प शूटर था जिसने उमेश पाल पर सामने से पहली गोली चलाई थी। पूरी वारदात एक सीसीटीवी में कैद हुई थी। उसे पकड़ने के लिए उसपर 50 हजार रुपए का इनाम रखा गया था।

जानकारी के मुताबिक, प्रयागराज के लालापुर में जब एसओजी की टीम ने उस्मान को पकड़ने के लिए घेराबंदी की, तो शार्प शूटर ने पहले टीम पर गोली चलानी शुरू की, जिसके बाद पुलिस ने भी उसपर जवाबी फायरिंग की और उस्मान को ढेर किया।

इस मुठभेड़ को लेकर शलभ मणि त्रिपाठी ने लिखा, “कहा था ना कि मिट्टी में मिला देंगे !! उमेश पाल और संदीप निषाद पर पहली गोली चलाने वाला खूंखार हत्यारा उस्मान भी आज पुलिस मुठभेड़ में ढेर।” 

उस्मान से पहले पुलिस ने 27 फरवरी को एक और बदमाश अरबाज का एनकाउंटर हुआ था। अरबाज़ पर आरोप था कि वो हमले के दौरान उस क्रेटा गाड़ी को चला रहा था, जिससे शूटर आए थे। 1 दिन पहले यह क्रेटा गाड़ी अतीक अहमद के घर से बरामद हुई थी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -