Thursday, July 25, 2024
Homeराजनीतितड़पते मरीज ने इलाज के लिए केजरीवाल से माँगी मदद तो CM साब ने...

तड़पते मरीज ने इलाज के लिए केजरीवाल से माँगी मदद तो CM साब ने कहा- ‘सरकारी अस्पताल में क्यों नहीं गए?’

"दिल्ली की हिंसा में केजरीवाल सरकार का रवैया "सरोकार हीन सरकार" जैसा देखने को मिला है।"

दिल्ली में बीते दिनों हुए हिंदू विरोधी दंगे के बाद भले ही अब स्थिति शांत है, मगर अभी भी माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है। दंगों में मरने वालों की संख्या बढ़कर 46 पहुँच चुकी है। इनमें 38 मौतें गुरुतेग बहादुर अस्पताल और 3 लोक नायक अस्पताल में हुई हैं। इसके साथ ही हर दिन किसी न किसी नाले से शव बरामद किया जा रहा है। सोमवार (मार्च 2, 2020) को भी भागीरथी विहार के नाले से एक शव बरामद हुआ। बताया जा रहा है कि अलग-अलग इलाकों के नालों से अब तक 8 लाशें बरामद की जा चुकी है।

इस बीच दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का दंगे में घायल मरीजों के प्रति उदासीन रवैया सामने आया है। एडवोकेट पूनम कौशिक ने सोमवार को प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में जन स्वास्थ्य अभियान की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया कि दंगे में गोली का शिकार हुए एक घायल ने जब सीएम से मदद की गुहार लगाई तो वो उसे नसीहत देकर आगे निकल गए।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पूनम कौशिक ने बताया कि 25 फरवरी की रात वो मुख्यमंत्री आवास पर ही मौजूद थीं। उस समय उनके आवास पर कविता कृष्णन, वृंदा करात और फरहाद भी थीं। वो बताती हैं कि उस समय रात के तकरीबन 8 बज रहे होंगे, सभी लोग केजरीवाल के साथ थे, तभी अल हिंद अस्पताल से उनके पास एक घायल मरीज के इलाज में मदद के लिए फोन आया। मरीज को दंगे के दौरान गोली लगी थी। 

अस्पताल ने जब उस तड़पते मरीज की मदद के लिए मुख्यमंत्री से डॉक्टरों की टीम भेजने के लिए कहा तो उन्होंने मदद करने की बजाए नसीहत दे डाली कि सरकारी अस्पताल क्यों नहीं गए? उन्होंने साधारण लहजे में कहा, “उन्हें सरकारी अस्पताल जाना चाहिए।” पूनम ने बताया कि उन्हें मुख्यमंत्री के इस रवैये से काफी हैरानी हुई, क्योंकि उन्हें राजधानी के सीएम से इस तरह के जवाब की उम्मीद नहीं थी।

पूनम को लगा था कि मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सचिव सहित तमाम विभागों को वहाँ भेज सकते हैं, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। वो आगे कहती हैं कि जब उनसे दोबारा इसके लिए बोला गया तो उन्होंने कहा, “अच्छा ठीक है हम भी बहुत चिंतित हैं, चलो देखते हैं।” ये कहकर वो वापस चले गए। पूनम ने तो यहाँ तक कह दिया कि दिल्ली की हिंसा में केजरीवाल सरकार का रवैया “सरोकार हीन सरकार” जैसा देखने को मिला है।

पूनम ने बताया कि जब सीएम ने सुनवाई नहीं की तो वकीलों ने मिलकर हाईकोर्ट के न्यायाधीश जस्टिस एस मुरलीधर और तलवंत सिंह से मदद माँगी, जिसके बाद उन्होंने आधी रात में ही पुलिस को रास्ता साफ कर बड़े अस्पताल में इलाज कराने के आदेश दिए। पूनम का कहना था कि उन्होंने कभी नहीं सोचा था कि उन्हें अरविंद केजरीवाल सरकार का ये रुख देखना पड़ेगा, जो काफी निंदनीय है।

…अब निकला 8वाँ शव: दिल्ली हिंदू विरोधी दंगों में नालों से लाशें मिलने का सिलसिला जारी

‘संघी केजरीवाल की खाकी चड्डी दिख गई’: अंकित शर्मा के परिवार को मुआवजा मिलने से लिबरल गिरोह खफा

‘बता…तुझ पर पेट्रोल डालें या गाड़ियों पर’ जब दंगाइयों ने रखी हिन्दू दुकानदार की जान बख्शने की शर्त: ग्राउंड रिपोर्ट

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsदिल्ली हिंदू विरोधी दंगा केजरीवाल, दिल्ली हिंदू विरोधी दंगा, नालों से मिले शव, दिल्ली नाला शव, दिल्ली मदरसा गुलेल, मदरसा गुलेल विडियो, शिव विहार, मुस्तफाबाद, अमर विहार, दिल्ली दंगे चश्मदीद, दिल्ली हिंसा चश्मदीद, दिल्ली हिंसा महिला, दिल्ली दंगों में कितने मरे, दिल्ली में कितने हिंदू मरे, मोहम्मद शाहरुख, जाफराबाद शाहरुख, शाहरुख फरार, ताहिर हुसैन आप, ताहिर हुसैन एफआईआर, ताहिर हुसैन अमानतुल्लाह, चांदबाग शिव मंदिर पर हमला, दिल्ली दंगा मंदिरों पर हमला, दिल्ली मंदिरों पर हमले, मंदिरों पर हमले, चांदबाग पुलिया, अरोड़ा फर्नीचर, ताहिर हुसैन के घर का तहखाना, अंकित शर्मा केजरीवाल, अंकित शर्मा ताहिर हुसैन, अंकित शर्मा का परिवार, दिल्ली शाहदरा, शाहदरा दिलबर सिंह, उत्तराखंड दिलवर सिंह, दिल्ली हिंसा में दिलवर सिंह की हत्या, रवीश कुमार मोहम्मद शाहरुख, रवीश कुमार अनुराग मिश्रा, रतनलाल, साइलेंट मार्च, यूथ अगेंस्ट जिहादी हिंसा, दिल्ली हिंसा एनडीटीवी, एनडीटीवी श्रीनिवासन जैन, एनडीटीवी रवीश कुमार, रवीश कुमार दिल्ली हिंसा, दिल्ली हिंसा में कितने मरे, दिल्ली दंगों में मरे, दिल्ली कितने हिंदू मरे, दिल्ली दंगों में आप की भूमिका, आप पार्षद ताहिर हुसैन, आप नेता ताहिर हुसैन, ताहिर हुसैन वीडियो, कपिल मिश्रा ताहिर हुसैन, आईबी कॉन्स्टेबल की हत्या, अंकित शर्मा की हत्या, चांदबाग अंकित शर्मा की हत्या, दिल्ली हिंसा विवेक, विवेक ड्रिल मशीन से छेद, विवेक जीटीबी अस्पताल, विवेक एक्सरे, दिल्ली हिंदू युवक की हत्या, दिल्ली विनोद की हत्या, दिल्ली ब्रहम्पुरी विनोद की हत्या, दिल्ली हिंसा अमित शाह, दिल्ली हिंसा केजरीवाल, दिल्ली पुलिस, दिल्ली पुलिस रतनलाल, हेड कांस्टेबल रतनलाल, रतनलाल का परिवार, छत्तीसिंह पुरा नरसंहार, दिल्ली हिंसा, नॉर्थ ईस्ट दिल्ली हिंसा, करावल नगर, जाफराबाद, मौजपुर, गोकलपुरी, शाहरुख, कांस्टेबल रतनलाल की मौत, दिल्ली में पथराव, दिल्ली में आगजनी, दिल्ली में फायरिंग, भजनपुरा, दिल्ली सीएए हिंसा
ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

मुजफ्फरनगर में नेम-प्लेट लगाने वाले आदेश के समर्थन में काँवड़िए, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बोले – ‘हमारा तो धर्म भ्रष्ट हो गया...

एक कावँड़िए ने कहा कि अगर नेम-प्लेट होता तो कम से कम ये तो साफ हो जाता कि जो भोजन वो कर रहे हैं, वो शाका हारी है या माँसाहारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -