Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजदलित लड़की किडनैप, नमाज पढ़ता वीडियो... और धमकी कि ₹40-50 हजार लेके भूल जाओ:...

दलित लड़की किडनैप, नमाज पढ़ता वीडियो… और धमकी कि ₹40-50 हजार लेके भूल जाओ: UP पुलिस ने किया केस दर्ज

दलित परिवार को एक मुस्लिम लड़के की तरफ से धमकी भी आई है कि वो अब अपनी बेटी को भूल जाएँ। धमकी के साथ लालच भी दिया गया है कि अगर 40-50 हजार रुपए चाहिए तो वो दलित लड़की के परिवार को मिल जाएगा।

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में एक सिलाई कंपनी में मुस्लिम समुदाय की महिलाओं के साथ एक दलित लड़की काम करती थी। अब वो गायब है। घटना वाले दिन के बाद परिवार वालों को एक वीडियो मिलता है, जिसमें गायब हुई दलित लड़की नमाज पढ़ रही होती है।

दलित लड़की का नमाज पढ़ने वाला वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी हो गया है। इस वीडियो के साथ दलित परिवार को एक मुस्लिम लड़के की तरफ से धमकी भी आई है कि वो अब अपनी बेटी को भूल जाएँ। धमकी के साथ लालच भी दिया गया है कि अगर 40-50 हजार रुपए चाहिए तो वो दलित लड़की के परिवार को मिल जाएगा।

लाइव हिंदुस्तान की रिपोर्ट के मुताबिक, मामला ग्रेटर नोएडा के जेवर कस्बे का है। लापता हुई दलित लड़की ने अपने साथ काम करने वाली मुस्लिम महिलाओं के बारे में अपने परिवार को बताया था। लड़की के अनुसार वो महिलाएँ उससे हिंदू धर्म छोड़ कर मुस्लिम बनने का दबाव डालती थी।

जबरन धर्म परिवर्तन को लेकर पीड़ित लड़की के परिवार वाले मुस्लिम महिलाओं के घर जाकर शिकायत भी कर चुके थे। इसी बात को लेकर उन महिलाओं ने धोखे से दलित लड़की को अगवा कर लिया, जिसकी रिपोर्ट दलित परिवार ने उत्तर प्रदेश पुलिस में लिखवाई है।

लड़की के परिवार के लोगों ने तीन महिलाओं समेत चार लोगों के खिलाफ अपहरण, जबरन धर्म परिवर्तन का आरोप लगाते हुए जेवर कोतवाली में नामजद रिपोर्ट लिखवाई है। शिकायत के मुताबिक, तीनों आरोपित महिलाओं ने पहले दलित युवती को अपने जाल में फँसाया और बाद में उस पर धर्म परिवर्तन कर इस्लाम कबूल करने का दवाब बनाया।

आरोपित महिलाओं ने लड़की की शादी के लिए घर में रखे 70 हजार रुपए के गहने को भी धोखे से मँगा लिया था और जेवर कस्बे का एक युवक ही किडनैपिंग के बाद लड़की को लेकर फरार हो गया। यह वही युवक है, जिसने नमाज पढ़ते लड़की का वीडियो उसके पिता को भेजकर उन्हें धमकी दी है।

जेवर कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक उमेश बहादुर सिंह ने बताया है कि लड़की के पिता की शिकायत पर गुमशुदगी का केस दर्ज किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe